बेतिया : होम आइसोलेशन में रहने वाले व्यक्तियों की नियमित रूप से करें जाँच : डीएम - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 1 सितंबर 2020

बेतिया : होम आइसोलेशन में रहने वाले व्यक्तियों की नियमित रूप से करें जाँच : डीएम

टेस्टिंग की गति को तीव्र करने का निदेश।कंटेनमेंट जोन में स्वास्थ्य विभाग के निदेशों का अक्षरशः पालन कराने का निर्देश...
dm-order-proper-testing
बेतिया,01 सितम्बर। कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम के लिए किये जा रहे कार्यों की समीक्षा जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार द्वारा की गई। इस समीक्षात्मक बैठक में सहायक समाहर्त्ता, श्री कुमार अनुराग, सिविल सर्जन, श्री अरुण कुमार सिन्हा सहित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी सम्मिलित हुए। जिलाधिकारी ने कहा कि होम आइसोलेशन में रहने वाले 50 वर्ष से ऊपर के कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों पर विशेष ध्यान रखते हुए नियमित रूप से डॉक्टरों की टीम द्वारा स्वास्थ्य जाँच कराई जाय। साथ ही काॅम्ब्रोबाइटिस अवस्था वाली गर्भवती महिला, 05 वर्ष से कम उम्र के बच्चे, 65 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग एवं पूर्व से किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित व्यक्ति जो होम आइसोलेशन में रह रहे हैं इन सभी का नियमित रूप से स्वास्थ्य परीक्षण सुनिश्चित किया जाय। होम आइसोलेशन में रहने वाले व्यक्तियों को सरकार द्वारा दी जाने वाली सभी सुविधाएं मुहैया कराई जाय। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा होम आइसोलेशन में रहने वाले कोरोना पोजेटिव व्यक्तियों को आयुष विभाग द्वारा तैयार किये गए विशेष प्रकार के काढ़ा का सेवन कराना है। काढ़ा मुहैया कराने से संबंधित आवश्यक कार्रवाई अविलंब सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट जोन अंतर्गत कोविड -19 की रोकथाम के लिए किये जा रहे सभी सुरक्षात्मक एवं निरोधात्मक कार्य बिना लापरवाही एवं कौताही के निरंतर चलते रहना चाहिए। साथ ही कंटेनमेंट जोन में स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों का अक्षरशः पालन हर हाल में सुनिश्चित कराया जाय। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण की रोकथाम की दिशा में जिला प्रशासन हरसंभव प्रयास कर रहा है ताकि पीड़ित व्यक्तियों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े।  उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट जोन में स्वास्थ्य सुविधाओं, बैरिकेडिंग, माईकिंग, घर-घर स्वास्थ्य जांच, सैनेटाइजेशन आदि से संबंधित सुरक्षात्मक एवं निरोधात्मक कार्य हर हाल में होना चाहिए। हाउस-टू-हाउस स्वास्थ्य जांच में काॅम्ब्रोबाइटिस अवस्था वाली गर्भवती महिला, 05 वर्ष से कम उम्र के बच्चे, 65 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग एवं पूर्व से किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित व्यक्तियों का स्वास्थ्य परीक्षण तथा उनकी देखभाल की समुचित व्यवस्था की जाय।



जिलाधिकारी ने कहा कि आइसोलेशन केंद्रों, कोविड-19 हेल्थ अस्पतालों, इसके आसपास के क्षेत्रों तथा अन्य सार्वजनिक स्थलों पर कोविड-19 से बचाव से संबंधित जानकारी एवं जिला कमांड एंड कंट्रोल रूम का नंबर फ्लेक्स के माध्यम से प्रचारित-प्रसारित कराना सुनिश्चित किया जाय। उन्होंने कहा कि कोविड-19 से संबंधित विभिन्न प्रकार के प्रतिवेदन अपडेट रखी जाय तथा संबंधित पोर्टल पर अपडेशन का कार्य नियमित रूप से किया जाय।  सिविल सर्जन को कंटेनमेंट जोन अंतर्गत सेम्पोमेटिक व्यक्तियों तथा इच्छानुसार जांच कराने वाले व्यक्तियों का ज्यादा से ज्यादा तीव्र गति से टेस्टिंग कराने का निदेश दिया गया है। साथ ही कंटेनमेंट जोन में साफ-सफाई एवं सैनेटाइजेशन की समुचित व्यवस्था कराने का भी निर्देश दिया गया है।  सिविल सर्जन द्वारा बताया गया कि होम आइसोलेशन में रहने वाले व्यक्तियों का नियमित रूप से डॉक्टरों की टीम द्वारा जाँच करायी जा रही है। इसके साथ ही समाहरणालय परिसर में संचालित जिला कंट्रोल रूम सह टेलीमेडिसिन सेंटर से भी नियमित रूप से स्वास्थ्य से संबंधित जानकारी प्राप्त की जाती है। आवश्यकतानुसार डॉक्टरों की टीम द्वारा चिकित्सीय परामर्श भी दिया जाता है। इसके साथ ही कंट्रोल रूम में प्रतिनियुक्त आयुष डॉक्टरों द्वारा भी होम आइसोलेशन में रहने वाले व्यक्तियों को चिकित्सीय परामर्श देने का कार्य नियमित तौर पर किया जा रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं: