पूर्व सांसद बीरेन सिंह एंगती के घर में घुसकर हमला,हमलावर गिरफ्तार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 23 सितंबर 2020

पूर्व सांसद बीरेन सिंह एंगती के घर में घुसकर हमला,हमलावर गिरफ्तार

ex-mp-birendra-singh-attacked
नई दिल्ली (अशोक कुमार निर्भय)। पुलिस ने एक व्यक्ति को पूर्व संसद सदस्य और आसाम के कार्बी आंगलोंग जिला कांग्रेस कमेटी (केएडीसीसी) के पूर्व अध्यक्ष  बीरेन सिंह एंगती के घर में जबरन घुसने के आरोप में गिरफ्तार किया है।  प्राप्त जानकारी के अनुसार आसाम के पहाड़िन कांगनेक तोकबी गाँव निवासी देउरी एंगती (35) ने घर में घुसकर सांसद के घर के बाहर खड़ी टोयोटा इनोवा कार के खिड़की के शीशे को तोड़ दिया, इसके अलावा घर में जबरन घुसकर डाइनिंग टेबल और कुर्सियों सहित फर्नीचर को नुकसान पहुंचाया। हमलावर होता देख सांसद एक घरेलू सहायक इस बदमाश को दबोच कर पकड़ा जिसके बाद इसे पुलिस के हवाले कर दिया गया। पुलिस सूत्रों के अनुसार यह घटना मंगलवार 22 सितंबर की सुबह 5 :30 बजे की बतायी जा रही है। 



इस पुरे घटनाक्रम की जानकारी देते हुए थाना प्रभारी एकॉन टेरोन ने कहा कि हमलावर बदमाश देउरी एंगती (35) को गिरफ्तार कर लिया गया है और उसके खिलाफ कई धाराओं में मामला दर्ज किया गया है।  थाना प्रभारी एकॉन टेरोन ने कहा कि इस बदमाश देउरी ने पूर्व सांसद बीरेन सिंह एंगती के घर में जबरन घुस गए और बिना किसी कारण के संपत्ति को नुकसान पहुँचाया। प्रत्यक्षदर्शी पूर्व सांसद के ड्राइवर मुकुल बोरा के बताया कि बदमाश सुबह किसी के पीछे से घर में घुसे थे, जब कोई जाग नहीं रहा था।  बोरा के अनुसार, बदमाश ने शुरुआत में खिड़की को क्षतिग्रस्त कर दिया था।  कार ले और बाद में कमरे और पुरानी फर्नीचर कुर्सियों में प्रवेश किया, बोरा ने उस समय पुलिस व सांसद दोनों सूचित किया और नौकर की मदद से बदमाश को काबू किया। इसके बाद उसे पुलिस को सौंप दिया।  घटना के समय कोई भी मौजूद नहीं था अन्यथा वह हमला जरूर करता और शारीरिक नुकसान भी पहुँचता। अब पुलिस आगे मामले की जाँच कर हमले की पीछे इसकी क्या मंशा थी। 

कोई टिप्पणी नहीं: