आलिया-रणबीर को दर्शकों ने स्टार बनाया : विक्रम भट्ट - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 24 सितंबर 2020

आलिया-रणबीर को दर्शकों ने स्टार बनाया : विक्रम भट्ट

fans-make-alia-ranbir-star-vikram-bhatt
मुंबई, 23 सितंबर, बॉलीवुड फिल्मकार विक्रम भट्ट ने आलिया भट्ट और रणबीर कपूर का नाम नेपोटिज्म को लेकर घसीटे जाने पर उनका बचाव करते हुये कहा है कि दर्शकों ने उन्हें स्टार बनाया है। सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद से बॉलीवुड में नेपोटिज्म को लेकर बहस छिड़ी हुयी है। सोशल मीडिया पर अक्सर आलिया और रणबीर को नेपोटिज्म मामले में घसीटा जाता रहा है। विक्रम भट्ट, आलिया भट्ट और रणबीर कपूर के बचाव में उतरे हैं। विक्रम भट्ट का कहना है ऑडियंस ने दोनों को स्टार बनाया है, उनके पिता ने नहीं। 



विक्रम भट्ट ने कहा, “यदि ऑडियंस आलिया भट्ट और रणबीर कपूर के काम की सराहना नहीं करती तो वे दोनों आज स्टार्स नहीं होते। उनके पिता ने नहीं दर्शकों ने दोनों को स्टार बनाया है।” विक्रम भट्ट ने कहा, “कई एक्टर्स और डायरेक्टर्स इंडस्ट्री में ऐसे हैं जिनके फिल्मी बैकग्राउंड को देखते हुए उन्हें काम मिला है। लेकिन ऑडियंस ने उनका काम पसंद नहीं किया और उन्हें रिजेक्ट कर दिया। बाकी के बेकार के मुद्दों के साथ नेपोटिज्म पर भी बेकार की चर्चा हो रही है। फिल्म ‘पल पल दिल के पास’ में सनी देओल के बेटे करण देओल को लॉन्च किया गया। यदि सनी देओल ने अपने बेटे को स्टार बनाया होता तो उनकी पहली ही फिल्म फ्लॉप न होती। ”

कोई टिप्पणी नहीं: