बिहार जदयू ने फिर उठाया विशेष राज्य के दर्जे की मांग - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 15 सितंबर 2020

बिहार जदयू ने फिर उठाया विशेष राज्य के दर्जे की मांग

jdu-demand-spacial-status-for-bihar
पटना: इंजीनियर्स डे के मौके पर जदयू कार्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में बिहार सरकार के मंत्री व जदयू नेता अशोक चौधरी व संजय झा ने आकड़ों के जरिये 15 साल बनाम 15 साल में हुए कामों का अंतर बताते हुए संजय झा ने कहा कि 15 साल में सरकार ने बिहार को आगे बढ़ाया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खुद इंजीनियर हैं, काम के बारे में जानते हैं। संजय झा ने कहा कि 1997 से जल संसाधन विभाग में बहाली नहीं हुई थी, 2020 में बहाली हुई। 2005 में बिहार में एनएचआइ 7583 किलोमीटर था, अब 13 हजार किलोमीयर हो गया है। ग्रामीण सड़क 2005 तक 835 किलोमीयर थी, जो अब 96500 किलोमीटर हो गई है। हर जिले में इंजीनियरिंग कॉलेज खुला, एनआईटी खुला। आज ही केंद्र सरकार ने एम्स पास किया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की दरभंगा में एम्स बनाने की मांग थी, जो पूरी हुई। अशोक चौधरी ने तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग पढ़ते नहीं हैं, वे राज्य का नेतृत्व करना चाहते हैं। उनको ब्रिज और अप्रोच का अंतर नहीं पता है, वो चरवाहा विद्यालय की संस्कृति की बात करते हैं। विशेष राज्य का दर्जा जदयू लगातार उठाती रही है, हम चाहते हैं बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिले। चौधरी ने कहा कि केंद्र सरकार ने कई पैकेज दिए हैं, जिन पर काम हो रहा है। केंद्र से उम्मीद के मुताबिक मदद नहीं मिल पायी, यूपीए वन और टू में उपेक्षा की गई।

कोई टिप्पणी नहीं: