बिहार : महागठबंधन में अभी मौन बंधन, मौन टूटते ही टूट जाएंगे बंधन : मंगल पांडेय - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 23 सितंबर 2020

बिहार : महागठबंधन में अभी मौन बंधन, मौन टूटते ही टूट जाएंगे बंधन : मंगल पांडेय

mngal-pandey-attack-mahagathbandhn
पटना : महागठबंधन में सीट शेयरिंग को लेकर मचे घमासान पर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि महागठबंधन में अभी मौन बंधन चल रहा है क्योंकि, इनको अंदाज़ा हो चुका है कि ये बंधन अब मौन से ही चलेगा, मौन के टूटते ही गठबंधन के सभी बंधन एक-एक करके टूट जायेंगे। जनता तो अब इनके बहकाबे से सोशल डिस्टेंसिंग कर चुकी है, इसलिए अब ये लोग एक दूसरे को ठगने में लगे हुए है। बता दें कि इन दिनों महागठबंधन में राजद किसी का नहीं सुन रही है। इसलिए महागठबंधन के अन्य घटक दल नाराज हैं। 



जानकारी के मुताबिक कांग्रेस, रालोसपा व सहनी सभी यह चाहते हैं कि सभी दल के प्रमुख नेता एक साथ बैठकर सीट के मसले को सुलझा लें। लेकिन, राजद अलग तरीके से काम कर रही है। राजद का कहना है कि महागठबंधन के सीएम फेस तेजस्वी होंगे तथा अगर राजद मुकेश सहनी को अपनी कोटे से सीट देती है तो राजद कम से कम 150 से अधिक सीटों पर चुनाव लड़ेगी। वहीं राजद को छोड़ अन्य महागठबंधन के घटक दलों का कहना है कि जो निर्णय काफी पहले हो जाने चाहिए थे उसमें काफी समय लिया जा रहा है। इस लिहाज से चीजें बर्दाश्त के बाहर है। अगर राजद को महागठबंधन के दलों के साथ चलना है तो जल्द निर्णय ले और उचित भागीदारी सुनिश्चित करे।

कोई टिप्पणी नहीं: