पलामू में पुलिस अधिकारी रिश्वत लेते गिरफ्तार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 25 सितंबर 2020

पलामू में पुलिस अधिकारी रिश्वत लेते गिरफ्तार

palamu-police-arrest-with-bribe
मेदिनीनगर (झारखंड), 24 सितम्बर, भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की विशेष टीम ने सहायक पुलिस उपनिरीक्षक को छह हजार रुपये का कथित रिश्वत लेते हुए बृहस्पतिवार को रंगे हाथों गिरफ्तार किया। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि एक आपराधिक मामले में दर्ज नाम को हटाने की एवज में हुसैनाबाद थाना में पदस्थापित सहायक उप निरीक्षक संतोष कुमार को छह हजार रुपये का रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि 11 जुलाई को उक्त थाना क्षेत्र में दो पक्षों के बीच मारपीट हुई थी और दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई थी, जिसके अनुसंधान की जिम्मेदारी सहायक उपनिरीक्षक संतोष कुमार को मिली थी। 



सूत्रों के बताया कि उक्त मारपीट लाल मोहन यादव और ननकू यादव के बीच हुई थी। सूत्रों के अनुसार, इस मामले के ही अद्यतन जानकारी लेने बाईस वर्षीय आशीष कुमार यादव थाने में जाकर अनुसंधानकर्ता पुलिस अफसर से मिला था। एएसआई ने कुमार को धमकी देते हुए कहा था कि मुकदमे में तुम्हारा भी नाम है और अगर नाम हटाना चाहते हो तो छह हजार रुपये का रिश्वत दो। उक्त मामले की जानकारी आशीष ने मेदिनीनगर स्थित ब्यूरो के दफ्तर में दी और आज योजनाबद्ध तरीके से पुलिस अधिकारी को कथित रूप से रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार कर लिया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: