रंगीला का साउंडट्रैक एक प्रयोग था: ए आर रहमान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 14 सितंबर 2020

रंगीला का साउंडट्रैक एक प्रयोग था: ए आर रहमान

rangila-was-testing-a-r-rahman
मुम्बई, 14 सितंबर, संगीत के जादूगर ए आर रहमान का कहना है कि इस महीने 25 साल पूरा करने जा रही उनकी पहली हिंदी फिल्म ‘रंगीला’ के लिए संगीत बनाना उन्हें ऐसा लगा था कि वह कुछ नया ढूंढ रहे हैं। रामगोपाल वर्मा अभिनीत रोमांटिक ड्रामा 1990 के दशक में ऐतिहासिक संगीत प्रधान हिट फिल्मो में एक समझा जाता है। उसमें उर्मिला मातोंडकर, आमिर खान और जैकी श्राफ ने अभिनय किया है। वर्ष 1995 में रहमान ने इसी फिल्म से बॉलीवड में कदम रखा था। उसमें ‘तन्हा तन्हा’ , ‘रंगीला रे’, ‘यारीरे यारीरे’ और ‘ क्या करें क्या ना करें’ जैसे सदाबहार गाने समेत सात गाने उन्होंने दिये थे। उनके गाने ‘रोजा’ (1992) और ‘बॉम्बे’ (1995) तमिल से डब किये गये थे। रहमान ने कहा, ‘‘ ‘रंगीला’ के लिए गाने बनाना कुछ नया ढूंढने जैसा था। साउंडट्रैक स्वाभाविक रूप से आ गया और हमें इस फिल्म के लिए कोई दबाव नहीं महसूस हुआ था क्योंकि मुझे रामू और संगीतकार महबूब के साथ मजा आ रहा था।’’ उन्होंने कहा कि उन्होंने इस फिल्म में काम करते हुए काफी कुछ सीखा।

कोई टिप्पणी नहीं: