"संजय घोष मीडिया अवार्ड-2020" की घोषणा” - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 25 सितंबर 2020

"संजय घोष मीडिया अवार्ड-2020" की घोषणा”

sanjay-ghosh-media-award
दिल्ली, दिल्ली स्थित एक गैर-लाभकारी संगठन चरखा डेवलपमेंट कम्युनिकेशन नेटवर्क ने "संजय घोष मीडिया अवार्ड -2020" में आवेदन की घोषणा की है। यह उन लेखकों के लिए एक मंच प्रदान करेगा जो ग्रामीण महिलाओं की छिपी प्रतिभा को उजागर करने का साहस रखते हैं। कुल पांच महीनों के लिए, पांच प्रति चयनित उम्मीदवारों को 50,000 रुपये के पुरस्कार दिए जाएंगे। पुरस्कार के लिए चयनित उम्मीदवारों को भारत के दूरदराज और दुर्गम क्षेत्रों में रहने वाली प्रतिभावान महिलाओं से जुड़े ऐसे उत्कृष्ट शोध और प्रभावी निबंध लिखने होंगे जो उनके आत्मसम्मान को उजागर करने में सहायक सिद्ध हों। उम्मीदवार इनमें से किसी एक विषय का चयन करके अपनी प्रस्तावित रूपरेखा प्रस्तुत कर सकता है: ग्रामीण भारत में किशोर लड़कियों की समस्याएँ, महिलाओं के विरुद्ध हिंसा, ग्रामीण भारत से शहरी भारत में पलायन और गाँव/तहसील/ब्लॉक तथा जिला स्तर पर सामाजिक विषयों से संबंधित निर्णय लेने में महिलाओं की भूमिका। उपर्युक्त विषयों के तहत प्रत्येक विषय के लिए एक पुरस्कार दिया जाएगा।



पात्रता मानदंड: क्षेत्रीय भाषा के प्रकाशकों, छोटे शहर के पत्रकारों और आलेख लिखने में रुचि रखने वाले उम्मीदवारों को आवेदन करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। महिला पत्रकारों का विशेष रूप से स्वागत है। चरखा के सभी प्रशिक्षित लेखक भी आवेदन करने के लिए पात्र हैं। लेकिन चरखा के पूर्व फ़ेलो और वर्तमान फेलोशिप का लाभ ले रहे लेखक अथवा किसी प्रकार की वित्तीय सहायता प्राप्त कर रहे हैं लेखक, इसके पात्र नहीं होंगे। उम्मीदवारों को सामाजिक मुद्दों के आधार पर अपनी प्रकाशित सामग्री आवेदन के साथ प्रेषित करनी होगी। आवेदन को हिंदी या अंग्रेजी भाषा में प्रस्तुत किया जा सकता है। उम्मीदवारों को पिछले तीन वर्षों के कार्य अनुभव, शैक्षिक योग्यता और पिछले पुरस्कार तथा फ़ेलोशिप के विवरण के साथ आवेदन के लिए एक संक्षिप्त परिचय देना आवश्यक है। उम्मीदवार को चयनित विषय को रेखांकित करते हुए लगभग 800 से 1000 शब्दों का एक प्रस्ताव प्रस्तुत करना अनिवार्य है। इसमें अध्ययन की विशिष्ट भौगोलिक स्थिति, कार्यप्रणाली, चयनित विषय की प्रासंगिकता के साथ-साथ देश में विकास की बड़ी बहस के लिए योगदान के बारे में विवरण शामिल होना चाहिए। उम्मीदवार को अपनी चयनित भाषा का उल्लेख करना अनिवार्य है। 

लेख अंग्रेजी, हिंदी या उर्दू में भेजे जा सकते हैं। आवेदन के साथ 2 प्रकाशित लेखों (पिछले दो महीने के दौरान प्रकाशित) की क्लिपिंग भेजना जरूरी है। एक प्रकाशित आलेख आवेदक की पसंद का भी सम्मिलित किया जा सकता है। संपर्क विवरण के साथ दो संदर्भ सहित आवेदन के अनुमोदन के लिए संपादक/संगठन प्रमुख का अनुशंसा पत्र भी भेजना होगा। स्वतंत्र पत्रकारों को अपने काम से परिचित किसी मीडिया संस्थान के संपादक या विशिष्ट मीडिया हस्तियों से सिफारिश के दो पत्र शामिल करने होंगे। केवल टाइप किए गए आवेदनों पर विचार किया जाएगा। हस्तलिखित या अधूरे आवेदनों पर विचार नहीं किया जाएगा। चरखा की संपादकीय टीम द्वारा अनुमोदन के बाद ही लेख प्रकाशित किए जाएंगे। आवेदन की अंतिम तिथि 15 अक्टूबर, 2020 है। अधिक जानकारी www.charkha.org पर उपलब्ध है। आवेदन mario@charkha.org पर ईमेल द्वारा भेजा जा सकता है। विषय में "संजय घोष मीडिया अवार्ड -2020 के लिए आवेदन" लिखा होना चाहिए। विस्तृत जानकारी के लिए संस्था के मुख्य कार्यकारी श्री मारियो नोरोन्हा के मोबाइल 07042293792 पर संपर्क किया जा सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं: