प्रणबदा से मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला : सोनिया गाँधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 1 सितंबर 2020

प्रणबदा से मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला : सोनिया गाँधी

sonia-gandhi-remember-pranab
नयी दिल्ली 31 अगस्त, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि श्री मुखर्जी ने देश तथा कांग्रेस को दिशा देने में अहम भूमिका निभाई और ख़ुद उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति से बहुत कुछ ज्ञान अर्जित किया है। श्रीमती गांधी ने श्री प्रणब मुखर्जी की पुत्री तथा कांग्रेस नेता शर्मिष्ठा मुखर्जी को भेजें एक शोक संदेश में आज कहा, “श्री मुखर्जी ने अपने पांच दशक से अधिक के अपने राजनीतिक जीवन में देश तथा कांग्रेस को दिशा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। उनके साथ काम करने का मेरा लंबा अनुभव है और मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा है। कोंग्रेस को आगे बढ़ाने में उन्होंने जो योगदान दिया है उसको पार्टी हमेशा याद रखेगी। उन्होंने कहा कि श्री मुखर्जी ने देश के विकास में निरंतर काम किया है और वह आजीवन राष्ट्रीय हितों में जुड़े रहे । देश को आगे बढ़ाने, कांग्रेस की प्रगति तथा केंद्र सरकार में रहकर राष्ट्रीय विकास में उनका अतुलनीय योगदान रहा है। वह ज्ञान, अनुभव और सूझबूझ भरे व्यक्तित्व के धनी थे और उनकी समझ तथै सलाह में हर संकट का समाधान था और उनकी गैरमौजूदगी मे यह हमेशा खलता रहेगा।”

कोई टिप्पणी नहीं: