विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 10 ऑक्टूबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 10 अक्तूबर 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 10 ऑक्टूबर

विन्ध्यांचल एक्सप्रेस शीघ्र चलाई जाये-विधायक भार्गव 

vidisha map

विदिशाः- विदिशा विधायक शशांक भार्गव के डी.आर.एम.पश्चिम मध्य रेल्वे भोपाल को पत्र लिखकर मांग की है कि कोरोना महामारी के चलते विगत कई माहों से यात्री टेªने बंद है, जिसके चलते विदिशा, बासौदा, गुलाबगंज, बीना, भोपाल साॅची, सलामतपुर आदि क्षेत्रों के नागरिकों को काफी अधिक असुविधा का सामना करना पड रहा है। रेल्वे विभाग द्वारा जो टेªने चलाई जा रही है उनमें आरक्षित टिकिट पर भी यात्रा की अनुमति है अन्य यात्रियों को नहीं है। 25-50 किलोमीटर से लेकर 100-200 किलोमीटर तक की यात्रा करने वाले यात्रियों को इस प्रकार की टेªने चलाये जाने का लाभ प्राप्त नहीं हो पा रहा है, साथ ही ऐसे यात्री जो प्रतिदिन अपनी नौकरी, व्यवसाय एवं अन्य कार्यों से भोपाल, इटारसी, बीना आदि आना जाना करते है को वर्तमान में निजी वाहनों से अथवा किराये के साधनों से या मोटर साईकिल से आना जाना करना पड रहा है। चूंकि वर्तमान में शासन द्वारा बसे भी चालू कर दी है, लेकिन उक्त बसे भी सीमित संख्या में एवं सीमित यात्रियों के मान से चल रही है, जिससे क्षेत्रवासियो को आवागमन की पर्याप्त सुविधा उपलब्ध नहीं हो पा रही है, ऐसे में विन्यांचल एक्सप्रेस चलाये जाने से नागरिकों को खासतौर से विदिशा, गुलाबगंज, बासौदा, साॅची, सलामतपुर के आने जाने वालों को विकल्प के रूप में टेªन की सुविधा उपलब्ध हो सकेगी। 

अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस पर आयोजन आज

अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस 11 अक्टूबर को जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन एसएटीआई के कैलाश सत्यार्थी सभागृह में किया गया है कि जानकारी देते हुए महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने बताया कि आयोजन दोपहर 12 बजे से शुरू होगा। जिसमें समस्त विभागों के अधिकारियों को भी आमंत्रित किया गया है। 

किशोरी मेलो का आयोजन 

अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं योजनांतर्गत विविध कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा जिसमें प्रमुख रूप से 11 अक्टूबर को किशोरी मेलो को आयोजन शामिल है। उक्त आयोजनों में वाद-विवाद प्रतियोगिता, निबंध तथा महिलाओं एवं बालिकाओं के कानूनी अधिकारों जैसे पीसीपीएनडीटी एक्ट, पॉस्को एक्ट, बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम पर उन्मुखीकरण की जानकारी दी जाएगी।  अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष्य में जिले की आंगनबाडी केन्द्रों पर नौ से 11 अक्टूबर तक बालिका शिक्षा एवं लैंगिग भेदभाव मिटाने हेतु शपथ ग्रहण, नारो का लेखन के अलावा जनजागरूकता रैलियों का आयोजन किया गया है। इस प्रकार के कार्यक्रम जिले की सभी परियोजनाओं में एक साथ सम्पादन हुए है। 

मैरिट में स्थान हासिल करने वाली बालिकाएं पुरस्कृत होगी

अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस 11 अक्टूबर को जिला मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में जिले की ऐसी बालिकाएं जिन्होंने जेईई एडवांस, हायर सेकेण्डरी एवं हाई स्कूल की बोर्ड परीक्षा में राज्य स्तरीय, जिला स्तरीय मैरिट सूची में स्थान हासिल किया है उन सभी बालिकाओें को महिला एवं बाल विकास विभाग के माध्यम से राशि एवं प्रशंस्ति पत्र, अतिथियों के द्वारा प्रदाय कर सम्मानित किया जाएगा।  महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने बताया कि कार्यक्रम में कुल 14 बालिकाएं सम्मानित होगी। कक्षा दसवीं की बोर्ड परीक्षा में प्रवीण्य सूची में शामिल कुमारी मुस्कान मालवीय, कुमारी देवांशी रघुवंशी, कुमारी खुशबू साहू, कुमारी पायल अहिरवार, कुमारी सस्ति साहू, कुमारी खुशी रघुवंशी, कुमारी प्राची तिवारी शामिल है। इसके अलावा बारहवीं की बोर्ड परीक्षा में मैरिट में स्थान हासिल करने वाली कुमारी निकिता भार्गव, कुमारी मिथलेश परिहार, कुमारी प्रियंका रायकवार, कुमारी इशिका चौहान, कुमारी वैष्णवी रघुवंशी, कुमारी नेहा और कुमारी अन्नू मालवीय शामिल है। 

हलाली के छरछरे में नहाने पर प्रतिबंध 

 हलाली डेम के वेस्टवेयर से बहने वाले पानी (छरछरा) के बहाव क्षेत्र में नहाने पर पूर्णतः प्रतिबंधित किया गया है मानव जीवन की सुरक्षा को ध्यानगत रखते हुए बेरिकेट्स लगाए गए है ताकि दुर्घटना संभावित क्षेत्रों में आगंतुक दर्शकगण पहुंच ना सकें। उक्त निर्णय, राजस्व, पुलिस, वन एवं ग्रामीण विकास विभाग के संयुक्त अधिकारी, कर्मचारियों के द्वारा भ्रमण उपरांत लिया गया है ताकि किसी भी प्रकार की जनहानि को रोका जा सकें। सुरक्षा के दृष्टिकोण से वेस्टवेयर के बहाव के दुर्घटना संभावित क्षेत्रों के पहले रस्सियों के बेरिकेट्स लगाए गए है सुरक्षा के लिए कर्मचारी वही चार गोताखोरो को भी विभिन्न स्थलो पर तैनात किया गया है। आंगतुकों को सूचनाएं संप्रेक्षण करने हेतु विभिन्न स्त्रोतो का उपयोग किया जा रहा है वही पार्किंग, सार्वजनिक स्थलों पर पम्पलेट चस्पा किए गए है। प्रति व्यक्ति दस रूपए निर्धारित किया गया है ताकि निर्धारित क्षेत्र तक पहुंचकर छरछरे के विहगंम दृश्य का अवलोकन कर सकें।  

आर्थिक मदद जारी

कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने सड़क दुर्घटना के एक प्रकरण में आर्थिक मदद के आदेश जारी कर दिए है। जारी आदेश में उल्लेख है कि बासौदा तहसील के ग्राम जरोदी (अम्बानगर) के रूप सिंह की मृत्यु सड़क दुर्घटना में हो जाने के कारण मृतक के पुत्र गुमान सिंह को 15 हजार रूपए की आर्थिक सहायता आरबीसी के प्रावधानो के तहत जारी की गई है।

किसानो से तेवड़ा रहित चने बीज की बुआई करने की अपील

किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चौकसे ने जिले के किसानो से अपील की है कि तेवड़ारहित चना बीज की बुआई करें। उन्होंने बताया कि जिले में रबी फसल बुआई की तैयारियां जारी है। अतः ऐसे कृषक जिनके द्वारा चने की फसल लेने की तैयारी की जा रही है उन्हें सलाह दी जाए कि चने की बीज बुआई करते समय चने के उच्च गुणवत्तायुक्त बीजो का उपयोग किया जाए और उसमें इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि कही तेवडा के बीज मिले तो नही है। गतवर्ष तेवडा मिला चना समर्थन मूल्य पर क्रय करने के दौरान किसानो को हुई दिक्कतो से बचने के लिए तेवडारहित चने बीज की बुआई ही करें की सलाह दी।  किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चौकसे ने बताया कि कलेक्टर द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में पूर्व से ही विभाग के माध्यम से तैयारियां सुनिश्चित की गई थी। प्रचार के विभिन्न माध्यमों से किसानबंधुओं को अवगत कराते हुए सहयोगी अपील की जा रही है साथ ही तेवडारहित चना बीज की बुआई करें पर आधारित पेम्पलेट में समुचित जानकारियों को समाहित कर पेम्पलेटों को वितरण ग्रामीण क्षेत्रों में किया जा रहा है। उन्होंने किसानो से आव्हान किया है कि तेवडा रहित चने बीज की बुआई करने से गतवर्ष जैसी समस्याओें से निजात मिल सकेगा।  यदि किसी कारणवश बुआई उपरांत खेत में चने के साथ-साथ तेवडा के पौधे भी दिखते है तो तेवडे के पौधो को पहचान कर खरपतवार की तरह निदाई-गुडाई कर खेत से बाहर निकाल दिए जाएं जिससे चने की उपज तेवडा, खेसरी रहित हो सकें।  जिले में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा मिशन टरफा योजना अंतर्गत चना बीज की उन्नत किस्म का वितरण कराया जा रहा है जिसमें एक कृषक को अधिकतम दो कि्ंवटल का बीज प्रदाय किया जाएगा। इस वर्ष शासन द्वारा छह हजार छह सौ रूपए प्रति कि्ंवटल चना बीज की विक्रय दर निर्धारित की गई है। टरफा योजना अंतर्गत चना, दस वर्ष से कम अवधि वाली बीज किस्म के वितरण हेतु तीन हजार तीन सौ रूपए प्रति कि्ंवटल अनुदान पर तथा चना दस वर्ष से अधिक अवधि वाले बीज किस्म के वितरण हेतु 25 सौ रूपए प्रति क्विंटल अनुदान दर निर्धारित की गई है।  अतः प्रति कृषक अधिकतम दो हेक्टेयर हेतु बीज की सम्पूर्ण राशि जमा कर बीज क्रय कर सकेगे। उन्हें उपरोक्तानुसार अनुदान राशि डीवीटी के माध्यम से कृषको के खातो में प्रदाय की जाएगी। योजनातंर्गत लक्ष्य अनुसार बीज की व्यवस्था समस्त विकासखण्ड के कार्यालयों, वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी से की जा सकती है। किसान भाईयों को विभाग के माध्यम से सलाह  दी गई है कि आगामी रबी सीजन में जिन फसलों की बुआई करनी हो उनकी उन्नतशील किस्मों की प्रमाणित बीज की व्यवस्था जरूर कर लेंवे। साथ ही मिट्टी की जांच हेतु मिट्टी नमूना एकत्रित कर कृषि विभाग के अधिकारियों से सम्पर्क कर मिट्टी नमूने की जांच अवश्य कराएं। 

विदिशा शहर में आठ क्षेत्र कंटेनमेंट जोन घोषित

नेशनल पोर्टल पर प्रदर्शित जानकारी के अनुसार कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट प्राप्त होने के उपरांत आरआरटी के निर्णय अनुसार विदिशा नगर के आठ क्षेत्रों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है।  मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार ने बताया कि विदिशा नगर में घोषित नवीन आठ कंटेनमेंट जोन के नोडल अधिकारी बीएमओ डॉ एके उपाध्याय को नियुक्त किया गया है। विदिशा नगर में जो नए कंटेनमेंट जोन घोषित किए गए है उनमें अरिहन्त बिहार कालोनी फेस तीन, अरिहन्त बिहार कालोनी ए 70, मुखर्जी नगर सी सेक्टर, न्यू बस स्टेण्ड रैन बसेरा, बरईपुरा, पूरनपुरा मेनरोड, पीली कोठी के पीछे राजीव जैन के पास, मिनल कृषि फार्म उदयगिरी रोड शामिल है। 

कोई टिप्पणी नहीं: