विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 27 नवम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 27 नवंबर 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 27 नवम्बर

किसानों के हित में मुख्यमंत्री अपनी घोषणा के पालन में तत्काल खरीफ की फसल को हुई क्षति की मुआवजा राशि किसानों के खाते में यथाशीघ्र भेजे - भार्गव 


विदिशा:- विधायक विदिशा शशांक भार्गव प्रमुख सचिव म.प्र. शासन कृषि विभाग को पत्र लिखकर मांग की की वर्ष 2020-21 में खरीफ की फसल सोयाबीन उड़द मूंग आदि में कीट प्रकोप से शत प्रतिशत क्षति हुई थी, म.प्र. विधानसभा उपचुनाव के पहले मा. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान जी द्वारा घोषणा की थी कि खरीफ की फसल में हुई क्षति का शत प्रतिशत मुआवजा दिया जायेगा एवं जिला प्रशासन द्वारा सर्वें कराकर क्षति का आंकलन भी करा लिया गया था। लेकिन विधानसभा उपचुनाव होने के इतने दिन बाद भी किसानो के खातो में अभी तक क्षतिपूर्ति राशि नही भेजे गई हैं, वर्तमान में बोनी का समय चल रहा है किसान को आर्थिक रूप से तत्काल मदद की आवश्यकता है। सरकार का दायित्व बनाता है कि वहाॅ अपनी घोषणा के पालन में 7 दिवस के भीतर भीतर क्षतिपूर्ति की राशि किसानों के खाते में जमा कराये अन्यथा किसानों के हित में कांगे्रस पार्टी आन्दोलन के लिए बैबस होगी, जिसकी नैतिक जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।


जिले के सभी उप स्वास्थ्य केन्द्रों में डिलेवरी  की सुविधाएं मुहैया हो-संभागायुक्त


vidisha news
भोपाल संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत ने शुक्रवार को विदिशा जिले के उप स्वास्थ्य केन्द्रों का भ्रमण कर जायजा लिया है। भ्रमण के दौरान कलेक्टर डॉ पंकज जैन, जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नीतू माथुर, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार के अलावा अन्य अधिकारी साथ मौजूद रहें।  संभागायुक्त श्री कियावत ने ग्यारसपुर, बासौदा, नटेरन विकासखण्ड के क्रमशः मोहानाखेजडा, गुलाबगंज, अंडियाकला, गमाखर, गंज, मसूदपुर, ताजखजूरी के उप स्वास्थ्य केन्द्र (आरोग्य) केन्द्रों का भ्रमण कर बुनियादी सुविधाओं की आपूर्ति के प्रबंधो के साथ-साथ पदस्थ डाक्टर, सीएचओ तथा एएनएम, के कार्यो का जायजा लिया है। संभागायुक्त श्री कियावत ने भ्रमण के दौरान संबंधितों को स्पष्ट निर्देश दिए है कि अब चौबीस घंटे उप स्वास्थ्य केन्द्र क्रियाशील रहेगे इसके लिए आवश्यक व्यवस्थाएं निर्धारित मापदण्डो के अनुरूप मुहैया कराई जाएगी।  संभागायुक्त श्री कियावत ने प्रत्येक उप स्वास्थ्य केन्द्र में पदस्थ स्वास्थ्य अमले को सख्त हिदायत दी है कि उप स्वास्थ्य केन्द्र के निर्धारित कक्ष में ही अपना निवास बनाएं। कही अपडाउन करते है तो दो दिवस के भीतर स्वास्थ्य केन्द्र के कक्ष में ही अपने निर्धारित निवास में रहना सुनिश्चित करें।  संभागायुक्त श्री कियावत ने उप स्वास्थ्य केन्द्रों में पदस्थ स्वास्थ्य अमले से संवाद स्थापित कर उनके कार्यो के सम्पादन की प्रक्रिया को जाना। इस दौरान सामान्य चर्चा के दौरान उन्होंने सुरक्षित प्रसव कराने के लिए क्या-क्या बुनियादी अवश्यकताओं की पूर्ति सुनिश्चित कराई जाए के संबंध में सुझाव जाने है। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों की मौजूदगी में एएनएम ही सुरक्षित प्रसव कराएं इसके लिए आवश्यकता के अनुसार सभी को निर्धारित शेड्यूल अनुसार पुनः प्रशिक्षित किया जाएगा।  संभागायुक्त श्री कियावत ने अंडियाकला के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के पीछे के हिस्से में गार्डन तैयार कराने तथा गमाखर में पेयजल एवं बिजली आर्पूर्त के संबंध में निर्देश दिए है। संभागायुक्त ने ग्राम ताजखजूरी में पदस्थ स्वास्थ्य अमले के निवास स्थल की पुष्टि ग्रामीणजनों से की। यहा उन्होंने सरपंच को एएनएम के रहने हेतु आवास के प्रबंध कराने तथा कोटवार को सतत निगरानी और सुरक्षा का जिम्मा सौंपा है।  संभागायुक्त श्री कियावत ने जिन प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रो का भ्रमण किया उन सभी में शासन के मापदण्डानुसार उपलब्ध कराई जाने वाली 79 प्रकार की दवाईयों के भण्डारण स्टॉक के संबंध में जानकारी प्राप्त की है। साथ ही मांग पत्र किस प्रकार प्रेषित करते है कि प्रक्रिया को जाना है। 


ग्र्रास रूट पर बुनियादी स्वास्थ्य सुविधाएं  पहुंचे-संभागायुक्त श्री कियावत


vidisha news
भोपाल संभागायुक्त श्री कवीन्द्र कियावत ने शुक्रवार को विदिशा जिले उप स्वास्थ्य केन्द्रों का भ्रमण उपरांत स्वास्थ्य विभाग एवं मेडीकल कॉलेज के चिकित्सकों की संयुक्त बैठक आहूत कर जिले के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को चौबीस घंटे क्रियाशील बनाए जाने हेतु क्या प्रबंध किए जाए इसके अलावा प्रत्येक स्वास्थ्य केन्द्र पर सुरक्षित प्रसव कराया जा सकें के संबंध में विचार विमर्श कर निर्णय लिए है।  संभागायुक्त श्री कियावत ने चिकित्सा अधिकारियों से सुझाव के उपरांत प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रो में पदस्थ सीएचओ एवं एएनएम के संयुक्त प्रशिक्षण हेतु मेडीकल कॉलेज में प्रबंध सुनिश्चित कराए जाने के निर्देश दिए है हरेक बैच में बीस-बीस के प्रशिक्षण हेतु आवासीय सुविधा सहित लेक्चर और प्रेक्टिकल की प्रक्रिया को अपनाया जाएगा। इस दौरान उन्होंने जिला चिकित्सालय में होने वाले डिलेवरी के दौरान उपस्थित रहकर प्रायोगिक जानकारियों से अवगत कराया जाएगा। करीब दो सप्ताह के उक्त प्रशिक्षण उपरांत संबंधितों को विकासखण्ड मुख्यालय के स्वास्थ्य केन्द्र पर भी प्रशिक्षित किया जाएगा।  संभागायुक्त ने उपरोक्त प्रशिक्षण की रूपरेखा तय करने हेतु मेडीकल कॉलेज के डीन और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को संयुक्त रूप से जबावदेंही सौंपी है।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने कहा कि प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में पदस्थ स्वास्थ्य अमला पूर्ण प्रशिक्षित हो जाने पर जिले में 19 डिलेवरी पाइंट बढ जाएंगे। निश्चित ही इससे ग्रामीण क्षेत्रों में सात से आठ किलोमीटर की परिधि मेंं सुरक्षित प्रसव की सुविधाएं गर्भवती महिलाओं को सुगमता से मिल सकेगी।  कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि संभागायुक्त द्वारा भ्रमण के दौरान जिन-जिन उप स्वास्थ्य केन्द्रों पर कार्यो के सम्पादन हेतु निर्देश दिए है उन कार्यो को समय सीमा में पूरा कराने की नैतिक जिम्मेदारी संबंधित विभागो के अधिकारियों की है। अतः उन सबको दुबारा याद दिलाने की आवश्यकता ना पडे़।  कलेक्टर डॉ जैन ने महिला एवं बाल विकास विभाग के जिलाधिकारी को निर्देश दिए है कि प्रत्येक स्वास्थ्य केन्द्र के अंतर्गत आने वाले ग्रामों में पदस्थ आंगनबाडी विभाग का अमला यह सुनिश्चित करें कि घर में अब एक भी डिलेवरी नही होगी। सुरक्षित सामान्य प्रसव प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रो में तथा जटिल प्रसव जिला चिकित्सालय को प्रेषित किए जाएंगे। कलेक्टर डॉ जैन ने बासौदा एवं सिरोंज के जन चिकित्सालयो में भी आपरेशन से डिलेवरी कराए जाने के लिए आवश्यक प्रबंध तथा चिकित्सकों की सुविधा के संबंध में निर्देश दिए है।  नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में सम्पन्न हुई इस बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्रीमती नीतू माथुर, अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह, मेडीकल कॉलेज के डीन डॉ सुनील नंदेश्वर, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार, सिविल सर्जन सह अधीक्षक डॉ संजय खरे, मेडीकल कॉलेज के एमडी डॉ प्रशांत वडगवालकर के अलावा महिला चिकित्सक तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे मौजूद थे।

कोई टिप्पणी नहीं: