हैदराबाद-बेंगलुरु में होगा एलिमिनेटर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 6 नवंबर 2020

हैदराबाद-बेंगलुरु में होगा एलिमिनेटर

bangluru-hyderabad-ipl-eliminator
अबु धाबी, 05 नवम्बर, सनराइजर्स हैदराबाद और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बीच शुक्रवार को आईपीएल का एलिमिनेटर होगा जिसमें जीतने वाली टीम की उम्मीदें बनी रहेंगी जबकि हारने वाली टीम बाहर हो जायेगी। हैदराबाद और बेंगलुरु दोनों के अंक तालिका में एक बराबर 14-14 अंक रहे लेकिन रन औसत के आधार पर हैदराबाद को तीसरा और बेंगलुरु को चौथा स्थान मिला। आईपीएल में तीसरे और चौथे स्थान की टीमों के बीच एलिमिनेटर होता है जिसमें जीतने वाली टीम को क्वालीफायर दो में क्वालीफायर एक पराजित से भिड़ना होता है जबकि हारने वाली टीम बाहर हो जाती है। फाइनल की होड़ में बने रहने के लिए दोनों टीमों को जीत हासिल करने के लिए पूरा जोर लगाना होगा। बेंगलुरु जहां अपने आखिरी चार लीग मैच हारने के बाद प्लेऑफ में पहुंची है वहीं हैदराबाद अपने आखिरी तीन लीग मैच जीतकर प्लेऑफ में पहुंची है। यह भी दिलचस्प है कि हैदराबाद ने अपने आखिरी तीन मैचों में प्लेऑफ में पहुंची अन्य तीनों टीमों को हराया है।

हैदराबाद ने प्लेऑफ से पहले दिल्ली कैपिटल्स को 88 रन से, बेंगलुरु को पांच विकेट से और मुंबई इंडियंस को 10 विकेट से हराया जबकि बेंगलुरु को प्लेऑफ से पहले चेन्नई सुपरकिंग्स से आठ विकेट से, मुंबई से पांच विकेट से, हैदराबाद से पांच विकेट से और दिल्ली से छह विकेट से हार का सामना करना पड़ा। बेंगलुरु की किस्मत अच्छी रही कि उसका रन रेट कोलकाता नाईट राइडर्स से थोड़ा बेहतर रहा और उसे प्लेऑफ में प्रवेश मिल गया लेकिन विराट कोहली की टीम को अब किस्मत के भरोसे नहीं बल्कि प्रदर्शन के भरोसे आगे की उम्मीद रखनी होगी। विराट जानते हैं कि उनका सामना प्लेऑफ में उस टीम से है जिसने उन्हें 2016 के फाइनल में आठ रन से हराया था। हैदराबाद के 208 रन के जवाब में बेंगलुरु की टीम ने 200 रन बनाये थे। विराट की टीम ने इस आईपीएल के तीसरे ही मैच में हैदराबाद को 10 रन से हराया था। विराट आईपीएल में आठवीं बार बेंगलुरु की कप्तानी कर रहे हैं लेकिन वह एक बार भी अपनी टीम को चैंपियन नहीं बना पाए हैं। विराट को अपनी उम्मीदों को बनाये रखने के लिए इस मुकाबले में हर हाल में जीत हासिल करनी होगी वरना उनका सपना एक बार फिर टूट जाएगा।

दूसरी तरफ हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर 2016 की जीत से प्रेरणा लेना चाहते हैं। वॉर्नर ने कहा कि उनकी टीम 2016 के फाइनल से प्रेरणा लेते हुए मुकाबले को हर हाल में जीतना चाहेगी। वॉर्नर ने कहा, “पिछले कुछ मैच हमारे लिए काफी बेहतरीन रहे हैं। विराट की अगुवाई वाली रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु एक शानदार टीम है। उनके खिलाफ चुनौतियां कठिन हैं। हमने उन्हें 2016 के फाइनल में हराया था और इस बार भी हम करो या मरो मुकाबले में जीतने के लिए उत्सुक हैं।” वार्नर ने कहा, “हमने कभी हार नहीं मानने वाला रवैया अपनाया और हम हर मैच में इसी सोच के साथ उतरे हैं। हमारे कुछ खिलाड़ी चोटिल हो गए थे, लेकिन उनकी भावनाएं हमारे साथ थी और हम उनके लिये जीत दर्ज करना चाहते थे। अगर हम अगले मैचों में भी ऐसा ही प्रदर्शन करते रहे तो हमें वास्तव में बहुत खुशी होगी।” उन्होंने 2016 आईपीएल के प्रदर्शन का जिक्र करते हुए कहा, “हम 2016 के प्रदर्शन पर नजर डालते हैं। हम उस समय भी इसी हालात में थे और हमको आईपीएल के खिताब को जीतने के लिए हर मैच में जीत हासिल करनी थी जो हमने किया था और इस बार भी हम वैसा ही कर सकते हैं।” विराट ने कहा, “मुझे लगता है कि हमने क्वालीफाई करने के लिए टूर्नमेंट में अच्छा प्रदर्शन किया है। फाइनल से पहले हमें दो मैच जीतने होंगे। हमें बल्लेबाजी में अंतिम ओवरों में और गेंदबाजी में पावर प्ले में बेहतर प्रदर्शन करना होगा जो हमारा मजबूत पक्ष है। यहां सकारात्मक रहना बेहद जरूरी है और मुझे उम्मीद है कि अगले मैच के लिए क्रिस मॉरिस और नवदीप सैनी स्वस्थ हो जाएंगे और टीम के लिए उपलब्ध रहेंगे।” 

कोई टिप्पणी नहीं: