बिहार : सुशील मोदी जा सकते हैं राज्य सभा, नीतीश कुमार चौथी बार मुख्यमंत्री - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 17 नवंबर 2020

बिहार : सुशील मोदी जा सकते हैं राज्य सभा, नीतीश कुमार चौथी बार मुख्यमंत्री

cm-nitish
विजय सिंह,लाइव आर्यावर्त, बिहार विधानसभा के 243 सीटों के लिए हाल ही में संपन्न हुए चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को मिली विजय के बाद आज बिहार की बागडोर एक बार फिर नीतीश कुमार को सौंपी गयी है I दीवाली की रौशनी के बाद आज भाई दूज बंधन के दिन नीतीश कुमार पुनः चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगें I 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में अब तक जदयू और भाजपा गठबंधन में छोटे भाई की भूमिका निभा रही भाजपा अब 74 सीटें जीत कर बड़े भाई की भूमिका में हैं ,इसके बावजूद मुख्यमंत्री पद 43 सीटें प्राप्त जदयू के नीतीश कुमार को एक बार फिर सौंप कर भाजपा ने गठबंधन धर्म ,चुनाव पूर्व किये गए सार्वजनिक घोषणा निभाने के साथ भविष्य के समीकरणों को साधने की पहल की है लेकिन इन सबमें कहीं न कहीं मुख्यमंत्री पद का ख्वाब पाले बिहार में भाजपा के चेहरे पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी के मंसूबों में न सिर्फ पानी फिर गया वरन उप मुख्यमंत्री पद पर भी उनकी ताजपोशी होती नहीं दिख रही है I जानकारी के मुताबिक सुशील मोदी की जगह अब नीतीश कुमार की मंत्रिमंडल में भाजपा के कटिहार से  चौथी बार निर्वाचित विधायक तारकेश्वर प्रसाद और बेतिया से  तीसरी बार चुनी गई विधायक रेणू देवी के रूप में दो उप मुख्यमंत्री शामिल किये जा सकते हैं I दूसरी तरफ 5 जनवरी 1952 को जन्में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ कार्यकर्ता और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री सुशील मोदी को भाजपा नेतृत्व द्वारा लोजपा नेता रामविलास पासवान की मृत्यु से रिक्त हुई राज्य सभा सीट पर काबिज़ कराये जाने की अटकलें लगाई जा रही है I अगर ऐसा होता है तो सुशील मोदी को राज्य की राजनीति से निकल कर केंद्र की राजनीति में अपना वज़ूद तराशना होगा और संभवतः कहीं न कहीं 2024 के आम चुनाव में भाजपा की वापसी के लिए अपनी भूमिका तलाशनी होगी I

कोई टिप्पणी नहीं: