22 जिलों में दस से भी कम कोरोना संक्रमितों की पहचान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 29 नवंबर 2020

22 जिलों में दस से भी कम कोरोना संक्रमितों की पहचान

covid-identified-bihar
पटना,29 नवम्बर। आज अश्विनी कुमार चौबे स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री ने पटना एम्स में इलाजरत वरिष्ठ भाजपा नेता, पूर्व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ सीपी ठाकुर जी, एमएलए अनिरुद्ध यादव जी समाजसेवी उपेंद्र विद्यार्थी जी से VC से बातचीत कर उनका हालचाल जाना। डॉक्टरों से उनके स्वास्थ्य से संबंधित जानकारी ली। सभी के यथाशीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। बता दें कि बिहार में कोरोना महामारी की रफ्तार है। पिछले 24 घंटों में बिहार में कोरोना से 5 लोगों मौत हो चुकी है। राज्य में अब तक इस रोग से 1253 लोगों की जान जा चुकी है। बिहार में ठंड की शुरूआत में ही कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ गई है। बात अगर पिछले 24 घंटे की करें तो इस दौरान राज्य में कोरोना के 713 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं। सबसे ज्यादा 267 मरीज पटना में मिले हैं। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पटना में सर्वाधिक 267 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई, जबकि 22 जिलों में दस से भी कम कोरोना संक्रमितों की पहचान की गई है। राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2,34,553 हो गई है तो वहीं कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 5585 पर जा पहूंची है। पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना के मरीजों की रिकवरी भी हुई है। इस दौरान 668 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। राज्य में कोरोना को लेकर सरकार की सतर्कता भी दिख रही है। एक दिन में कुल 1 लाख 36 हजार 770 सैम्पल की जांच हुई है लेकिन कोरोना के मरीजों की रिकवरी रेट पहले से कम हुई है जो कि चिंताजनक है। कोरोना के रिकवरी रेट में फिलहाल दो प्वाइंट की गिरावट हुई है। बिहार में फिलहाल कोरना का रिकवरी रेट घटकर 97.08 प्रतिशत पर जा पहुंचा है। कोरोना के बढ़ते खतरे को लेकर सरकार द्वारा सख्ती भी बरती जा रही है और लोगों के मास्क जांच के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करने की अपील की जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं: