सिडनी में हार की हैट्रिक से बचने और बराबरी के लिए उतरेगी टीम इंडिया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 28 नवंबर 2020

सिडनी में हार की हैट्रिक से बचने और बराबरी के लिए उतरेगी टीम इंडिया

india-ready-to-take-revenge-in-sydny
सिडनी, 28 नवंबर, पहले वनडे में 66 रन की करारी हार झेलने वाली टीम इंडिया रविवार को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले दूसरे एकदिवसीय मुकाबले में सिडनी मैदान में हार की हैट्रिक की बचने और तीन मैचों की सीरीज में बराबरी हासिल करने के लक्ष्य के साथ उतरेगी। विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय टीम ने 2018-19 के पिछले ऑस्ट्रेलियाई दौरे में सिडनी में पहला मैच 34 रन से गंवाया था लेकिन फिर वापसी करते हुए अगले दो मैच जीतकर सीरीज 2-1 से अपने नाम की थी। मौजूदा दौरे का पहला मैच सिडनी में ही खेला गया जिसमें भारत को 66 रन से हार का सामना करना पड़ा। सीरीज का दूसरा मैच भी सिडनी मैदान पर ही होना है जहां भारतीय टीम हार की हैट्रिक से बचने की पूरी कोशिश करेगी। पिछले दौरे का दूसरा मैच एडिलेड में हुआ था लेकिन इस सीरीज का दूसरा मैच सिडनी में ही हो रहा है। इसलिए भारत को सिडनी के मैदान में अपना रिकॉर्ड बेहतर करने की जरुरत है तभी जाकर वह इस सीरीज में वापसी कर पाएगा। ऑस्ट्रेलिया ने पहले मुकाबले में 374 रन का विशाल स्कोर बनाकर जीत अपने नाम की थी। भारत ने 308 रन बनाए थे लेकिन ऑस्ट्रेलिया का स्कोर इतना बड़ा था कि भारत की जीत की उम्मीदें लक्ष्य की शुरुआत करने से पहले ही खत्म हो गयी थी। पहले मुकाबले में भारतीय गेंदबाजों ने खासा निराश किया जिसके बाद शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों ने भी उम्मीदों को तोड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ी। जब बड़े लक्ष्य का पीछा करना हो तो टॉप ऑर्डर के बल्लेबाजों से बड़ी पारियों और अच्छी साझेदारियों की जरुरत होती है। लेकिन भारत के बल्लेबाज ऐसा करने में नाकाम रहे। ऑस्ट्रेलिया के लिए कप्तान आरोन फिंच और डेविड वार्नर ने पहले विकेट के लिए 156 रन तथा फिंच और स्टीवन स्मिथ ने दूसरे विकेट के लिए 108 रन जोड़े थे। यही साझेदारियां ऑस्ट्रेलिया की जीत का आधार बनी।

कोई टिप्पणी नहीं: