बिहार : तंज- थू-थू के बावजूद मंत्री कराया, घंटे बाद इस्तीफ़े का नाटक रचाया : - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 20 नवंबर 2020

बिहार : तंज- थू-थू के बावजूद मंत्री कराया, घंटे बाद इस्तीफ़े का नाटक रचाया :

tejaswi-attack-nitish-on-mewalal
पटना: बिहार विधानमंडल में नवगठित मंत्रिमंडल में जदयू कोटे से मेवालाल को शिक्षा विभाग मिला। लेकिन, पत्नी की मृत्यु और कुलपति से बर्खास्त किए जाने को लेकर मीडिया और विरोधियों के आक्रमक रवैये के कारण उन्हें कुछ ही घंटे बाद इस्तीफा देना पड़ गया। मेवालाल के इस्तीफे को लेकर राजद नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि जनादेश के माध्यम से बिहार ने हमें एक आदेश दिया है कि आपकी भ्रष्ट नीति, नीयत और नियम के खिलाफ आपको आगाह करते रहें। महज एक इस्तीफे से बात नहीं बनेगी। अभी तो 19 लाख नौकरी, संविदा और समान काम-समान वेतन जैसे अनेकों जन सरोकार के मुद्दों पर मिलेंगे। जय बिहार, जय हिन्द


तेजस्वी ने कहा कि मैंने कहा था ना आप थक चुके है इसलिए आपकी सोचने-समझने की शक्ति क्षीण हो चुकी है। जानबूझकर भ्रष्टाचारी को मंत्री बनाया थू-थू के बावजूद पदभार ग्रहण कराया, घंटे बाद इस्तीफ़े का नाटक रचाया। असली गुनाहगार आप है। आपने मंत्री क्यों बनाया?? आपका दोहरापन और नौटंकी अब चलने नहीं दी जाएगी? वहीं, इस मसले पर राजद प्रवक्ता चितरंजन गगन ने शिक्षा मंत्री मेवालाल चौधरी के इस्तीफे को नौटंकी का प्रथम दृश्य बताते हुए कहा कि इससे नीतीश जी के चेहरे का दाग धुलने वाला नहीं है। उनके हर नाटक से जनता भली भांति परिचित है। मेवालाल जी पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों से पूर्णतः परिचित रहने के बावजूद नीतीश जी ने उन्हें मंत्री बना कर शिक्षा जैसे महत्वपूर्ण विभाग की जिम्मेदारी सौंपी। मुख्यमंत्री द्वारा हरि झंडी मिलने के बाद हीं उनके द्वारा आज विधिवत रूप से अपने विभाग में जाकर कार्यभार भी संभाल लिया गया। और उसके बाद उनसे इस्तीफा ले लिया गया। इस नौटंकी को लोग अच्छी तरह से समझ रहे हैं और इससे नीतीश जी का दागदार चेहरा साफ होने वाला नहीं है। राजद प्रवक्ता ने कहा कि यह तो अभी नौटंकी का पहला हीं दृश्य है। अभी तो पुरा नाटक बचा हुआ है। जब तक यह सरकार रहेगी इस प्रकार का दृश्य आते रहेगा। राजद प्रवक्ता ने कहा कि जिस सरकार की बुनियाद हीं भ्रष्टाचार पर खड़ी हो उससे भ्रष्टाचार मुक्त शासन की कल्पना करना हीं बेमानी होगी

कोई टिप्पणी नहीं: