आत्मनिर्भर बिहार बनाना हमारा लक्ष्य : मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 5 नवंबर 2020

आत्मनिर्भर बिहार बनाना हमारा लक्ष्य : मोदी

will-make-self-dipendent-india-modi
नयी दिल्ली 04 नवम्बर, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन का लक्ष्य बिहार को आत्मनिर्भर बनाना, कानून का राज बनाये रखना और सभी को समान अवसर मुहैया कराना है।राज्य में हो रहे विधानसभा चुनाव का उल्लेख करते हुए श्री मोदी ने सिलसिलेवार ट्वीट करते हुए आज कहा , “ आत्मनिर्भर बिहार में...हमारा लक्ष्य है - कानून का राज बनाए रखना, हमारा उद्देश्य है - गरीबों का कल्याण,हमारा मिशन है - युवाओं को अवसर, महिलाओं की सुरक्षा, हमारा मंत्र है - सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वासजय बिहार, जय भारत !” अगले टि्वट में उन्होंने कहा , “ विकास का सबसे बड़ा दुश्मन भ्रष्टाचार है। यह गरीबों से उनका अधिकार छीनता है। बैंक खातों, आधार और मोबाइल को जोड़कर एनडीए सरकार ने गरीबों को उनका अधिकार दिया है और काली कमाई के अनेक रास्ते बंद कर दिए हैं। अब अधिकांश योजनाओं का पैसा गरीबों के बैंक खातों में सीधे ट्रांसफर हो रहा है। बिहार का गरीब आज आश्वस्त है कि उनके ही जैसा गरीबी में पैदा हुआ पिछड़े समाज का उनका सेवक आज दिल्ली में काम कर रहा है और यह सुनिश्चित कर रहा है कि एक भी गरीब भूखा न सोए। कोरोना के इस कठिन समय में उन्हें मुफ्त राशन और सहायता सुनिश्चित की जा रही है।” चुनाव प्रचार के दौरान अपनी रैलियों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, “ पिछले दिनों मुझे बिहार के अपने भाइयों-बहनों से मिलकर उनका आशीर्वाद लेने का अवसर मिला। सासाराम में पहली रैली से लेकर सहरसा में आखिरी रैली तक जनता ने हमेशा की तरह ढेर सारा प्यार दिया। एक जनसेवक के रूप में बिहार की भूमि का चरण स्पर्श मुझे जनसेवा के लिए और प्रतिबद्ध करता है। बिहार ने हमेशा लोकतंत्र के मूल्यों को ही सर्वोच्च माना है। इसलिए बिहार के लोग सुशासन की राजनीति ही पसंद करते हैं। राजनीतिक चेतना से लेकर सामाजिक मंथन तक, तीज-त्योहार से लेकर खान-पान तक बिहार अद्भुत है। यही बिहार की प्राणवायु है। यही आत्मनिर्भर बिहार की नींव है।” उन्होंने कहा , “ मुझे बिहार में एनडीए की सभी रैलियों में एक समानता दिखी- युवाशक्ति और नारीशक्ति की बढ़चढ़ कर भागीदारी। अगर एनडीए यहां लगातार जीत हासिल कर रहा है तो ये इनका ही आशीर्वाद है। हमें इस आशीर्वाद से ही लगातार काम करने की ऊर्जा मिलती है। बिहार के युवा और महिलाएं एनडीए में उम्मीद देखते हैं।” प्रधानमंत्री ने एक अन्य टि्वट में कहा , “ जनधन से लेकर मुद्रा लोन योजना तक, स्वच्छ भारत मिशन से लेकर आयुष्मान भारत योजना तक, उज्ज्वला से लेकर जल जीवन मिशन तक बिहार ने विकास के हर कदम पर महत्वपूर्ण पड़ाव तय किए हैं। बिहारवासियों ने तय कर लिया है कि प्रगति के पथ पर बढ़ चले ये तेज कदम अब न रुकेंगे, न थमेंगे। बिहार के युवाओं को सुविधा, सुरक्षा, रोजगार और स्वरोजगार के नए अवसर सिर्फ एनडीए ही दे सकता है। आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर पर अभूतपूर्व निवेश बिहार में रोजगार के नए अवसर बना रहा है। मुद्रा योजना और स्टैंड अप इंडिया योजना के तहत बिहार को एक लाख करोड़ रुपये दिए जा रहे हैं।”  

कोई टिप्पणी नहीं: