झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 04 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 5 दिसंबर 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 04 दिसंबर

क्रांतिकारी टंट्या भील का देष की आजादी में रहा महत्वपूर्ण योगदान -ः भाजपा जिलाध्यक्ष श्री नायक

  • टंट्या भील को कभी भी अविस्मरणीय नहीं किया जा सकता -ः क्षेत्रीय सांसद श्री डामोर
  • जिला भाजपा द्वारा बस स्टेंड पर टंट्या भील की प्रतिमा पर किया गया माल्यार्पण, सांसद कार्यालय पर भी हुआ आयोजन

jhabua news
झाबुआ। क्रांतिकारी टंट्या भील के बलिदान दिवस पर जिला भाजपा द्वारा स्थानीय बस स्टेंड स्थित यात्री प्रतिक्षालय में स्थापित प्रतिमा पर माल्यार्पण के साथ सांसद कार्यालय पर भी टंट्या भील के शहादत दिवस पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। दोनो कार्यक्रमांे मंे अतिथि के रूप में भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक एवं क्षेत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर उपस्थित थे। टंट्या भील की प्रतिमा पर माल्यार्पण बाद अतिथियांे ने उक्त क्रांतिकारी पुरूष के जीवन पर प्रकाष भी डाला। जानकारी देते हुए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने बताया कि सर्वप्रथम 4 दिसंबर, शुक्रवार को दोपहर बस स्टेंड स्थित यात्री प्रतिक्षालय में टं्टया भील की प्रतिमा पर माल्यार्पण भाजपा जिलाध्यक्ष श्री नायक, क्षेत्रीय सांसद श्री डामोर के साथ पूर्व विधायक झाबुआ शांतिलाल बिलवाल, भाजपा के प्रदेष कार्यकारिणी सदस्य दौलत भावसार, पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाष शर्मा, जिला उपाध्यक्ष अजय पोरवाल, भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर, भाजपा मंडल झाबुआ के नवीन अध्यक्ष अंकुर पाठक, पूर्व अध्यक्ष दीपेष बबलू सकलेचा आदि ने करते हुए सभी द्वारा टंट्या भील अमर रहे .... अमर रहे ... के घोष के साथ भाजपा जिंदाबाद .... के भी नारे लगाए गए।

टंट्या भील महापुरूष के साथ जननायक भी

यहां संक्षिप्त उद्बोधन में भाजपा जिलाध्यक्ष श्री नायक ने कहा कि टंट्या भील को आज ही के दिन अंग्रेजों द्वारा कारागार में फांसी दी गई थी। टंट्या भील एक क्रांतिकारी नेता के रूप मंें प्रसिद्ध होने के साथ देष की आजादी में उनका महत्वपूर्ण योगदा रहा। उन्होंने जननायक के साथ एक महापुरूष के रूप में भी ख्याति प्राप्त की। सांसद श्री डामोर ने कहा कि टंट्या भील के बलिदान को कभी अविस्मरणीय नहीं किया जा सकता है। देष की आजादी में कई महापुरूषों और क्रांतिकारियों का योगदान रहा है, उनमें से टंट्या भील भी एक है। उन्होंने हमेषा चुनौतियांे का स्वीकार कर समाज हित के साथ देष हित के लिए भी कार्य किया। इस अवसर पूर्व विधायक श्री बिलवाल एवं पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष श्री शर्मा ने भी टंट्या भील के जीवन के बारे में बताया।

यह रहे उपस्थित

इस अवसर पर मुख्य रूप से पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष धनसिंह बारिया, जिला पंचायत सदस्य मेगजी अमलियार, सांसद प्रतिनिधि मनोज अरोरा, राजा ठाकुर सहित अन्य भाजपा पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे। संचालन जनजाति विकास मंच के खेमसिंह जमरा ने किया एवं आभार दीपेष बबलू सकलेचा ने माना।

सांसद कार्यालय पर भी हुआ आयोजन

इसी प्रकार टंट्या बलिदान का बलिदान दिवस इंदौर-अहमदाबाद राष्ट्रीय राजमार्ग पर अनास नदी के समीप स्थित सांसद कार्यालय पर भी मनाया गया। जहां क्षेत्रीय सांसद के साथ उपस्थित अन्य भाजपा नेताआंे और पदाधिकारियों ने टंट्या भील की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उनके कार्यों के बारे मंें विस्तार से बताया।


ब्लाॅक कांग्रेस उपाध्यक्ष सारंगी एवं मठमठ उप-सरपंच नीरज पोरवाल के साथ अन्य कई वरिष्ठ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सदस्यता की ग्रहण, भाजपा जिलाध्यक्ष ने पार्टी का दुपट्टा पहनाकर पुष्पमालाओं से किया स्वागत


jhabua news
झाबुआ। भाजपा की रीति-नीति और कार्यों से प्रभावित होकर 3 दिसंबर, गुरूवार शाम 5 बजे जिला मुख्यालय झाबुआ पर भाजपा जिला कार्यालय पर पहुंचकर ब्लाॅक कांग्रेस उपाध्यक्ष सारंगी एवं मठमठ के उप-सरपंच नीरज पोरवाल के साथ अन्य वरिष्ठ कांग्रेस कार्यकर्ताआंे ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। जिला कार्यालय पर भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक ने सभी को पार्टी का दुपट्टा पहनाकर सदस्यता ग्रहण करवाने के साथ पुष्पमाला पहनाकर भव्य स्वागत भी किया। जानकारी देते हुए भाजपा जिला मीडिया प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने बताया कि वरिष्ठ कांग्रेस नेता नीरज पोरवाल के साथ क्षेत्र के वरिष्ठ कांग्रेस कार्यकर्ता मानसिंह गरवाल, भागीरथ पडियार, वासुदेव पोरवाल, देवीलाल गुर्जर आदि सभी ग्राम मठमठ बुधवार शाम भाजपा जिला कार्यालय पहुंचे और भाजपा जिलाध्यक्ष श्री नायक की उपस्थिति में उन्होंने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। भाजपा जिलाध्यक्ष श्री नायक ने सभी को गले मंे पार्टी को दुपट्टा ओढ़ाया और पुष्पमालाआंे से स्वागत कर पार्टी ज्वाईन करने पर शुभकामनाएं प्रेषित की।

कांग्रेस की कथनी और करनी में अंतर अब जनता समझ चुकी है

इस अवसर पर ब्लाॅक कांग्रेस उपाध्यक्ष सारंगी नीरजसिंह पोरवाल ने बताया कि वह एवं उनके साथ उपस्थित सभी कार्यकर्ता पार्टी की रीति-नीति और कार्यों से प्रभावित होेकर उन्होंने भाजपा में सम्मिलित होने का फैसला लिया है। वहीं भाजपा जिलाध्यक्ष श्री नायक ने अपने संक्षिप्त उद्बोधन में कहा कि अब कांग्रेस की कथनी और करनी में अंतर सभी को समझ आ गया है। भाजपा अनुषासित पार्टी होकर जो कहती है, वह करती है। वह सर्वहारा वर्ग की पार्टी है और सभी के विकास तथा प्रगति के कार्य कर रहीं है। देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं मप्र के मुख्यमंत्री षिवराजसिंह चैहान हर वर्ग को मुख्य धारा से जोड़ने के लिए सैकड़ांे योजनाआंे संचालित कर रहे है। अंत में आभार भाजपा के सत्येन्द्र यादव ने माना।


स्वतंत्रता संग्राम सेनानी टंट्या मामा के स्मृति दिवस पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दिप प्रज्जवलित कर कांग्रेसजनों ने किया नमन।

भारत भूमि के गौरव थे टंट्या मामा और हमेशा रहेंगे - कांतिलाल भूरिया

jhabua news
झाबुआ 4 दिसंबर। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महान क्रांतीकारी वीर शहीद मामा टंट्या भील के शहादत दिवस के अवसर पर कांग्रेसजनों ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं क्षेत्रीय विधायक कांतिलाल भूरिया जी की उपस्थिति में आज स्थानीय बस स्टेण्ड के पास स्थित मामा टंट्य भील की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर एवं दिप प्रज्जवलित कर महानायक का स्मरण किया। इस अवसर पर उपस्थित सभी लोगों ने भी बारी-बारी से उन्हें पुष्प अर्पित कर अपनी-अपनी पुष्पांजली अर्पित की । इस अवसर पर विधायक कांतिलाल भूरिया ने कहा  कि आज भी बहुत से घरों में मामा टंट्या भील की पूजा की जाती है। टंट्या भील  को आलोकिक शक्ति प्राप्त थी, इन शक्तियों इशारे टंट्या भील गरीब एवं आदिवासीयों की सेवा करते थे, उन्हें आज भी लोग देवता के रूप में पूजते हैं। गरबों के मसीहा कहे जाने वाले जननायक टंट्या भील ने ब्रिटिश हुकुमत द्वारा ग्रामीण आदिवासी जनता के साथ शोषण और उनके मौलिक अधिकारों के साथ हो रहे अन्याय अत्याचार की खिलाफती स्वयं प्रताड़ित अंग्रेजों सत्ता ने जननायक टंट्या मामा को ‘‘ईडियन ्राॅबिनहूड‘‘ का खिताब दिया। वे भारत भूमि के गौरव थे टंट्या मामा और हमेशा रहेंगे। मध्यप्रदेश के  खण्डवा जिले की पंधाना तहसील के बड़दा गांव में सन 1842 में टंट्या जी का जन्म हुआ था, उन्होंने लाटी, गोफन धर्नुविद्या में दक्षता हाशिल की एवं लाठी चलाने और गोफन कला में भी महार्थ प्राप्त की थी। उन्होंने देश की आजादी के लिए अपना बलिदान दिया। उनके बलिदान को देश हमेशा याद रखेगा। इस अवसर पर शहर कांग्रेस अध्यक्ष गौरव सक्सेना, कांग्रेस पदाधिकारी आशिष भूरिया, एनएसयूआई जिला अध्यक्ष विनय भाबर आदि ने भी टंट्या मामा को स्मरण करते हुए उन्हें आदिवासी एवं गरीबों का मसीहा बताया एवं उनके जीवन पर अपने-अपने विचार रखे। कार्यक्रम का संचालन विजय भाबर ने किया एवं आभार पार्षद हेमेन्द्र कटारा ने माना इस अवसर पर कल्याणपुरा उप ब्लाॅक अध्यक्ष शंकरसिंह भूरिया , कांग्रेस नेता दिलिप भूरिया, भारू मावी, दिपू डोडियार , जितेन्द्र शाह, मांजू भूरिया, किलू भूरिया, महेश डामोर, अश्विन मेड़ा आदि कांग्रेसजन विशेष रूप स उपस्थित थें।


झाबुआ के वार्ड क्र. 18 में भारत आयुष्मान योजना के तहत कार्ड बनाने का हुआ कार्य, वार्ड पार्षद के विषेष प्रयासांे से 80 से अधिक पात्र हितग्राहियों सेे कार्ड हेतु जरूरी दस्तावेज एकत्रीकरण कर आॅनलाईन किए जमा


jhabua news
झाबुआ। भारत सरकार की महत्वपूर्ण योजना ‘‘भारत आयुष्मान कार्ड’’ योजना का प्रत्येक पात्र व्यक्ति को लाभ मिल सके, इस हेतु मप्र सरकार द्वारा भी विषेष प्रयास किए जा रहे है। वहीं झाबुआ जिले में जिला कलेक्टर रोहितसिंह भी इसको लेकर कृत-संकल्पित है। उनके निर्देष पर नगरपालिका परिषद् झाबुआ एवं लोक सेवा गारंटी कार्यालय द्वारा मिलकर झाबुआ शहर के 18 वार्डों में अब षिविरों का आयोजन कर पात्र हितग्राहियों से आवष्यक दस्तावेज कलेक्षन कर उनके कार्ड बनाने की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है। इसी तारतम्य मंे 4 दिसंबर, शुक्रवार को झाबुआ शहर के वार्ड क्र. 18 में भी नगरपालिका एवं लोक सेवा गारंटी झाबुआ द्वारा संयुक्त रूप से षिविर का आयोजन कर वार्ड के रहवासियांे से ‘‘भारत आयुष्मान योजना’’ के कार्ड बनवाने हेतु दस्तावेज कलेक्षन किए गए। षिविर में वार्ड क्र. 18 के जागरूक एवं सक्रिय पार्षद नरेन्द्र राठौरिया ने भी विषेष सहयोग प्रदान करते हुए वार्ड के ऐसे रहवासी, जिनके कंेद्र सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना के तहत कार्ड बनवाए जाना है, उनसे दस्तावेज के रूप मंें आधार कार्ड, सम्रग आई-डी, फोटो आदि साथ लेकर रहवासियांे को षिविर स्थल पर बुलवाकर उनके दस्तावेज आॅनलाईन सबमिट करने की प्रक्रिया लोक सेवा गारंटी के कर्मचारी लक्ष्मणसिंह परमार द्वारा की गई। जिसमें आवष्यक सहयोग नगरपालिका कर्मचारी किषोरभाई परखून ने प्रदान किया।

80 से अधिक पात्र हितग्राहियों से किए गए दस्तावेज कलेक्षन

यह षिविर वार्ड क्र. 18 में सिद्धेष्वर काॅलोनी स्थित पशु चिकित्सालय भवन परिसर में आयोजित हुआ। षिविर दोपहर 11 से शाम 5 बजे तक चला। जिसमें वार्ड पार्षद के विषेष प्रयासांे के चलते 80 से अधिक पात्र रहवासियों के योजना के तहत कार्ड बनाने हेतु उनकी आॅनलाईन प्रक्रिया पूर्ण की गई। जिसमें महिला-पुरूषों के साथ युवाओं के भी कार्ड बनाने के लिए दस्तावेज कलेक्षन का कार्य हुआ। इस कार्य में वार्ड के सेवाभावी कार्यकर्ताओं में राजेष सतोगिया, आदित्य कटारा, सुलेमान शेख, हार्दिक जैन, ईस्माइल बागवान आदि ने भी सहयोग प्रदान किया।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योजना है ‘‘भारत आयुष्मान कार्ड’’

वार्ड पार्षद नरेन्द्र राठौरिया ने बताया कि देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदीजी एवं केंद्र सरकार की स्वास्थ्य के क्षेत्र में यह एक अत्यंत महत्वपूर्ण योजना है। इस योजना के तहत कार्ड बनने पर हितग्राही को सरकार द्वारा चिन्हीत देष और राज्यों के चिन्हीत शासकीय एवं निजी चिकित्सालयों में विभिन्न गंभीर रोंगों का उपचार, आॅपरेषन आदि करवाने के साथ दवाईयों आदि में भी नियमानुसार आवष्यक छूट एवं राहत मिल सकेगी। इस योजना के लाभ के लिए मुख्य रूप से हितग्राही का नाम वर्ष 2011 की सर्वेक्षण सूची से पूर्व दर्ज होना जरूरी है। योजना के तहत अब तक देष में लाखों हितग्राही लाभान्वित होने के साथ झाबुआ जिले से भी अनेक पात्र हितग्राहियों के कार्ड बनने पर उन्हें चिन्हीत चिकित्सालयों में उपचार, आॅपरेषन आदि करवाने पर पैसांे में छूट प्राप्त हुई है और उन्होंने उक्त योजना को काफी सराहा है। जिले में योजना के तहत प्रत्येक पात्र व्यक्ति के कार्ड बनाने का कार्य तेज गति से जारी है।


भोपाल में विरोध कर रहे कोविड-19 के फायटरों पर लाठीचार्ज की घटना पर जिले में कार्यरत कोविड अधिकारी-कर्मचारियांे ने जताया विरोध, दो दिन कार्य से पृथक रहने का लिया निर्णय


jhabua news
झाबुआ। 3 दिसंबर, गुरूवार को मप्र की राजधानी भोपाल के नीलम पार्क में मप्र स्वास्थ्य संचालनालय (एन.एच.एम.) के अधीन कोविड-19 में अस्थायी रूप से कार्यरत स्वास्थ्य अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा अपनी मांगों के समर्थन में शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्षन करने पर उन पर पुलिस द्वारा बर्बरतापूर्वक लाठी चार्ज करने की घटना का संपूर्ण मप्र में अस्थायी कार्यरत अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा विरोध किया जा रहा है। झाबुआ जिले में भी विरोध स्वरूप अस्थायी रूप से कोविड-19 में ड्यूटी पर लगे अस्थायी अधिकारी-कर्मचारियों ने विरोध स्वरूप दो दिन कार्य से पृथक रहने का निर्णय लिया है। जानकारी देते हुए जिला चिकित्सालय झाबुआ में कोविड वार्ड में पदस्थ चिकित्सक डाॅ. भानूप्रतापसिंह राठौर ने बताया कि मप्र स्वास्थ्य संचालनालय भोपाल द्वारा विगत मार्च माह से जब से संपूर्ण लाॅकडाउन लगा है, तब से संपूर्ण मप्र में कोविड-19 कार्य मंे चिकित्सकों, नर्सेस एवं वार्ड बाॅय आदि की ड्यूटी लगाई गई। उक्त अधिकारी-कर्मचारियों ने अपनी जान की परवाह किए बगैर दिन-रात कोरोना मरीजों के गांव-गांव, घर-घर जाकर सेंपल लेने, कोविड वार्ड एवं आईसोलेष्न वार्ड में उनका उपचार करने, नर्सेस एवं वार्ड बाॅय आदि द्वारा समय-समय पर फालोअप करने और सफाई आदि कार्य करने के बाद अब एनएचएम द्वारा इन्हें अस्थायी रूप से पदस्थ किए गए अधिकारी-कर्मचारी बताकर नौकरी से मुक्त किया जा रहा है। इस संबंध में संपूर्ण मप्र के कोविड-19 कार्य में लगे ऐसे स्वास्थ्य अधिकारी-कर्मचारी चरणबद्ध आंदोलन के के माध्यम से अपनी मांगों को एनएचएम भोपाल और मप्र सरकार तक पहुंचाने के प्रयास कर रहे है।

लाठीचार्ज कर गिरफतारी की गई

डाॅ. भानूप्रतापसिंह ने आगे बताया कि इसी तारतम्य में गत 3 दिसंबर, गुरूवार को भोपाल के नीलम पार्क में अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा उन्हें सेवा से पृथक नहीं किए जाने सहित अन्य मांगांे को लेकर शांतिपूर्ण तरीके से विरोध कर रहे थे, बावजूद इसके पुलिस द्वारा इन पर बर्बरतापूर्वक लाठी बरसाई गई। जिससे कई अधिकारी-कर्मचारी, विषेषकर महिलाएं भी गंभीर घायल हो गई। उन्हें गिरफतार कर जेल भेजा गया।

दो दिन कार्य से रहेंगे पृथक

जिसका संपूर्ण प्रदेष में अस्थायी कोविड-19 अधिकारी-कर्मचारियांे द्वारा विरोध करते हुए सामूहिक रूप से अवकाष पर उतर गए है। जिसमें झाबुआ के अधिकारी-कर्मचारी भी शामिल है। झाबुआ जिले में भी कार्यरत 17 आयुष चिकित्सक, 31 नर्सेस एवं 36 चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियांे ने इस संबंध मंे मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी झाबुआ को दो दिन अवकाष पर रहने की सूचना-पत्र देकर जिला चिकित्सालय के बाहर अपना विरोध भी प्रकट किया। उनके अवकाष पर रहने से जिले में कोविड के साथ कई अन्य स्वास्थ्य संबंधी सेवाएं भी प्रभावित हो रहीं है।


जनजाति विकास मंच ने टं्टया भील के शहादत दिवस पर षिवगंगा तिराहे पर प्रतिमा पर किया माल्यार्पण, झाबुआ में निकाली गई भव्य दो पहिया वाहन रैली

विभिन्न संगठनों एवं समाजों ने की सहभागिता

jhabua news
झाबुआ। जनजाति विकास मंच द्वारा 4 दिसंबर, शुक्रवार को दोपहर देष की आजादी में अपनी भूमिका का निर्वहन करने वाले क्रांतिकारी टंट्या भील के बलिदान दिवस पर विषेष कार्यक्रम के तहत शहर से सटे रानापुर तिराहे (षिवगंगा तिराहे) पर टंट्या भील की आदमकद प्रतिमा पर भव्य माल्यार्पण किया गया। बाद यहां झाबुआ मंे भव्य दो पहिया वाहन रैली भी निकाली गई। जिसका समापन बस स्टेंड स्थित यात्री प्रतिक्षालय पर टंट्या भील की प्रतिमा पर हुआ। इस दौरान मुख्य रूप से संबोधित करते हुए क्षेत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर एवं जनजाति विकास मंच के जिला सह-कार्यपालक खेमसिंह जमरा ने टंट्या भील के जीवन पर विस्तार से प्रकाष डाला एवं शहीदांे तथा क्रांतिकारियांे के नाम पर बेवजह दिखावा और उल्लू सीधा करने वालांे को सावधान रहने की सख्त चेतावनी दी। जनजाति विकास मंच खंड झाबुआ के साथ विभिन्न हिन्दू संगठनों द्वारा मिलकर 4 दिसंबर, शुक्रवार को दोपहर षिवगंगा तिराहे पर क्रांतिकारी टंट्या भील की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान ‘‘टंट्या मामा की जय के साथ भारत माता’’ के भी जयकारे लगाए गए। बाद इस दौरान मुख्य रूप से संबोधित करते हुए क्षेत्रीय सांसद गुमानसिंह डामोर ने कहा कि टंट्या भील आज लोकनायक और जननायक के रूप मंे पूरे देष में प्रसिद्धी हासिल कर चुके है। उनका बलिदान और योगदान को हम कभी नहीं भूला सकते है। यहां प्रतिमा पर माल्यार्पण पश्चात् भव्य दो पहिया वाहन रैली निकाली गई, जो शहर के विभिन्न मार्गों से होते हुए बस स्टेंड स्थित यात्री प्रतिक्षालय पर पहुंची।

ट्ंटया मामा के नाम पर बेवजह दिखावा एवं वाहवाही लूटने वाले रहे सावधान

जहां भी प्रतिक्षालय में स्थापित टंट्या भील की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर यहां जनजाति विकास मंच के सह-कार्यपालक खेमसिंह जमरा ने संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान में हमारे क्षेत्र में हम सब अपनी जाति की उन्नति और अधिकारों की बात कर रहे हैं और हम सब बिरसा मुण्डा, टंट्या मामा जैसे महानायकों को अपना आदर्श भी बता रहे हैं। साथ ही हर कोई अपने आपको उनका अनुयायी साबित करने में जुटा हुआ है और कुछ तो अपने आपको बिरसा मुंडा और टंटया मामा के अवतार तक घोषित कर रहे हैं। जो कोई भी खुद को बिरसा और टांट्या का अनुयायी समझता है वह उनके विराट व्यक्तित्व को भी समझे। उनके संघर्ष के मूल में उनका उत्कृष्ट राष्ट्रप्रेम था, इसलिए वे महानता को प्राप्त हुए हैं। आज शहीदांे और महापुरूषों के नाम पर जो बेवजह का दिखावा और जो कुछ शरारती तत्व उल्लू सीधा करना चाहते है, वह बंद होना चाहिए।

यह रखे मुख्य रूप से उपस्थित

यहां कार्यक्रम का संचालन जनजाति विकास मंच के प्रमुख रतनसिंह डावर ने किया एवं आभार भाजपा के पूर्व मंडल अध्यक्ष दीपेष बबलू सकलेचा ने माना। संपूर्ण कार्यक्रम मंे भाजपा जिलाध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक जनजाति कार्य प्रांत प्रमुख कैलाश अमलियार जनजाति विकास मंच के वरिष्ठ नेता श्यामा ताहेड, पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल, मेगजी अमलियार, षिवगंगा से राजाराम कटारा, शरमा भूरिया, बहादुर हटिला, गुड्डू जैन, जुवानसिंग गुंडिया, पूर्व मंडल अध्यक्ष हरु भूरिया, ग्रामीण मंडल अध्यक्ष सुरभानसिंह गुंडिया, झाबुआ मंडल अध्यक्ष अंकुर पाठक, हेमेन्द्र नाना राठौर, पं. महेंद्र तिवारी, मनोहर मोदी, मजेसिंग मकोड़िया, मनोज अरोरा के साथ जनजाति विकास मंच से जुड़े धनसिंह बारिया, विजय चैहान, महेन्द्र भूरिया, अलकेष मेड़ा पंकज जैन, हरबन डामोर, मेगजी अमलियार आदि उपस्थित थे।


संपत्ति कर दाता एवं दुकान किराया बकायादार लोक अदालत का अधिकाधिक लाभ ले, नगरपालिका की राजस्व शाखा ने की अपील


झाबुआ।  नगरपालिका झाबुआ द्वारा आगामी 12 दिसंबर, षनिवार को जिला न्यायालय मे होने वाली लोक अदालत में निकाय द्वारा संपत्ति कर बकायादारो के कुल 52 प्रकरण लोक अदालत मे रखे जाएंगे। जानकारी देते हुए नगरपालिका के राजस्व शाखा के उप-निरीक्षक अयूब खान ने बताया कि लोक अदालत मंे झाबुआ शहर के संपत्ति कर दाता यदि बकाया राषि एक मुष्त जमा कराता है तो, उसे नियमानुसार अधिभार मे छूट षासन के आदेष अनुसार प्रदाय की जाएगी। संपत्ति कर एवं दुकान किराया के ऐसे प्रकरण, जिनमे कर तथा अधिभार की राषि 50,000 (पचास हजार) हो, उस पर 100 प्रतिषत अधिभार में छूट, संपत्तिकर एवं दुकान किराया के ऐसे प्रकरण, जिनमें कर तथा अधिभार की राषि रूपए 1,00,000 (एक लाख) हो उस पर 50 प्रतिषत अधिभार में छूट, संपत्तिकर एवं दुकान किराया के ऐसे प्रकरण, जिनमें कर तथा अधिभार की राषि रूपए 1,00,000 (एक लाख) से अधिक हो, उस पर 25 प्रतिषत अधिभार में छूट दी जाएगी। अतः संपत्ति कर एवं दुकान किराया बकायादारों से निवेदन है कि वे लोक अदालत में उपस्थित होकर उक्त छूट का लाभ वर्ष 2019-2020 तक की राषि जमा करवा कर प्राप्त करे।


आत्मनिर्भरता के लिए आत्मविष्वास होना भी बेहद जरूरी है -ः डीपीए अध्यक्ष यषवंत भंडारी, विष्व विकलांग दिवस पर खेलकूद एवं अन्य प्रतियोगिताआंे का हुआ आयोजन


jhabua news
झाबुआ। आज हम सभी को आत्मनिर्भर होना अत्यंत आवष्यक है। आत्मनिर्भरता के लिए अपनी इच्छाषक्ति का प्रबल होना एवं दृढ़ संकल्प के साथ पुरूषार्थ करना पड़ेगा, तभी हम सभी में आत्मविष्वास जागृत होगा। आत्मविष्वास जागृत होने पर हम आत्मनिर्भर होने के साथ सफलतापूर्वक हमारे ध्येय को प्राप्त कर सकेंगे। उक्त प्रेरणादाय उद्बोधन विष्व विकलांग दिवस के अवसर पर पेरेंटेस फाॅर डिस एबिलिटिज पर्सनस वेलफेयर सोसायटी एव आजाद विकलांग कल्याण समिति जिला झाबुआ द्वारा वनेष्वर हनुमान मंदिर ग्राम फुटतालाब में आयोजित खेलकूद एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम के पुरस्कार वितरण एवं समापन समारोह के अवसर पर व्यक्त किए। श्री भंडारी ने आगे कहा कि आज से कई वर्ष पूर्व दिव्यांगजनांे को समाज में बहुत ही हेय एवं हीन दृष्टि से देखा जाता था, जिससे उनके आत्म सम्मान को चोट पहुंचती है, परन्तु धीरे-धीरे विष्व समुदायों द्वारा दिव्यांगजनों के प्रति सम्मान एवं आदर के भाव के लिए प्रयास किए गए। जिसका सुपरिणाम यह है कि आज दिव्यांगजनांे को बहुत ही सम्मान के साथ कार्य करने का एवं जीवन व्यतीत करने का अवसर प्राप्त हो रहा है। देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिव्यांगजनों के हितों की रक्षा के लिए एवं उनके विकास के लिए कई सराहनीय कदम उठाए है। जिससे आज हम आत्मनिर्भरता की ओर आगे बढ़ रहे है।

समस्याआंे और कठिनाईयों से अवगत करवाया

इस अवसर पर सक्षम संस्था के प्रांतीय उपाध्यक्ष एवं जिला प्रभारी नीरज श्रीवास्तव ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि जिला पेरेंट्स सोसायटी एवं आजाद विकलांग कल्याण समिति इस जिले के दिव्यांगजनों के लिए बहुत ही सराहनीय कार्य कर रहीं है। जिससे जिले के दिव्यांगजनों में एक नया आत्मविष्वास आया है। आजाद विकलांग कल्याण समिति के अध्यक्ष कमलेष राठौर ने संस्था द्वारा किए जा रहे कार्यों एवं उसमें आ रहीं समस्याओं तथा कठिनाईयों से अतिथियों को अवगत करवाया।

कोरोना यौद्धा एवं प्रतिभाषाली कलाकार का किया सम्मान

पुरस्कार वितरण समारोह के अवसर पर कोरोनाकाल में अपने द्वारा हजारों की संख्या में मास्क बनाकर निःषुल्क वितरित करने वाले दिव्यांग भाई दीपसिंह का स्वागत कर उन्हें सम्मानित किया। साथ ही रंगपुरा की प्रतिभावान कलाकार पांगली बहन, जिन्हांेने हस्तकला के क्षेत्र में सराहनीय कार्य करते हुए मुंबई, नई दिल्ली, भोपाल आदि बड़े शहरांे में अपने हाथों से बनी हुई गुड़िया एवं गलसन की मालाओं का प्रदर्षन कर ख्याति अर्जित की, उन्हें भी इस दौरान सम्मानित किया गया।

खेलकूद एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का हुआ आयोजन

पुरस्कार वितरण समारोह से पूर्व मंदिर परिसर मंें दिव्यांगजनांे के लिए विभिन्न वर्गों की खेलकूद प्रतियोगिता चेयर रेस, बैसाखी रेस, गोला रेस आदि का आयोजन हुआ। जिसमें दिव्यांगजनों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। साथ ही चित्रकला प्रतियोगिता एवं गीत, भजन आदि प्रतियोगिताओ में दिव्यांगजनों ने बड़ी संख्या में हिस्सा लेकर अपने हुनर को प्रस्तुत किया। पेंरेंट्स वेलफेयर सोसायटी की ओर से सभी विजेताओं एवं भाग लेने वाले प्रतिभागियों को पुरस्कार प्रदान किए गए।

50 से अधिक दिव्यांगजनांे की रहीं उपस्थिति

कार्यक्रम का संचालन आजाद विकलांग कल्याण समिति के मनोज वसुनिया ने किया एवं आभार भावचंद भाई ने माना। इस अवसर पर मानव अधिकार आयोग से सुचित्रा, आजाद विकलांग कल्याण समिति से योगेष राठौर सहित 50 से अधिक दिव्यांगजनांे की उपस्थिति रहीं। कार्यक्रम पश्चात् सभी को आयोजक संस्थाओं की ओर से स्नेह भोज भी करवाया गया।


प्रत्येक गरीब को स्वास्थ्य लाभ देना हमारा लक्ष्य - श्री डामोर


झाबुआ। जिला प्रशासन की पहल पर मिशन चिरंजीवी अंतर्गत गांव-गंाव शिविर लगाकर आयुष्मान कार्ड बनाए जा रहे हैं। इसी अवसर पर ग्राम पंचायत छापरखण्डा विकास खण्ड रानापुर में आयुष्मान भारत योजना अंतर्गत आयुष्मान कार्ड बनाने की पुरी प्रक्रिया सांसद श्री गुमानसिंह डामोर एवं  भाजपा जिला अध्यक्ष श्री लक्ष्मणसिंह नायक द्वारा समझी गई। इस अवसर पर सांसद श्री डामोर ने बताया कि प्रत्येक गरीब को स्वास्थ्य लाभ मिले इसके लिए प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा आयुष्मान भारत योजना का शुभारम्भ किया गया है। ताकि गरीब लोगों को मुफ्त में स्वास्थ्य सुविधा मिल सके। जिला प्रशासन की इस अभिनव पहल की श्री डामोर द्वारा सहराहना की गई। श्री लक्ष्मणसिंह नायक के द्वारा संबोधित करते हुए बताया गया है कि प्रत्येक व्यक्ति को स्वास्थ्य, शिक्षा, घर एवं भोजन मिले यह हमारी पहली प्राथमिकता है। इस अवसर पर श्री अजय डामोर, श्री भवरसिंह बिलवाल, पूर्व मण्डी अध्यक्ष श्री ज्ञानसिंह मोरी, जनपद सदस्य श्री अंतरसिंह बघेल, सरपंच श्रीकालुसिंह बिलवाल, अनुविभागीय अधिकारी श्री एम.एल.मालवीय, डिप्टी कलैक्टर सुश्री ज्योति परस्ते, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. जयपाल सिंह ठाकुर, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत श्रीजोशुआ पीटर, बीएमओ डाॅ. जी.एस.चैहान, डीपीएमश्री आर आर खन्ना उपस्थित थे।


फिटनेस का डोज-आधा घंटा रोज के अन्तर्गत फिट इण्डिया प्रभात फेरी का आयोजन


jhabua news
झाबुआ। शारीरिक गतिविधि, खेलकूद को नागरिकों के दैनिक जीवन का एक अंग बनाने के लिए एवं सभी नागरिकों में स्वयं के स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता लाने के उद्देश्य से भारत सरकार के फिट इण्डिया कैम्पेनिंग दिसम्बर 2020 फिटनेस का डोज-आधा घंटा रोज के अन्तर्गत फिट इण्डिया प्रभात फेरी का आयोजन खेल और युवा कल्याण विभाग झाबुआ द्वारा शुक्रवार को कलेक्टर श्री रोहित सिंह एवं पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता के मार्गदर्शन में किया गया। प्रभात फेरी का शुभारंभ मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री आनंद वास्कले के द्वारा बस स्टैण्ड झाबुआ से हरी झंडी दिखा कर किया गया। जिला खेल अधिकारी श्री विजय सलाम के निर्देशन में बस स्टेन्ड से थांदला गेट होते हुए राजवाडा से बुनियादी स्कूल, से उत्कृष्ट विद्यालय के खेल मैदान पर सम्पन्न हुई। प्रभात फेरी मे शहर के सभी खेलो के खेल संघ एवं सामाजिक संघ के खिलाडी गणमान्य नागरिको एवं शासकीय अधिकारियों, कर्मचारियों ने भाग लेकर खुद के लिए आधा घंटा रोज व्यायाम करने और फिट रहने का संदेश आमजन को दिया एवं आम जन को स्वयं के फिटनेस के लिए जागरूक किया। प्रभात फेरी को सफल बनाने में जिला समन्वयक, नायब तहसीलदार श्री हर्षल बोहरानी, नेहरू युवा केन्द्र प्रीती, प्राचार्य उत्कृष्ट विद्यालय आयशा कुरैशी, आदिवासी विकास विभाग के क्रीडाधिकारी श्री कुलदीप धाबाई, व्यायाम निदेशक श्री योगेश गुप्ता, व्यायाम निदेशक श्री नरेश राज पुरोहित, व्यायाम निदेशक श्री मनोज पाठक, श्री सुरेन्द्र बारिया, श्री जमील पठान, श्री रामसिंह मोहनिया, खेल प्रशिक्षक श्री अवलोक शर्मा, श्री जयन्तीलाल परमार, श्री जेवेन्द्र बोराडे, सुश्री शिफाली मसीह, युवा समन्वयक श्री नितीन डामर, सुश्री प्रिया हटिला, विजय गामड, फुलसिंह मुजाल्दे का सहयोग रहा।


वनवासी सषक्तिकरण केंद्र बड़ा घोसल्या मंे मोबाईल रिपेयरिंग का प्रषिक्षण 4 से 10 दिसंबर तक, विद्यार्थियों को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयास 

झाबुआ। वनवासी सशक्तिकरण केंद्र (सेवा भारती केंद्र) ग्राम बड़ा घोसल्या विकासखंड मेघनगर में सात दिवसीय मोबाइल रिपेयरिंग प्रशिक्षण वर्ग आगामी 4 से 10 दिसंबर तक आयोजित किया जाएगा। जिसमें कक्षा 10वीं एवं 12वीं पास विद्यार्थी सम्मिलित होकर प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते है। समय सुबह 10 से शाम 4 बजे तक रहेगा। कार्यक्रम का उद्देष्य प्रषिक्षणार्थियों को प्रषिक्षण के माध्यम से रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाकर उन्हंें आत्मनिर्भर बनाना है। प्रषिक्षण में भाग लेने एवं अधिक जानकारी के लिए वनवासी सषक्तिकरण केंद्र के रामसिंह निनामा (प्रकल्प प्रमुख) से मोबाईल नंबर 96308-95363 एवं पियूष साहू (संयोजक) से मोबाईल नंबर 87700-15158 पर संपर्क किया जा सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं: