सेना के 150 जवान कोविड-19 से संक्रमित पाए गए - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 26 दिसंबर 2020

सेना के 150 जवान कोविड-19 से संक्रमित पाए गए

150-jawans-covid-posetive
नयी दिल्ली, 26 दिसंबर, गणतंत्र दिवस और सेना दिवस परेड में भाग लेने के लिए पिछले कुछ हफ्तों में विभिन्न स्थानों से राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे लगभग 150 सैन्यकर्मी कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि दोनों परेड में भाग लेने वाले सभी कर्मियों को कोविड-19 संक्रमण से बचाने के लिए तैयार किए गए एक सख्त प्रोटोकॉल के तहत अनिवार्य कोविड-19 परीक्षण के दौरान उनमें संक्रमण का पता चला । सूत्रों ने कहा कि नवंबर के अंत से ही 2,000 से अधिक सैन्यकर्मी परिवहन के विभिन्न साधनों का उपयोग करते हुए गणतंत्र दिवस और सेना दिवस परेड के लिए दिल्ली पहुंचे हैं और उन सभी को "सुरक्षित वर्ग" में डालने से पहले कोविड-19 जांच करानी पड़ी। उन्होंने कहा कि जिन लोगों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आयी है उन्हें "सुरक्षित वर्ग" में रखा जा रहा है । यह वर्ग उन सभी कर्मियों को समायोजित करने के लिए बनाया गया है जो परेड की टुकड़ियों का हिस्सा होंगे। सूत्रों ने कहा कि संक्रमित पाए गए 150 जवानों में संक्रमण के कोई लक्षण नहीं हैं और ठीक होने के बाद सुरक्षित वर्ग में शामिल हो सकते हैं। नाम न छापने की शर्त पर एक अधिकारी ने कहा,"हम गणतंत्र दिवस और सेना दिवस परेड के प्रतिभागियों के लिए एक बहुत ही सख्त कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं। महामारी को देखते हुए जवानों की सुरक्षा के लिए बड़ी रणनीति के रूप में सुरक्षित वर्ग स्थापित किया गया है।” सेना ने लद्दाख में और नियंत्रण रेखा के साथ-साथ कुछ संरचनाओं में भी "सुरक्षित वर्ग" स्थापित किए गए हैं। सूत्रों ने कहा कि जो सैनिक संक्रमित पाए गए हैं उन्हें पृथकवास और चिकित्सकों की निगरानी में रखा गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: