बिहार : प्रभु येसु ख्रीस्त के जन्मोत्सव पर चर्चों में विशेष प्रकार की झांकिंया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 26 दिसंबर 2020

बिहार : प्रभु येसु ख्रीस्त के जन्मोत्सव पर चर्चों में विशेष प्रकार की झांकिंया

celebrate-christmus-bihar
पटना. आज संसारभर में बालक के रूप में अवतरित प्रभु येसु ख्रीस्त का जन्मदिन क्रिसमस मनाया गया.  भारत समेत दुनियाभर में कोरोना गाइडलाइंस के साथ क्रिसमस मनाया गया. हालांकि महामारी के प्रकोप के बीच श्रद्धालुओं का उत्साह बना रहा और चर्च के बाहर बड़ी संख्या में लोग एकत्र हुए और क्रिसमस का पर्व हर्ष और उल्लास के साथ मनाया.  प्रभु येसु ख्रीस्त के जन्मोत्सव को भव्य बनाने के लिए चर्चों में विशेष प्रकार की झांकिंया सजाई गई हैं साथ ही घरों और चर्चों को आकर्षक बनाने के लिए सजावटी लाइटों का भी खूब इस्तेमाल किया जा रहा है.इस खुशी में लोग अपने बच्चों को सेंटा क्लॉज के कपड़े पहना कर सजा रहे हैं और उनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर कर रहे हैं. कोरोना महामारी के चलते एहतियाती कदम उठाया गया. राजधानी पटना में स्थित प्रेरितों की रानी ईश मंदिर,कुर्जी के मुख्य द्वार पुलिस व स्वयंसेवकों के द्वारा चर्च के मुख्य द्वार पर मास्क न पहनने वालों को मास्क खरीदकर मास्क पहनकर अंदर जाने दिया जा रहा था.दूसरे द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग मशीन के द्वारा जांच की जा रही थी.सामान्य परिणाम आने के बाद ही चर्च परिसर में जाने दिया गया.तीसरे द्वार पर जूता-चप्पल पहने वालों को जूता -चप्पल उतारकर ही चर्च के अंदर जाकर मिस्सा पूजा में भाग लेने दिया गया.चर्च के अंदर सामाजिक दूरी बनाने के लिए कुर्सियों को कतारबद्ध रखा गया था.


प्रेरितों की रानी ईश मंदिर में क्रिसमस त्योहार की पूर्व संध्या पर  24 दिसंबर को दो मिस्सा आयोजित की गयी.पहला मिस्सा शाम छह बजे से किया गया. प्रेरितों की रानी ईश मंदिर के सहायक पल्ली पुरोहित जुनास कुजूर मिस्सा अर्पित किये.चर्च के अंदर निर्मित गौशाला में बालक येसु की मूर्ति को ससम्मान रखा.इस अवसर पर बालूपर, शिवाजी नगर, गंगा विहार काॅलाेनी के श्रद्धालु भाग लिए.कोरोना महामारी के कारण मुहल्लों को विभक्त कर दिया गया. यहां पर दूसरा त्योहारी मिस्सा शाम आठ बजे से किया गया.इस मिस्सा में कुर्जी क्रिश्चियन काॅलोनी, मगध काॅलाेनी, आर.बी. आई. बैंक काॅलाेनी, विकास नगर व काेठिया के भक्तगण शामिल हुए. पवित्र मिस्सा अर्पित पटना महाधर्मप्रांत के निवर्तमान महामहिम आर्चबिशप विलियम डिसूआ ने अर्पित किया.विश्व में शांति,सद्भावना,कोरोना पीड़ितों,कोरोना से प्राण त्यागने वालों के लिये दुआ की गयी. क्रिसमस यानी बड़ा दिन के अवसर पर 25 दिसंबर को पहला मिस्सा सुबह सात बजे से हुआ. फादर जोशी मथियस ने मिस्सा किया. इस मिस्सा में फेयर फील्ड कॉलोनी, बाँसकाेठी, मखदुमपुर, हमीदपुर, संत माइकल कॉलोनी व बुजुर्ग दीघा के लोग शामिल हुए. दूसरा मिस्सा सुबह साढ़े आठ बजे से हुआ.फादर राजेश ने मिस्सा अर्पित किये. इसमें पल्ली के बीमार और बुजुर्गों लोगों काे प्राथमिकता देते हुए और छुटे हुए लोगाें के लिए मिस्सा किया गया. कोरोना वायरस के मद्देनजर 25 दिसंबर काे सुबह वाले मिस्सा के तुरंत बाद ही गिरजाघर के परिसर का मुख्य द्वार बंद कर दिया गया और दर्शनाभिलाषियाें के लिए नहीं खोला गया.प्रवेश से वंचित लोग अंदर जाने को बेताब दिखे.वैश्विक कोरोना के कारण चर्च को बंद कर दिया गया.प्रेरितों की रानी ईश मंदिर कुर्जी  के अंदर मां मरियम के ग्रोटों के सामने मोमबत्ती जलाने की चाहत रखने वाले निराश होकर घर चले गये.हालांकि मुख्य द्वार पर ही बैनर लगाकर आम और खास लोगों को सूचित कर दिया गया था.


येसु समाजी पुरोहित हैं फादर स्टेन स्वामी.वयोवृद्ध फादर स्टेन 79 दिनों से तलोजा जेल में हैं.बुजुर्ग पुरोहित को अर्बन नक्सलाइट घोषित कर सलाखों के पीछे कर दिया गया.कसूर है कि केंद्र और राज्य सरकारों की योजनाओं को बेहतर ढंग से क्रियान्वित करने का प्रयास करना.जेल में बंद बंदियों को न्याय दिलवाना.ईसाई समुदाय के दो महत्वपूर्ण पर्व क्रिसमस और गुडफ्राइडे है.इस पावन पर्व के अवसर फादर स्वामी जेल में है.25 दिसम्बर को प्रभु येसु ख्रीस्त का अवतरण का पर्व क्रिसमस है.हैप्पी क्रिसमस टू यू फादर स्टेन स्वामी.व्ही आर विथ यू. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट कर दी है क्रिसमस की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं! यह पर्व राज्यवासियों में प्रेम सद्भाव के साथ- साथ सुख शांति एवं समृद्धि लेकर आएगा.कोरोना काल में प्रत्येक व्यक्ति का सचेत रहना नितांत आवश्यक है।मास्क का प्रयोग एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन जरूर करें. उदय नारायण चौधरी, पूर्व अध्यक्ष, बिहार विधान सभा ने कहा कि आज बहुत ही पवित्र दिन है, पूरे संसार में उत्साह और उल्लास का  माहौल है, चूंकि आज ही के दिन प्रभु यीशु का जन्म हुआ था.हम सब लोग खुशी मना रहे हैं.प्रभु ,   करुणा, क्षमा, बलिदान  और  प्यार के   प्रतीक  प्रमाणित हुए, दूसरी ओर हमारे देश में , कोरोना महामारी और किसानों का आंदोलन है, इसी वातावरण में हम सब लोग त्योहार मना रहे हैं( "आप सबों को क्रिसमस के अवसर पर बहुत-बहुत बधाई है") . विधि के विधान के रचयिता की लीला दिखी.सारे लोग क्रिसमस के मूड में थे.एक परिवार के मुखिया जोसेफ अब्राहम का निधन हो गया. वे 71 साल के थे.बताया गया कि राजधानी पटना के बालूपर दीघा में रहने वाले जोसेफ अब्राहम कैंसर रोग से पीड़ित थे.कल 24 दिसम्बर को निधन हो गया था.आज 11:00 बजे वयोवृद्ध मृतक जोसेफ अब्राहम के पार्थिव शरीर के साथ फादर पीयूष ओस्ता ने मिस्सा अर्पित किया.इसके बाद कुर्जी कब्रिस्तान में दफन कर दिया गया. वहीं मेडिकल मिशन सिस्टर Lucia  Edapazham की आज 25 वीं पुण्यतिथि है.कुर्जी होली फैमिली हॉस्पिटल की पूर्व सहायक प्रशासिका थीं.

कोई टिप्पणी नहीं: