बेगूसराय : जोश-ओ-खरोश के साथ मनाई गई बाबा साहेब की स्मृति दिवस - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 6 दिसंबर 2020

बेगूसराय : जोश-ओ-खरोश के साथ मनाई गई बाबा साहेब की स्मृति दिवस

ambedkar-anniversiry-begusaray
अरुण कुमार ( बेगूसराय ) आज 6 दिसंबर 2020 को बाबा भीमराव अंबेडकर की पुण्यतिथि मनाई गई। कार्यक्रम शहीद सुखदेव सिंह समन्वय समिति द्वारा भीमराव अंबेडकर के आदमकद प्रतिमा पर माल्यार्पण कर अंबेडकर चौक पर मनाई गई।इस कार्यक्रम की अध्यक्षता शिक्षक नेता अमरेंद्र कुमार सिंह ने की। माल्यार्पण करने वाले में सीताराम शास्त्री ,आर्य समाज के प्रदेश महासचिव शिक्षक नेता अमरेंद्र कुमार सिंह शहीद सुखदेव सिंह समन्वय समिति ,प्रिंस कुमार, नवजीत कुमार ,विपिन कुमार, गौतम कुमार, बादल कुमार ,सोनू कुमार ,नवल किशोर ,चंद्रवंशी नगर अध्यक्ष, जदयू तकनीकी प्रकोष्ठ खासकर अभिनेता अमिया कश्यप ने कहा कि बाबा भीमराव अंबेडकर ऐसा ठोस संविधान बनाकर गरीबों को रास्ता दिखाया ऊसपर चलने का मार्गदर्शन करवाया।उपेंद्र पासवान ने कहा कि बाबा भीमराव अंबेडकर जात-पात से ऊपर उठकर संविधान को सही ढंग से लागू किया । इस अवसर पर विपिन पासवान पूर्व वार्ड कमिश्नर ने कहा कि बाबा साहेब के रास्ते पर चलकर ही सही न्याय मिल सकती है। इस अवसर पर शिक्षक नेता अमरेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि बाबा भीमराव अंबेडकर विषमताओं और शोषण के विरुद्ध उन्होंने मशाल जलाई है उस मशाल की रोशनी को हम क्षीण नहीं होने देंगे।इसका संकल्प इस अवसर पर लिया गया। श्री सिंह ने कहा कि बाबा भीमराव अंबेडकर का पूरा नाम भीमराव रामजी अंबेडकर जिनको लोग प्यार से बाबा साहब कहते हैं। इनका जन्म 14 अप्रैल 1898 और मृत्यु आज के ही दिन 1956 को हुआ था। आज उनके 64वें स्मृति दिवस पर कार्यक्रम किया जा रहा है।इसके साथ ही शहीद सुखदेव सिंह समन्वय समिति सर्वोदय नगर सुखदेव सभागार में भी बाबा भीमराव अंबेडकर की 64 वी स्मृति दिवस मनाई गई जिसकी अध्यक्षता महिला सेल के सचिव सुनीता देवी ने की।इस अवसर पर छात्रा आसमा कुमारी ने कहा कि बाबा भीमराव अंबेडकर ने जो कानून बनाए , अगर उसका सही ढंग से पालन होता तो हमारे देश में इस तरह से अत्याचार और भ्रष्टाचार नहीं होता। इस अवसर पर शहीद सुखदेव सिंह समन्वय समिति के सचिव अमरेंद्र कुमार सिंह, राजेंद्र महतो, कन्याकुमारी, अभिषेक पाठक, अनिकेत पाठक, ज्ञान चंद पाठक, डॉक्टर शैलेंद्र कुमार सिंह, अनेकों ने उनके तैल चित्र पर माल्यार्पण की।

कोई टिप्पणी नहीं: