झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 01 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 2 दिसंबर 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 01 दिसंबर

राजपूत समाज के मंगल भवन का वास्तु पूजन हुआ, शोभायात्रा निकाली गई ग्राम खरडूबड़ी में तीन दिवसीय महोत्सव का हुआ समापन


jhabua news
झाबुआ। समीपस्थ ग्राम खरडूबड़ी में राजपूत समाज के मंगल भवन का वास्तु पूजन महोत्सव मनाया गया। तीन दिवसीय कार्यक्रम के अंतिम दिन 30 नवंबर, सोमवार को कलश यात्रा निकाली गई। आयोजन के मुख्य अतिथि कल्लाजी धाम झाबुआ के गादिपति श्रीश्री संतोषसिंह गहलोत थे। क्षत्रिय राजपूत समाज खरडूबड़ी के अध्यक्ष राजेन्द्रसिंह गौड़ ने बताया महोत्सव की शुरुआत 28 नवंबर को अमृतवाणी पाठ के साथ हुई। 29 वंबर को हिमाद्रि कृत प्रायश्चित संकल्प दसविधि स्नान का आयोजन किया गया। इसके अलावा हवन, अग्नि स्थापना सहित दुर्गा सप्तशति पाठ प्रातः 8 से शाम 5 बजे तक किए गए। रात 8 बजे भगवान श्री सत्यनारायणजी की कथा हुई।

महाआरती के साथ हुआ समापन

महोत्सव के अंतिम दिन 30 नवंबर, सोमवार को कलश यात्रा निकाली गई। जिसमें गादिपति श्रीश्री संतोषसिंह गेहलोत ने सानिध्य प्रदान किया। वीर शिरोमणि महाराणा प्रतापजी की मूर्ति स्थापना मदनसिंह गौर की स्मृति में स्थापित की गई। दोपहर 12.30 बजे महाआरती के साथ आयोजन की पूर्णाहुति हुई।


युवा रोबोटिक इंजिनियर पवनेन्द्र सिसौदिया स्वदेषी अपनाओ-विदेषी भगाओं की तर्ज पर झाबुआ में निर्मित कर रहे उच्च तकनीक की आॅटोमेटिक मषीन, देष को आत्मनिर्भर बनाने की दिषा में कर रहे महत्वपूर्ण कार्य, जाने उनके कार्यों को इस खबर में .... !


jhabua news
झाबुआ। देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से प्रेरणा लेकर भारत को तकनीकी रूप से आत्मनिर्भर बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका का निवर्हन झाबुआ जिले के युवा रोबोटिक इंजीनियर पवनेन्द्रसिंह सिसौदिया कर रहे है। युवा श्री सिसौदिया पूरे मेहनत से कोरोनाकाल के प्रारंभ से ही चायना से आयातित मशीनों के आयात को कम करने एवं भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए उच्च गुणवत्ता एवं माईक्रो कंट्रोलर कोडिंग से भारतीय मशीनों के निर्माण का कार्य कर रहे है। इंजिनियर श्री सिसौदिया द्वारा चायना से 1,50,000 से अधिक में मिलने वाली मशीन का भारतीय संस्करण में स्वदेषी सामानों का उपयोग कर मात्र 15,000 में बनाकर दिया जा रहा है। जिसे देशभर में काफी सराहा जा रहा है। जिसमें मुख्य रूप से वह स्वचलित तरल बोतल, पाउच भरने की मशीन आदि बना रहे है। इस मशीन से किसी भी प्रकार का तरल पदार्थ किसी फिक्स मात्रा में बार-बार भरना है तो इस मशीन से भरी जा सकती है। जैसे अगर तेल की 100 ग्राम की बोतल भरनी है तो 1 बार मशीन में 100 अंक दबाकर अर्थात सेट करने के बाद फिर आप चाहे 1000 बोतल भर ले, सभी बोतल 100 ग्राम मात्रा में ही भरेंगी।

समय की बचत के साथ कीमत भी कम

रोबोटिक युवा इंजिनियर श्री सिसौदिया ने बताया कि मषीन से एक बोतल भरने में समय मात्र 2 सेकंड लगता है, अगर यह काम बिना मशीन के किया जाए तो करीब 20 से 30 सेकंड का समय आसानी से लग जाता है। मषीन की कीमत सस्ती होने एवं भारत में निर्मित सेवाएं आसानी से उपलब्ध होने के कारण छोटे व्यवसायी भी इन मषीनांे को आसानी से खरीद सकते हे। इस मशीन का उपयोग आॅयल, दूध, शहद, गोंद, टॉयलेट क्लीनर, तव, वाटर बोतल, डिसटिल वाटर बोतल, कूलेंट बोतल भरने मे भीं किया जा सकता है।

हनुमान टेकरी पर स्वयं जिला न्यायाधीष ने अवलोकन कर प्रसन्नता जाहिर की

इंजिनियर श्री सिसौदिया ने इस प्रकार की पानी भरने की मशीन विगत दिनांे हनुमान टेकरी पर आयोजित दीपावली मिलन समारोह अवसर पर भी मंदिर परिसर में लगाई। यहां इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित हुए जिला न्यायाधीष श्री राजेषकुमार गुप्ता के साथ अन्य न्यायाषीगणों ने इस मषीन का अवलोकन कर एवं प्रयोग कर पानी के सद्पयोग एवं बेषकिमती अमूल्य पानी की बचत में कारगर इस मषीन के साथ बनाने वाले पवनेन्द्रसिंह सिसौदिया के उक्त कार्य की भी सराहना की।

समिति के सदस्यांे ने भी सराहना की, पानी की बचत के लिए उपयोगी मषीन

साथ ही श्री संकट मोचन हनुमान मंदिर सेवा समिति के पदाधिकारी-सदस्यों ने भी भोजन के बाद इस मषीन से बिना हाथ लगाए पानी के गिलास भरने के लिए उपयोग किया एवं यह पाया कि हम एक ओर जहां वाटर केन से नल चालू कर ग्लास और लोटे में पानी भरते है, तो ग्लास या लोटा फूल भर जाने के बाद भी काफी पानी बह जाता है और हमारी प्यास केवल एक ग्लास जितनी होने से एक्सट्रा पानी को हम व्यथ्र ढोल देते है, लेकिन इस मषीन से सीमीत मात्रा में पानी आने से काफी हद तक पानी एवं समय की भी बचत होती है।

रोबोटिक, कोडिंग, आॅटोमेषन की ट्रेनिंग भी दे रहे

इंजिनियर श्री सिसौदिया ने बताया कि इस मषीन को इस तरह से प्रोग्राम किया गया था कि 1 बार मे मात्रा 200 मिली या 1 गिलास पानी ही आए, जिससे पानी 30 प्रतिशत ही खर्च हुआ और किसी प्रकार का पानी का दुरूपयोग भी नही हुआ एवं कोरोना काल मे बिना किसी के हाथ लगाए अपने आप पानी का गिलास भर गया। मषीन पर किसी कर्मचारी के खड़े रहने की भी जरूरत नहीं है। मषीन के नीचे ग्लास या लोटा रखने की आॅटोमेटिक पानी भर जाता है। साथ ही श्री सिसौदिया झाबुआ में रोबोटिक, कोडिंग, ऑटोमेशन की ट्रेनिंग भी दे रहे है। जिससे उच्च स्तर की मेट्रो सिटी में मिलने वाली शिक्षा के लिए बाहर नही जाना पड़े।

मप्र के साथ अन्य राज्यों में भी डिमांड

पवनेन्द्र के अनुसार ये मशीने गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान, बंगाल सहित कई प्रदेशों में जा रही हैं। ऐसी ओर कई मशीनों और सेंसर पर वह लगातार काम कर रहे है। जिससे लोगों को चायना और विदेषों से निर्मित होकर आने वाली मषीने नहीं खरीदते हुए भारत में निर्मित मशीन कम कीमत में मिल सके। इस तरह से वह अतिरिक्त पैसा, समय, लेबर आदि की बचत करते हुए लगातार नई-नई तकनीकों की मषीन का निर्माण कर रहे है।


अभाविप ने गुरूनानक देव की 551वीं जयंती के उपलक्ष में भेंट किए तुलसी के पौधे, गुरूनानक देवजी का संदेष जन-जन तक पहुंचाने के प्रयास


jhabua news
झाबुआ। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् ने गुरूनानक देवजी की जयंती (प्रकाश पर्व) के उपलक्ष में 30 नवंबर, सोमवार को शहर के कई प्रतिष्ठितजनों, समाजसेवियों तथा प्रशासनिक अधिकारियांे को तुलसी के पौधे भेंट किए। इसके माध्यम से अभाविप द्वारा गुरूनानक देवजी के नेकी और पुण्य करने के संदेश को जन-जन तक पहुंचाने का प्रयास किया गया। अभाविप ने सेनेटाईजर की खाली बोतलों को काटकर उन पर रंग लगाकर उनमें तुलसी के पौधे लगाए एवं उन्हें वितरित किया। एबीवीपी एक ऐसा छात्र संगठन है, जो विद्यार्थियों के हितों में कार्य करने के साथ-साथ समाजहित में भी कार्य करता रहता है। समाज के बीच में पर्यावरण का संदेश पहुंचाने हेतु गुरूनानक जयंती के पुनित अवसर पर अभाविप की झाबुआ इकाई की अध्यक्ष डॉ. कंचन चैहान के मार्गदर्षन में नगर मंत्री दर्शन कहार, अभिषेक सोलंकी, दिव्यांश खपेड, हर्षित सिसोदिया, वैभव जेन आदि ने ंजिला पुलिस अधीक्षक आषुतोष गुप्ता, थाना प्रभारी झाबुआ सुरेन्द्रसिंह गाडरिया, उत्कृष्ट उमा विद्यालय प्राचार्या श्रीमती आयषा कुरैषी, वरिष्ठ समाजसेवी एवं वरिष्ठ रोटेरियन यशवंत भंडारी, षिक्षा जगत से जुडे वरिष्ठ ओम शर्मा के साथ आरएसएस नगर संघचालक, वनवासी कल्याण परिषद, संघ कार्यालय, शिवगंगा कार्यालय, आदि स्थानों पर पहुंचकर तुलसी के पौधे प्रदान किए। साथ ही इस दौरान सभी को गुरूनानक जयंती की शुभकामनाएं भी प्रेषित की।


अपना चातुर्मास कल्प पूरा कर प्रवर्तक श्रीजिनेन्द्रमुनिजी का विहार कल्याणपुरा कि ओर

  • साध्वी रत्ना मुक्तिप्रभाजी का विहार पेटलावद व पूण्यशीलाजी का कल्याणपुरा कि ओर विहार

jhabua news
थांदला। पावन नदी सा जिनका जीवन,चले विहंगम चाल रे।जहाँ - जहाँ पर कदम धरें ये,करते सबको निहाल रे।। मर्यादिय सन्त जीवन में चातुर्मास कल्प के बाद निश्चय विहार का विधान है। कहा भी जाता है कि साधु का जीवन पावन सरिता के समान होता है जो जिधर से भी गुजरती है उधर हरियाली छा जाती है ऐसे ही सन्त विचरण से संघ समाज में संस्कारों की जागृति आना स्वाभाविक ही है। पूज्य श्रीधर्मदासजी सम्प्रदाय के प्रवर्तक व जिनशासन गौरव जैनाचार्य पूज्य श्रीउमेशमुनिजी ष्अणुष् के प्रथम शिष्य पूज्य श्रीजिनेन्द्रमुनिजी, अभूयमुनिजी, गिरिशमुनिजी, शुभेषमुनिजी आदि ठाणा - 4 का विहार आज थांदला से कल्याणपुरा कि ओर हो गया। जानकारी देते हुए संघ प्रवक्ता पवन नाहर ने बताया कि अधिमास के कारण पाँच माह थांदला में धर्म प्रभावना कर पूज्यश्री के प्रथम विहार में थांदला नगर के बच्चे, बड़े, वयोवृद्ध श्रावक-श्राविकाओं आदि सकल जैन संघ ने नम आँखों से भावभीनी विदाई दी। इस अवसर पर प्रवर्तक श्री ने सभी को धर्म सन्देश देते हुए निरन्तर आत्मिक आराधना व पाक्षिक पक्खी पर्व पर उपवास करने की प्रेरणा दी। इस दौरान चुतरविद संघ ने चातुर्मास काल मे हुई अविनय अशातना के लिए आपस मे क्षमायाचना की। शासनपति महावीरस्वामी आदि तीर्थंकरों व महामपुरुषों के गगनभेदी जय घोष के साथ ललित जैन नवयुवक मंडल, बाल मण्डल, धर्मलता महिला मण्डल, चन्दना श्राविका मण्डल, आईजा परिवार के सदस्यों ने गुरु भगवंत के साथ पैदल विहार करते हुए थांदला रोड़ नवीन स्थानक पर पधारें जहाँ प्रथम प्रवेश पर नवकार मन्त्र स्मरण के बाद पूज्यश्री ने सभी उपस्थित परिषद को मांगलिक श्रवण करवाई ततपश्चात गुरुभगवन्त का विहार अगराल कि ओर हो गया जहाँ अगराल व मेघनगर संघ ने गुरुभगवन्त का भव्य मंगल प्रवेश करवाया। प्रवर्तक देव आदि सन्तमण्डल कुछ समय विश्राम कर कल्याणपुरा कि ओर विहार करेंगे उनका कल्याणपुरा में कल प्रातः मंगल प्रवेश सम्भावित है। बामनिया विराजित विदुषी महासती श्रीमुक्तिप्रभाजी आदि ठाणा - 5 का विहार दोपहर 3 बजे रामपुरिया होगा जहाँ से प्रातः पेटलावद नगर में मंगल पदार्पण होगा। इसी तरह मेघनगर में विराजित पुण्य पुंज साध्वी श्रीपुण्यशीलाजी आदि ठाणा - 5 का विहार भगौर कि ओर हो गया है जहाँ से आपका प्रातः कल्याणपुरा में मंगल प्रवेश की संभावना है। 


विश्व एडस दिवस पर जगारुकता रथ को दिखाई हरी झंडी


jhabua news
झाबुआ ।  विश्व एडस दिवस पर जिला चिकित्सालय झाबुआमें एडस जागरूगता रथ को मुख्य चिकित्साल एवं स्वास्थ्य अधिकारी श्रीजयपाल सिह ठाकुर द्वार हरी झंडी दिखाकर रथ को रवाना किया गयाइसके पश्चात एचआईवी एडस कार्याशाला का आयोजन किया गया जिसमेंमुख्य अतिथि डा0 सावन सिंह चैहान एवं डा0 जितेन्द्र बामनिया द्वाराएचआईवी एडस टीबी एवं कोरोना संबंधित बीमारी की बचाव एवं सुरक्षासंबंधित जानकारी प्रदान की गई कार्यक्रम में डाॅ. बी0एस0 बद्येल, डा.सावन सिंह चैहान, डा. जितेन्द्र बामनिया और वाजीद कुरैशी हिरालाल मण्डलोई एवं एन0टी0ई0पी0 तथा टी0आई0 स्टाफ उपस्थित हुए।


मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत शतप्रतिशत पात्र किसानों का सत्यापन किया जावे - श्रीसिंह


jhabua news
झाबुआ, एक दिसम्बर 2020। जिले में मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के अंतर्गत किसानों के सत्यापन का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जावे तथा पात्र सभी किसानों का सत्यापन सुनिश्चित किया जावे। यह निर्देश कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में दिए। श्री सिंह ने मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत किसानों के सत्यापन कार्य की प्रगति की समीक्षा की। इस दौरान बताया गया की जिले में इस योजना के तहत लगभग 1 लाख 12 हजार किसानों का सत्यापन करने का लक्ष्य है। जिसके विरूद्ध अब तक लगभग 1 लाख किसानों का सत्यापन किया जा चुका है। कलेक्टर श्री सिंह ने कृषि विभाग, उद्यानिकी विभाग के मैदानी अधिकारियों की एक सयुक्त बैठक शीघ्र आयोजित करने के निर्देश दिए ताकि किसानों के सत्यापन का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जा सके। कलेक्टर ने मुख्यमंत्री पथ विक्रेता योजना की प्रगति की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे बैंक अधिकारियों से समन्वय स्थापित कर प्रकरणों को स्वीकृत कराकर राशि का वितरण सुनिश्चित कराए। इस योजना के क्रियान्वयन में प्रदेश में इस जिले को अग्रणी लाने के लिए हर सम्भव प्रयास करें। कलेक्टर श्री सिंह ने जिले में बिजली आपूर्ति के कार्य की समीक्षा की और अधीक्षण यंत्री मध्य प्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी को निर्देश दिए हैं कि जिले में ट्रांसफार्मर खराब होने पर तत्काल बदलने की कार्यवाही करें ताकि विद्युत प्रदाय व्यवस्था में व्यवधान पैदा न हो। इस बैठक में रासायनिक ऊर्वरक की उपलब्धता की समीक्षा की गई और कृषि विभाग के जिला अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि वे जिले में पर्याप्त मात्रा में ऊर्वरक की उपलब्धता सुनिश्चित करें ताकि कृषकों को आवश्यकतानुसार ऊर्वरक उपलब्ध हो सके। बैठक में आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत कार्ड बनाने के कार्य की समीक्षा करते हुए कलेक्टर श्री सिंह ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे आंवटित कलस्टर के ग्रामों का सघन भ्रमण कर कार्ड बनाने के कार्य में गति लाए। साथ ही घर-घर जाकर आयुष्मान भारत योजना के कार्ड बनाए जाए। इसी प्रकार आधार कार्ड बनाने के लिए कैम्प आयोजित किए जाए। कलेक्टर ने कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव के लिए किए जा रहे प्रयासों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि अधिकारियों को व्यक्तिगत जिम्मेदारी सौंपी जाए ताकि सौपे गए कार्य बेहतर ढंग से सम्पादित किए जा सके। इस महामारी की रोकथाम एवं बचाव के लिए शासन के दिशा-निर्देशों और गाईड लाईन का कड़ाई से पालन हो। साथ ही दुकानदारों द्वारा पहली बार कोविड-19 के नियमों और दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करने पर 500 रूपयें द्वितीय बार 1000 रूपयें तथा तीसरी बार दिशा निर्देशों का उल्लंघन करने पर दुकान बंद करने की कार्यवाही करें। श्री सिंह ने खाद्य पदार्थो में मिलावट से मुक्ति के लिए चलाए जा रहे अभियान की प्रगति की समीक्षा की और निर्देश दिए हैं कि इस अभियान का प्रभावी क्रियान्वयन के लिए अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी जाए ताकि इसके अच्छे परिणाम आ सके। उन्होने जिले में अवैध शराब तथा अवैध रेत परिवहन की रोकथाम के लिए किए गए प्रयासों की समीक्षा की और आबकारी तथा खनिज विभाग के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होने जनपद पंचायत स्तर पर जन सुनवाई आयोजित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे अपने क्षेत्र में अवैध कालोनियों की जांच करें और जांच में अनियमिताएं पाई जाने पर संबंधित तहसीलदार की वेतन वृद्धि रोकने की कार्यवाही करें। कलेक्टर श्री सिंह ने राणापुर के स्त्री रोग विशेषज्ञ डाॅ. उषा गेहलोत को कार्यालयीन समय में बिना अनुमति के जिला मुख्यालय पर कलेक्टर से मिलने आने पर नाराजगी जाहिर की और उनका एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए। उन्होने साहूकार अधिनियम के अंतर्गत जिले में गिरवी रखी चांदी की आकस्मिक रूप से जांच करने के लिए विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए। उन्होने पशुओं का बीमा करने के लिए विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए। साथ ही पशुओं का बीमा का कार्य महिला स्व सहायता समूह के माध्यम से सम्पन्न कराने के निर्देश दिए। उन्होने जिले में कालाबाजारी रोकने के लिए प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश भी दिए। इस बैठक में समयावधि के लंबित पत्रों, मुख्यमंत्री हेल्पलाईन की शिकायतों की विभागवार समीक्षा की गई और उनका तत्काल निराकरण करने के निर्देश दिए। इस बैठक में अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री दिनेश वर्मा, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एम.एल.मालवीय, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला श्री अनिल भाना, डिप्टी कलेक्टर डाॅ. अभयसिंह खराडी, डिप्टी कलेक्टर सुश्री ज्योति परते सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।

 

आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 63 हजार 605 हितग्राहियों के कार्ड बनाने की प्रक्रिया पूर्ण


झाबुआ। कलेक्टर श्री रोहित सिंह के निर्देशानुसार जिले में आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत कार्ड बनाने के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के अंतर्गत सोमवार को जिले में 1 हजार 316 हितग्राहियों के कार्ड बनाने की प्रक्रिया पूर्ण की गई है। झाबुआ विकास खण्ड में 826, राणापुर में 805, रामा में 1395, पेटलावद में 1475, मेघनगर में 1686 तथा थांदला विकास खण्ड में 1316 हितग्राहियों के कार्ड बनाने की प्रक्रिया पूर्ण कर ली गई है। इसी प्रकार जिले में सोमवार तक 63 हजार 605 हितग्राहियों के कार्ड बनाने की प्रक्रिया पूर्ण की गई है। झाबुआ विकास खण्ड में 6 हजार 851, रामा में 5 हजार 379, राणापुर में 5 हजार 122, मेघनगर में 19 हजार 419, पेटलावद में 13 हजार 962 तथा थांदला विकास खण्ड में 12 हजार 797 हितग्राहियों के कार्ड बनाने की प्रक्रिया पूर्ण कर ली गई है।


ष्ष्फिट इण्डिया प्रभात फेरी 2020 ष्ष् 04 दिसम्बर 2020 को 


झाबुआ,। शारीरिक गतिविधि एवं खेलकूद को नागरिकों के दैनिक जीवन का एक अंग बनाने के लिए एवं सभी नागरिकों में स्वयं के स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता लाने के उद्देश्य से भारत सरकार द्वारा फिट इण्डिया कैम्पेनिंग दिसम्बर 2020 . ष्ष्फिटनेस का डोज.आधा घंटा रोजष्ष्  के  अन्तर्गत जिला मुख्यालय झाबुआ में फिट इण्डिया प्रभात फेरी का आयोजन दिनांक 04 दिसम्बर 2020 को प्रातः 07ण्00 बजे से बस स्टैण्ड से किया जा रहा हैं । प्रभात फेरी बस स्टैण्ड से प्रारम्भ होकर थान्दला गेटए आजाद चैकए राजवाडा चैकए बुनियादी शालाए उत्कृष्ट विद्यालय खेल मैदान झाबुआ पर सम्पन्न होगी ।   अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री आंनद सिंह वास्कले ने अवगत कराया कि  ष्ष्फिट इण्डिया प्रभात फेरी 2020ष्ष्  में किसी भी आयु वर्ग का स्वस्थ्य व्यक्ति भाग ले सकता हैं । प्रभात फैरी में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को मास्क लगाना अनिवार्य हैं एवं प्रभात फेरी में शामिल प्रतिभागियों के द्वारा सोशल डिस्टेसिंग का पालन किया जावेगा।  ष्ष्फिट इण्डिया प्रभात फेरी 2020ष्ष्  में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को फिट इण्डिया की ओर से ई.सर्टिफिकेट प्रदान किया जावेगाए ई.सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिये प्रतिभागियों को प्रभातफेरी उपरान्त संपूर्ण ब्यौरे को फिट इंडिया वेबसाइट में व्यक्तिगत प्रोफाइल में अपलोड करना होगा । फिट इंण्डिया प्रभातफेरी 2020 के ई.सर्टिफिकेट प्राप्त करने के लिये प्रतिभागी को अपनी प्रभातफेरी का ब्यौरा फिट इण्डिया वेबसाईट पर अपलोड करना होगा व इस प्रतियोगिता के लिये प्रतिभागी को रजिस्टेशन स्वयं करना होगा ।  अधिक जानकारी फिट इण्डिया की वेबसाईट  wwwf.itindia.gov.in एवं जिला खेल और युवा कल्याण कार्यालय से प्राप्त की जा सकती हैं । 

कोई टिप्पणी नहीं: