बेतिया : चनपटिया के बाजार समिति में आ रहे हैं सीएम - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 31 दिसंबर 2020

बेतिया : चनपटिया के बाजार समिति में आ रहे हैं सीएम

nitish-in-chanpatia-betiya
चनपटिया. बेतिया के चनपटिया के बाजार समिति में बुधवार को सीएम नीतीश कुमार आ रहे हैं. यहां से पलायन करके रोजगार के लिए भारी संख्या में लोग बाहर चले जाते थे.लॉकडाउन के बाद लोग बेरोजगार हो गये थे.तब बेरोजगार लोगों ने डीएम साहब से दुखड़ा सुनाया.डीएम कुदंन कुमार ने दुखड़ा सुनाने वालों के कहने पर रोजगार की व्यवस्था करा दी. अब तो मजदूर मेहनत करके मालिक हो गये हैं. पश्चिमी चम्पारण के जिलाधिकारी हैं श्री कुंदन कुमार. जिलाधिकारी ने स्टार्टअप जोन चनपटिया का  जायजा लिया.जिलाधिकारी ने भरोसा दिया कि उद्यमी स्टार्टअप जोन अंतर्गत बेहतर से बेहतरीन प्रोडक्ट्स का उत्पादन करेंगे तो सरकार एवं जिला प्रशासन हरसंभव मदद करेगी.मौके पर आवश्यक संसाधनों की उपलब्धता के लिए अधिकारियों को निर्देश दिया.


आज स्टार्टअप जोन चनपटिया का निरीक्षण किया गया तथा स्टार्टअप जोन को तीव्र गति से विकसित करने के लिए विभिन्न आधारभूत संरचनाओं की उपलब्धता त्वरित गति से हो, इसके लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया.उन्होंने संबंधित अधिकारियों से कहा कि पश्चिम चम्पारण जिले के लिए यह समय बेहद ही महत्वपूर्ण है.सरकार एवं जिला प्रशासन के समन्वित प्रयास से जिले में विभिन्न प्रकार के उद्यम क्रियाशील है.तिनका-तिनका जोड़कर एक टीम बनाकर वर्तमान परिस्थिति को लाने में सभी संबंधित अधिकारियों का अतुलनीय योगदान है.यहां के बने विभिन्न उत्पाद साड़ी, लहंगा, शर्ट, टी-शर्ट, लोअर, ट्रैक सूट, जैकेट आदि लद्दाख, कश्मीर, लुधियाना, दिल्ली आदि बड़े शहरों में भेजा जा रहा है तथा यहां के उत्पादों की डिमांड दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है. उन्होंने कहा कि चनपटिया में स्टार्टअप जोन को बेहतरीन बनाया जा रहा है.जिला प्रशासन के इस प्रयास से युवाओं में आशा का संचार हुआ है तथा वे प्रेरित होकर टीम के साथ लगातार जुड़ते जा रहे हैं. अब तक 400 सौ से ज्यादा युवा स्टार्टअप जोन में कार्य करने के इच्छुक है. इन सभी युवाओं को स्टार्टअप जोन में हर हाल में सभी प्रकार की समुचित व्यस्थाएं उपलब्ध करायी जाय. उन्होंने कहा कि स्टार्टअप जोन को तीव्र गति से विकसित करने की आवश्यकता है ताकि उद्यमियों तथा बाहर से आने वाले व्यापारियों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े.इस हेतु सभी अधिकारी पूरी संजीदगी एवं तत्परतापूर्वक अपने कर्तव्यों एवं दायित्वों का निवर्हन करें. उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि उद्यमियों के लिए अविलंब उद्यमी कार्ड बनाया जाय.उद्यमी कार्ड के माध्यम से यहां के उद्यमी आने वाले समय में देश-दुनिया में अपना प्रोडक्ट आसानी से बिक्री कर पायेंगे.उद्यम को सुचारू ढंग से चलाने की दिशा में उद्यमियों को हर संभव मदद की जानी है. राॅ-मैटेरियल मंगाने तथा उत्पादों को बाहर भेजने के लिए सरकार द्वारा हर तरह की मदद की जा रही है. अगर किसी उद्यमी के समक्ष कोई परेशानी उत्पन्न हो तो उसका समाधान शीघ्र ही किया जाय.


उन्होंने कहा कि पश्चिम चम्पारण जिले को प्रोडक्शन सेंटर के रूप में विकसित करने का लक्ष्य है. सरकार एवं जिला प्रशासन का यह प्रयास है कि आने वाली पीढ़ियों को रोजगार हेतु बाहर नहीं जाना पड़े, उन्हें विभिन्न प्रकार के रोजगार इसी जिले में मुहैया हो सके तथा वे जीविकोपार्जन अच्छे तरीके से कर सके. स्टार्टअप जोन में अपने उद्योग संचालित करने वाले उद्यमियों ने जिलाधिकारी सहित समूचे जिला प्रशासन को धन्यवाद ज्ञापित किया तथा कहा कि जिला प्रशासन द्वारा उन्हें हर प्रकार की सुविधाएं मुहैया करायी गयी तभी जाकर वे अपना उद्यम शुरू कर पाये हैं.उद्यमियों ने कहा कि सरकार एवं जिला प्रशासन द्वारा दी जा रही सुविधाओं के मद्देनजर अन्य उद्यमी भी पश्चिम चम्पारण जिले में अपना उद्यम शुरू करने के इच्छुक है.इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि जिले में उद्यम शुरू करने वाले सभी उद्यमियों का स्वागत है.उद्यमियों की सहायता के लिए राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन हमेशा तत्पर है. उद्यमियों को उद्योगों का अधिष्ठापन करने के लिए हर संभव सुविधाएं मुहैया करायी जायेगी. साड़ी एवं लहंगा का निर्माण करने वाली उद्यमी श्रीमती अर्चना कुशवाहा ने बताया कि आधुनिक मशीन द्वारा यहां विभिन्न प्रकार की साड़ियों का निर्माण किया जा रहा है.साथ ही उच्च गुणवता वाले लहंगा का निर्माण भी कराया जा रहा है. निर्माण कराये जा रहे साड़ी, लहंगा की मार्केटिंग आसानी से हो जा रही है तथा उन्हें फायदा भी पहुंच रहा है. इसी तरह लोअर, ट्रैक सूट का निर्माण करने वाले श्री शोएब ताहिर ने बताया कि जिला प्रशासन की मदद से उनका उद्यम बखूबी संचालित हो रहा है तथा लद्दाख, कश्मीर आदि जगहों पर सप्लाई भी जा रही है तथा उन्हें अच्छा मुनाफा भी हो रहा है साथ ही दर्जनों बेरोजगारों को उनके द्वारा रोजगार भी उपलब्ध करायी गयी है. इस अवसर पर एडीएम, विभागीय जांच, श्री रामनिरंजन सिंह, उप विकास आयुक्त, श्री रवीन्द्र नाथ प्रसाद सिंह, एसडीएम, बेतिया, श्री विद्यानाथ पासवान, कार्यपालक पदाधिकारी, नोडल पदाधिकारी, स्टार्टअप जोन, श्री विजय कुमार उपाध्याय, वरीय उप समाहर्ता, श्री राजीव कुमार, श्री सुजीत वर्णवाल, श्री रवि प्रकाश, श्रीमती पूर्णिमा कुमारी, निदेशक, डीआरडीए, श्री राजेश कुमार, प्रबंधक, डीआरसीसी, श्री शैलेश पाण्डेय सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे.

कोई टिप्पणी नहीं: