नड्डा के काफिले पर हमला सुनियोजित था : मुकुल रॉय - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 11 दिसंबर 2020

नड्डा के काफिले पर हमला सुनियोजित था : मुकुल रॉय

planned-attack-on-nadda-mukul-rai
कोलकाता, 11 दिसंबर, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने डायमंड हार्बर में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हुए हमले को सुनियोजित बताते हुए शुक्रवार को आरोप लगाया कि इससे पता चलता है कि पश्चिम बंगाल में कानून नाम की कोई चीज़ नहीं है। पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय ने यहां पत्रकारों से कहा कि हमले में भाजपा नेता जख्मी हुए हैं और नड्डा इसलिए सुरक्षित हैं, क्योंकि वह बुलेट प्रूफ कार में थे। उन्होंने कहा कि हमले के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उन्हें फोन किया था और उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली थी। रॉय ने कहा, " मैंने उनसे (शाह से) कहा कि पश्चिम बंगाल में हालात ऐसे हैं कि कानून नाम की चीज़ नहीं है। "रॉय घटना के समय मौजूद नेताओं में शामिल थे।तृणमूल कांग्रेस और अन्य पार्टियों के जिला स्तरीय कुछ नेताओं को भाजपा में शामिल कराने के लिए आयोजित किए गए कार्यक्रम के इतर रॉय ने पत्रकारों से कहा, " नड्डा जी के काफिले पर हमला सुनियोजित था और हम सबने इसका दंश झेला और चोटें आईं। ईश्वर की कृपा से नड्डा जी सुरक्षित हैं, क्योंकि वह बुलेट प्रूफ कार में थे।" भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और बंगाल में पार्टी मामलों के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय भी उन लोगों में शामिल हैं जिन्हें चोटें आई हैं। वह भी बैठक में मौजूद थे। एक अन्य संवाददाता सम्मेलन में पार्टी के वरिष्ठ नेता शमिक भट्टाचार्य ने कहा, " राज्य में अराजक स्थिति है और भाजपा कार्यकर्ताओं पर तृणमूल कांग्रेस के सदस्यों द्वारा किए गए हमले के दौरान पुलिस मूक दर्शक बनी रही।" रॉय की तरह उन्होंने भी आरोप लगाया कि नड्डा के काफिले पर हमला तृणमूल कांग्रेस द्वारा पूर्व नियोजित था। भट्टाचार्य ने आरोप लगाया कि 24 परगना पुलिस ने घटना के बाद उस्ती थाने में लापरवाही से प्राथमिकी दर्ज की।नड्डा के काफिले पर बृहस्पतिवार को तब हमला किया गया जब वह डायमंड हार्बर में एक सभा में हिस्सा लेने जा रहे थे।

कोई टिप्पणी नहीं: