पंजाबी गायकों ने दिया दोसांझ का साथ, कंगान पड़ी कानूनी दांवपेच में - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 4 दिसंबर 2020

पंजाबी गायकों ने दिया दोसांझ का साथ, कंगान पड़ी कानूनी दांवपेच में

punjabi-singer-reply-kangana
मुंबई, चार दिसंबर, अभिनेत्री कंगना रनौत और गायक-अभिनेता दिलजीत दोसांझ के बीच ट्विटर पर छिड़ी बहस में कई पंजाबी कलाकारों ने दोसांझ का समर्थन किया है। इसके साथ ही दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति ने किसानों के प्रदर्शन में शामिल एक महिला किसान के खिलाफ कंगना द्वारा की गई आपत्तिजनक ट्वीट के लिए कंगना के खिलाफ कानूनी नोटिस जारी कर महिला किसान तथा दोसांझ से उन्हें माफी मांगने को कहा। दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के अध्यक्ष मनिंदर सिरसा ने कहा कि रनौत के ट्वीट ने किसानों के प्रदर्शन को 'राष्ट्रविरोधी' के रूप में पेश करने की कोशिश की और एक किसान की उम्रदराज मां के खिलाफ अपमानजनक बाते कहीं। अभिनेत्री के खिलाफ यह दूसरा कानूनी नोटिस है। इससे पहले ही पंजाब के जीरकपुर शहर के एक वकील ने रनौत के ट्वीट को लेकर दो दिसंबर को कानूनी नोटिस भेजा था। इस बीच मीका सिंह, एम्मी विर्क और जस्सी बी सहित पंजाब के प्रमुख गायकों और कलाकारों ने भी रनौत के साथ बहस में दोसांझ का समर्थन करते हुए रनौत की आलोचना की। दोनों के बीच यह बहस कंगना के एक ट्वीट को लेकर शुरु हुई जिसमें कंगना ने किसान आंदोलन की एक बुजुर्ग महिला को शाहीन बाग आंदोलन से चर्चित हुई दादी बिल्किस बानो बताया। उन्होंने फिर रिट्वीट करते हुए दोनों बुजुर्ग महिलाओं की तस्वीरों को साझा करते हुए लिखा कि यह शाहीन बाग वाली दादी हैं जो 100 रुपये में प्रदर्शन करने के लिए उपलब्ध हैं। लोगों के सवाल उठाने पर कंगना ने कथित तौर पर अपना ट्वीट हटा दिया। इसके बाद दोसांझ ने बीबीसी द्वारा किसान आंदोलन वाली बुजुर्ग महिला के साक्षात्कार की एक क्लिप साझा करते हुए कंगना को टैग कर लिखा,“सबूत के साथ यह सुनो कंगना। ’’ गायक मीका सिंह ने कहा कि उन्हें कंगना के बंगले के ध्वस्त होने के मामले में कंगना का समर्थन करने का पछतावा है और रनौत को एक बुजुर्ग पंजाबी महिला के खिलाफ अपनी टिप्पणी के लिए माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने ट्वीट किया,‘‘मैं कंगना का बहुत सम्मान करता था और जब उनका बंगला गिराया गया तो मैं भी कंगना के समर्थन में था। अब मुझे लगता है कि मैं गलत था। कंगना एक महिला होने के नाते आपको बुजुर्ग महिला के प्रति कुछ सम्मान दिखाना चाहिए। यदि आपके पास कोई शिष्टाचार है तो माफी मांगें। आपको शर्म आनी चाहिए।” जस्सी बी के नाम से मशहूर गायक जसविंदर सिंह बैंस ने भी रनौत की टिप्पणी की आलोचना की। उन्होंने ट्वीट किया,‘‘वह गोदी मीडिया की एक कठपुतली है,जिसे पता नहीं है कि पंजाबी हमेशा तैयार रहते हैं। कंगना आपको शर्म आनी चाहिए।” जैज डी के नाम से मशहूर गायक जसविंदर सिंह धामी ने कंगना को खराब सोच वाली बताया। उसके बाद कंगना ने दोसांझ को करण जौहर का ‘पालतू’,‘चाटुकार’ कहते हुए पूछा कि दिल्ली दंगे कराने वाले किसी इंसान का बचाव करते हुए उन्हें शर्म नहीं आती क्या? उन्होंने कहा कि उनकी टिप्पणी बिल्किस बानो के लिए थी ना कि किसान आंदोलन वाली महिंदर कौर के लिए। इस मामले में बॉलीवुड से जुड़े कई अन्य लोगों ने भी दोसांझ का समर्थन किया।

कोई टिप्पणी नहीं: