बिहार : राज्य के कुल 160 नगर निकायों में मिलेगी शहरी सुविधाएं - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 26 दिसंबर 2020

बिहार : राज्य के कुल 160 नगर निकायों में मिलेगी शहरी सुविधाएं

urban-facilities-will-be-available-in-total-160-municipal-bodie
पटना : नीतीश कैबिनेट में इस बार की बैठक में बिहार वासियों के लिए एक बहुत बड़ा सौगात लेकर आया है।बिहार सरकार ने छोटे बाजार जिनकी आबादी दो लाख से अधिक है उन तमाम जगहों को नगर निकाय में शामिल कर लिया है। राज्य के कुल 160 नगर निकाय मैं अब शहरी सुविधाएं मिलेगी। इन नगर निकायों में स्ट्रीट लाइट,बिजली, साफ सफाई, ड्रेनेज समेत तमाम वह सुविधा जो शहरी क्षेत्र में मिलता,वे सुविधा इन नगर निकायों में मिलेगी। नीतीश कैबिनेट में नगर एवं पंचायत निकाय अधिनियम में संशोधन किया। संसोधन पर नीतीश कैबिनेट की मुहर मिली है। नगर विकास एवं आवास प्रधान सचिव आनंद किशोर ने कहा कि नए कैबिनेट में 103 नए नगर पंचायत की मंजूरी मिली है। इसके साथ ही 8 नए नगर परिषद बनाए जायेंगे। इसके अलावा 32 नगर पंचायतों को नगर परिषद के रूप में उत्क्रमित किया गया है। साथ ही 5 नगर परिषद को नगर निगम बनाया गया। 12 नगर निकायों के क्षेत्र विस्तार किया गया है। कुल 160 प्रस्ताव को स्वीकृति मिली है। आनन्द किशोर ने कहा कि इन क्षेत्र में शहर वाली सुविधाएं दी जाएगी। साफ-सफाई, सैनिटाइजेशन, कचड़ा कलेक्शन, स्ट्रीट लाइट ड्रेनेज और सामुदायिक भवन की सुविधा दी जाएगी। केंद्र सरकार से राज्य सरकार को मिलने वाली राशि को वृद्धि होगी। केंद्रीय वित्त आयोग में शहरी क्षेत्र में ज्यादा राशि मिलती है। राज्य सरकार के संसाधनों में वृद्धि होगी। इन तमाम जगहों को नगर क्षेत्र के रूप में विकसित की जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं: