विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 05 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 5 दिसंबर 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 05 दिसंबर

किसानो को खरीफ का मुआवजा, समय पर बिजली, यूरीया की काला बाजारी, एवं अन्य समस्याओ के निवारण हेतु सभी किसान भाईयो के साथ कांग्रेस कमेटी विदिशा सोमबार को प्रातः 11ः30 बजे कलेक्टर विदिशा को सोपेगे ज्ञापन 


विदिशा:-  किसानो भाईयो की प्रमुख समस्याओं को लेकर कांग्रेस पार्टी द्वारा दिनांक 07.11.2020 दिन सोमबार समय 11ः30 बजे को कलेक्टर विदिशा को ज्ञापन दिया जावेगा। यूरिया की किल्लत और काला बाजारी जोरो से चल रही है गरीब किसान को धक्के खाने पड रहे। रबी फसलो की सिंचाई हेतु पर्याप्त समय 10 घंटे बिजली नही मिल रही है, और डी.पी. जल जाने से उसकों समय पर बदला नही जा रहा है। मा. मुख्यमंत्री जी की घोषणा के बाबजूद किसानों को 10 घंटे बिजली नही दी जा रही, वर्ष 2019-20 की खरीफ फसल का बचा हुआ 75 प्रतिशत मुआवजा दिया जाये। डीजल पेट्रोल की वेतहाशा मूल्य वृद्धि का विरोध केन्द्र सरकार द्वारा लाए गये तीनो अधिनियमों को तत्काल वापस लेने की मांग। सरकारी तौल कांटो पर पिछले वर्ष लाल धान एम.एस.पी. पर लिया गया था इस वर्ष भी लिया जावे। वर्ष 2020-21 में खरीफ फसल में हुए नुकसान का मुआवजा दिया जाये। इन सभी मांगो को लेकर कांग्रेस पार्टी द्वारा दिनांक 07.11.2020 दिन सोमबार समय 11ः30 बजे को कलेक्टर विदिशा को ज्ञापन दिया जावेगा जिसमें सभी किसान भाई जिला कांग्रेस अध्यक्ष, ब्लाॅक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष शहर एवं गामीण, सभी प्रदेश पदाधिकारी, वरिष्ट नेतागण, पार्षद, पूर्व पार्षदगण मंडल सेक्टर अध्यक्ष मोर्चा संगठन युवा कांग्रेस, महिला कांग्रेस, किसान कांग्रेस, एन.एस.यु.आई. सेवादल अल्पसंख्यक कांग्रेस अंसगठित कामगार कांग्रेस अनुसूचित जाति प्रकोष्ट, पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ सभी उपस्थित रहेगे।


शहर में व्याप्त पानी की सामस्या के निराकरण शीघ्र किया जाये - शशांक भार्गव 


विदिशाः- लाईन के उस पर पीने के पानी की बहुत बड़ी ज्वलंत समस्या है विधायक विदिशा को क्षे़त्र के रहवासियो आए दिन समस्याओं से अवगत कराते रहते है जिन में मूलभूत समस्याएं पानी विजली राशन है  विधायक भार्गव ने विदिशा कलेक्टर को लिखे पत्र में अवगत कराया की लाइन के इस तरफ दो दिन में एक बार पानी दिया जा रहा है कभी कभी तो तीन दिन में एक बार पानी दिया जाता है पूरनपुरा, कृष्णा काॅलोनी, करैयाखेडा रोड, अहमदपुर रोड चुगीं नाका इत्यादि जगहो पर यह रोजमर्रा की समस्या है में स्वयं नगर पालिका के इंजीनयरों एवं स्टाफ से इस विषय पर चर्चा कर चुका हुं स्टाफ का यह कहना है की ज्यादा प्रेशर देने पर लाईन फूटने की वजह से पानी की सप्लाई नियमित रूप से नही हो पाती है इस संबंध में मेरे द्वारा यह सुझाव दिया गया की जहाॅ जहाॅ लाईन पर प्रेशर ज्यादा है वहाॅ लाईन काट कर लाईन में बुस्टर पंप लगा दिये जावे तो इस समस्या का समाधान हो सकता है। यह हमारा सौभाग्य है कि विदिशा में एस.ए.टी.आई. जैसा संस्थान मौजूद है वहाॅ पर इस कार्य के विशेषज्ञ प्रोफेसर भी कार्यरत है अगर आप स्वयं रूची लेकर इस कार्य को करेगे तो एस.ए.टी.आई के प्रोफेसरों से जानकारी लेकर उपरोक्त कार्य किया जा सकता है जिस से लाईन के इस पार की जनता को उन की मूलभूत सुविधा से वंचित नही रहना पडेगा। उन्होने कलेक्टर विदिशा को लिखे पत्र में बताया गया है कि वेतवा नदी में शहर को पानी पिलाने के लिए पानी की कमी नही है इसके बाबजूद भी छोट-छोटे तकनीकी कारणो से व कुप्रबंधन की बजह से जनता प्यासे रहने को मजबूर है यही हालत गर्मीयों में रही तो आगे और भयावह स्थिति बनेगी। इस का निराकरण तुरंत किया जाना नितांत आवश्यक है। इसी क्रम में दूसरी परेशानी यह है कि जहाॅ-जहाॅ  से टंकिया भरने के लिए पाईप लाईन जा रही है उस लाइन के आसपास के इलाको में रहवासी भाई उन के घर के नलो को पानी भरने के बाद नल को खुला छोड़ देने की वजह से पानी की अत्यधिक व्यर्थ बर्बादी हो रही है इस संबंध में मेरा सुझाव है कि नगर पालिका परिषद विदिशा की और से गाड़ीयो में लगे माइकों द्वारा यह प्रचार प्रसार किया जावे की पानी की एक एक बूंद कीमती है पानी को बर्बाद न किया जाये इस के बाद भी लोग नही मानते तो जुर्माना लगा कर लोगो को चेतवानी दी जाये जिस से पानी की बर्बादी को रोका जा सके।


मुख्यमंत्री जी के उद्बोधन का लाइव प्रसारण देखा, सुना गया पुजारियों को डस्टबिन एवं सेनेटाइजर प्रदाय किए गए


vidisha news
स्वच्छता सर्वेक्षण के राज्य स्तरीय सम्मान समारोह कार्यक्रम का आज विदिशा में भी लाइव देखा, सुना गया है। पुरानी नगरपालिका परिसर में लाइव प्रसारण देखने, सुनने के तमाम प्रबंध सुनिश्चित किए गए थे यहां कलेक्टर डॉ पंकज जैन, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन सहित अन्य जनप्रतिनिधि तथा एसडीएम, मुख्य नगरपालिका अधिकारी के अलावा अन्य अधिकारी, कर्मचारियों के साथ-साथ गणमान्य नागरिकों ने भी लाइव प्रसारण को देखा सुना है।  कार्यक्रम के उपरांत पुरानी नगरपालिका के सभाकक्ष में पुजारियों की बैठक आहूत कर उन सभी से स्वच्छता के क्षेत्र में हर स्तर पर सहयोगप्रद करने तथा आमजनों तक संदेश पहुंचाने के कार्यो में मदद करने की बात कही गई है। कलेक्टर एवं नगरपालिका के प्रशासक डॉ पंकज जैन ने कहा कि जिले में शीघ्र ही घूरो पर चर्चा कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा ताकि निकाय क्षेत्र स्वच्छता की ओर अग्रसर हो। यह कार्य आमजनों के सहयोग बिना संभव नही है। स्वच्छता के क्षेत्र में विदिशा की रैंक में सुधार आए इसके लिए निर्धारित मापदण्डो के अनुसार कार्यो का सम्पादन करना और क्षेत्र को साफ सुथरा रखना है। उन्होंने कहा कि बडी कालोनियों में साफ सफाई की जिम्मेदारी कालोनाइजरों को ही सौंपी जाएगी। आमजनों से हर स्तर पर आग्रह किया जा रहा है कि ना कचरा फैंके ना फैंकने दें। उन्होंने घूरे का दंश देखा है को रेखांकित करते हुए अपने अनुभवों को सांझा किया है।  पूर्व  नगरपालिका अध्यक्ष श्री  टण्डन ने कहा कि जागरूकता को बढाने के लिए मंदिरो के पुजारियों का सहयोग मिले जिससे हम अपने शहर को और अधिक स्वच्छ रख सकें। उन्होंने मंदिर से निकलने वाले फूल पत्ती को संग्रहित करने हेतु निर्मल वाहन का पूर्वानुसार संचालन करने पर बल दिया। स्वच्छता का संदेश जन आंदोलन बने, सभी मानसिक रूप से शहर को स्वच्छ रखने के लिए प्रयास करें। इससे पहले पुजारियो एवं पूर्व पार्षदो के द्वारा शहर को स्वच्छ रखने हेतु किए जाने वाले प्रबंधो पर सुझाव दिए। ततसंबंध में कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि कमियां बताए जरूर पर सहयोग करें। गलतियों में सुधार संभव है। अतः निकाय के अमले को सहयोगप्रद करें ताकि जिले की रैंकिंग में सुधार हो। आप सभी की सक्रियता और मनोदशा से हम प्रदेश के टॉप जिलो मेंं विदिशा को शामिल करा सकते है।  अतिथियों द्वारा कार्यक्रम के अंत में मंदिरों के पुजारियों को दो-दो डस्टबिन एवं सेनेटाइजर प्रदाय किए गए है। कार्यक्रम के शुभांरभ में मुख्य नगरपालिका अधिकारी के द्वारा बताया गया कि शहर में कुल 107 घूरे है जिन्हें आम सहयोग से हटाया जा रहा है। इसी प्रकार निकाय क्षेत्र के खाली प्लाटो को बागड़ करने तथा नियमों का पालन नही करने वालो के खिलाफ फाईन करने की कार्यवाही प्रारंभ की गई है।


केन्द्रीय पर्यटन मंत्री श्री पटेल ने बीजा मण्डल क्षेत्र का भ्रमण किया 


vidisha news
केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री श्री प्रहलाद सिंह पटेल ने आज विदिशा शहर में स्थित बीजा मण्डल एवं बावडी तथा लघु संग्राहलय के स्मारको का निरीक्षण किया। भारतीय पुरातत्व विभाग द्वारा पूर्व में किए गए कार्यो का निरीक्षण और भविष्य में किए जाने वाले कार्यो के संबंध में उनके द्वारा दिशा निर्देश दिए गए है।  पर्यटन मंत्री श्री पटेल ने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि बीजा मण्डल परिसर में स्थित प्राचीन बावडी बडा जल स्त्रोत है। जिसकी साफ सफाई कर व्यवस्थित रखने के निर्देश दिए गए थे ताकि शहर में कभी आकस्मिक आवश्यकता पड़ने पर जल की कमी की पूर्ति सुनिश्चित हो सकें। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के पुरातत्व स्मारको व पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए मीडियाबंधुओंं के द्वारा रचनात्मक सलाहकार की भूमिका अदा की जा रही है अब तक जो सुझाव दिए है उनको पूरा किया गया है। अगले चरण में सम्पादित होने वाले कार्यो पर विचार विमर्श कर उनका क्रियान्वयन किया जाएगा।  निरीक्षण के दौरान विदिशा नगरपालिका के पूर्व अध्यक्ष श्री मुकेश टण्डन और श्री संदीप सिंह डोंगर के अलावा जिला पुरातत्व संग्राहलय के प्रतिनिधि श्री संदीप कुमार महतो सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी एवं मीडियाकर्मी मौजूद रहे। 


सुभाषनगर वार्ड क्षेत्र का भ्रमण


कलेक्टर एवं विदिशा नगरपालिका के प्रशासक डॉ पंकज जैन ने आज सुबह सुभाषनगर वार्ड क्षेत्र का भ्रमण कर स्वच्छता संबंधी कार्यो का जायजा लिया है। भ्रमण के दौरान स्थानीय रहवासियों से उनके द्वारा अपील की गई कि कचरा निकाय के वाहनो में ही डालें, इधर-उधर ना फैलाएं और ना ही घूरे ईजाद करें। रहवासियों द्वारा स्वच्छता के संबंध में स्थानीय समस्याओं से अवगत कराया गया। भ्रमण के दौरान कलेक्टर डॉ जैन ने वार्ड के खुले आवासीय प्लाटो को वाउण्ड्रीबाल से कवर्ड करने के निर्देश दिए है। उक्त कार्यवाही नही करने वालो के खिलाफ जुर्माना की राशि वसूली जाएगी। इसी प्रकार वार्ड में अवैध रूप से पशुपालन कार्य रहे उनके खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए है और एक-एक हजार रूपए का अर्थदण्ड वसूली की कार्यवाही हेतु संबंधितों को निर्देशित किया गया है।  कलेक्टर डॉ जैन ने वार्ड से दूषित जल निकासी हेतु नाला एवं नालियों की साफ सफाई के संबंध में मुख्य नगरपालिका अधिकारी को निर्देश दिए है। भ्रमण के दौरान विदिशा एसडीएम सहित अन्य अधिकारी व निकाय का अमला मौजूद था। 


डाटाबेस उपलब्ध कराने के निर्देश


आगामी पंचायत एवं नगरीय निकाय सामान्य निर्वाचन 2020-21 के लिए जिले में पदस्थ अधिकारियों, कर्मचारियों का डाटा निर्धारित प्रपत्रों में तैयार कर राज्य निर्वाचन आयोग को प्रेषित किया जाना है।  कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ पंकज जैन ने समस्त विभागो के जिलाधिकारियों को पत्र प्रेषित कर उन्हें राज्य निर्वाचन आयोग से प्राप्त प्रपत्र अ,ब के अनुसार डाटाबेस तैयार कर सात दिसम्बर तक एनआईसी के डीआईओ को प्रेषित करने के निर्देश दिए हैं। प्रपत्र अ फार्म एक में अधीनस्थ एवं स्वंय तथा समस्त कार्यालयों की जानकारी तैयार की जाएगी। जबकि प्रपत्र ब फार्म दो की जानकारी हेतु अधीनस्थ कार्यालयों को निर्देशित किया गया है कि ऑन लाइन डाट इन्ट्री साफ्टवेयर के माध्यम से स्वंय एवं अधीनस्थ कार्यालय द्वारा अपने स्तर से ऑन लाइन डाटा इन्ट्री साफ्टवेयर में फीड की जाएगी। कार्यालयवार लॉगिग आईडी व ऑन लाइन साफ्टवेयर की लिंक संबंधी कार्यालय प्रमुख के मोबाइल पर एसएमएस के माध्यम से प्रदाय की जाएगी। किसी भी प्रकार की तकनीकी कठिनाईयां आती है तो निदान हेतु एनआईसी के डीआईओ श्री एमएल अहिरवार के मोबाइल नम्बर 9425922654 पर सम्पर्क कर प्राप्त की जा सकती है। 


सतर्कता एवं मानिटरिंग समिति की बैठक सात को


अनूसूचित जाति, अनूसूचित जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत गठित जिला स्तरीय सतर्कता एवं मॉनिटरिंग समिति की बैठक सोमवार सात दिसम्बर को आयोजित की गई है।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन की अध्यक्षता में आयोजित यह बैठक नवीन कलेक्ट्रेट के सभागार कक्ष में दोपहर एक बजे से शुरू होगी। बैठक में शामिल होने हेतु समिति के सदस्य सर्वश्री पुलिस अधीक्षक, जिला खनिज अधिकारी, जिला जनसम्पर्क अधिकारी को समिति के सदस्य सचिव जनजातीय एवं अनुसूचित जाति विकास के जिला संयोजक द्वारा सूचना प्रेषित की गई है।  उक्त बैठक में जिन बिन्दुओं पर समीक्षा की जाएगी उनमें अनुसूचित जाति, जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत अपै्रल 2020 से तीस नवम्बर तक स्वीकृत राहत राशि एवं वितरण, आकस्मिकता योजना के तहत भेजे जाने वाले प्रतिवेदन एवं पीड़ित व्यक्तियों तथा साक्षियों को दिए जाने वाले यात्रा भत्ता, व्यय भरण पोषण व्यय, आहार व्यय एवं मजदूरी की समीक्षा की जाएगी। इसके अलावा जिले में दर्ज प्रकरण एवं राहत की स्वीकृति हेतु भेजे गए प्रकरण तथा पुलिस विवेचना में लंबित प्रकरण सहित विशेष न्यायालय विदिशा में निराकृत एवं लंबित प्रकरणो की समीक्षा की जाएगी। 


चार लाख की आर्थिक मदद जारी 


आरबीसी के प्रावधानो के तहत एक प्रकरण में चार लाख रूपए की आर्थिक मदद के आदेश विदिशा उपखण्ड अधिकारी के द्वारा जारी किए गए है। ग्रामीण नायब तहसीलदार के पालन प्रतिवेदन पर पानी में डूबने के कारण ग्राम कबूला के मास्टर उवैद खां की मृत्यु हो जाने पर मृतक के पिता श्री सगीर खां को चार लाख रूपए की आर्थिक मदद जारी की गई है।


प्लेसमेंट ड्राइव का आयोजन नौ को


औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान विदिशा में नौ दिसम्बर बुधवार को प्रातः साढे नौ बजे से प्लेसमेंट ड्राइव का आयोजन किया गया है। संस्था के अधीक्षक श्री एपी श्रीवास्तव ने बताया कि प्लेसमेंट ड्राइव में मारूति सुजूकी, बोल्वो आइसर, क्रिप्स भोपाल (संस्थागत ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट) कंपनी एवं अन्य कंपनियां शामिल होगी।  आईटीआई से वर्ष 2015-16 में पासआउट एवं अंतिम वर्ष के प्रशिक्षणार्थी जो परीक्षा दे चुके है वे प्लेसमेंट प्रक्रिया में भाग ले सकेंगे। इसमें बेल्डर, फिटर, मोटर मैकेनिक, इलेक्ट्रीशियन और ट्रेक्टर मैकेनिक से आईटीआई किया होना चाहिए। जबकि क्रिस्प भोपाल के लिए न्यूनतम दसवीं उत्तीर्ण विद्यार्थी शामिल हो सकेंगे। निःशुल्क कैपस सिलेक्शन लिखित परीक्षा एवं साक्षात्कार के माध्यम से निजी कंपनियों के द्वारा चयन किया जाएगा। कैंपस सिलेक्शन में शामिल होने वाले उम्मीदवार अपने साथ पैनकार्ड, आधार कार्ड, आईटीआई, पास का प्रमाण पत्र के तीन सेट तथा पांच पासपोर्ट साइज फोटो साथ लाना अनिवार्य होंगा। ततसंबंध में अन्य विस्तृत जानकारी के लिए संस्था के प्राचार्य श्री एपी श्रीवास्तव के मोबाइल नम्बर 9425488456 पर अथवा कार्यालयीन दिवस अवधि में औद्योगिक प्रशिक्षण विदिशा में सम्पर्क कर प्राप्त की जा सकती है।


’गौशालाओं को आत्म निर्भर बनाने के लिए उत्पादक गतिविधियां प्रारंभ की जाएं- कमिश्नर श्री कियावत’


कमिश्नर श्री कवीन्द्र कियावत ने संभाग के सभी जिला पंचायत सीईओ को निर्देश दिए हैं कि वे अपने जिले की संचालित सभी गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए गौकाष्ठ का निर्माण, बायोगैस प्लांट, खाद और गौ-मूत्र से कीटनाशक का निर्माण प्रारंभ कराएं। शुक्रवार को सम्पन्न हुई बैठक में गौशालाओं के निर्माण और संचालन की समीक्षा की गई। श्री कियावत ने निर्देश दिए हैं कि गौशालाओं के विधिवत संचालन के लिए रणनीति बनाई जाए और गौशाला की जमीन पर चारागाह विकसित किया जाए । उन्होंने कहा कि नंदी शाला के सांड वंशीय पशुओं को गौशाला में ही रखा जाए जिससे नस्ल सुधार हो तथा गायों से दूध का उत्पादन भी लिया जा सके । उन्होंने निर्देश दिए कि गाय के गोबर और गौमूत्र से गौशालाओं को आत्म निर्भर बनाया जा सकता है । उन्होंने कहा कि गोबर से गौकाष्ठ के निर्माण के साथ ही एग्रो से समन्चवय कर बायोगैस संयंत्र लगाकर ग्रामीण आबादी को रसोई गैस उपलब्ध कराई जाए । उन्होंने कहा कि गौ-मूत्र से कीटनाशक बनाकर उसकी भी मार्केटिंग की जाए ।  कमिश्नर ने ग्रामीण यांत्रिकी सेवा के अधीक्षण यंत्री को निर्देश दिए हैं कि निर्माणाधीन सभी गौशालाओं का निर्माण शीघ्र पूरा किया जाए और भूमि आदि की जहां कठिनाई है राजस्व अधिकारियों से समन्वय कर उसे दूर किया जाए । श्री कियावत ने निर्देश दिए हैं कि गौकाष्ठ निर्माण मशीनों को तत्काल स्थापित कराया जाए और स्व-सहायता समूह के सदस्यों को प्रशिक्षित करें ।


’एनएसपी पोर्टल पर आवेदन के रजिस्ट्रेशन एवं वेरीफिकेशन की तिथि बढ़ी’


राष्ट्रीय मींस कम मेरिट योजना के लिए नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल पर नवीन एवं नवीनीकरण के आवेदनों के रजिस्ट्रेशन एवं वेरीफिकेशन की (एनएसपी) तिथि कोविड-19 को देखते हुए बढ़ा दी गई है। इस संबंध में राज्य शिक्षा केंद्र ने अवगत कराया है कि आवेदन की अंतिम तिथि 30 नवंबर, स्कूल स्तर पर वेरीफिकेशन की अंतिम तिथि 15 दिसंबर तथा जिला स्तर पर वेरीफिकेशन की अंतिम तिथि 31 दिसंबर 2020 रहेगी।


अन्तर्राष्ट्रीय स्वैच्छिक सेवा दिवस’ पर मास्क का वितरण 


vidisha news
आनंद संस्थान मध्यप्रदेश, भोपाल द्वारा जारी निर्देशानुसार पांच दिसम्बर को अंतर्राष्ट्रीय स्वैच्छिक सेवा दिवस के रुप में मनाया गया। राज्य आनंद संस्थान के जिला आनंदम सहयोगी श्री विजय श्रीवास्तव ने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय स्वैच्छिक दिवस पर वांलिटियर्स टीम बनाना और उनको आनंद से कार्यो को करवाना बिना किसी दबाव के आनंद के साथ दिवस स्वैच्छिक रूप से कार्य कराना कोविड-19 में वांलिटियर्स टीम की हम भूमिका को निभाते हुए जन जन तक यह संदेश दिया कि स्वैच्छिक दिवस पर वॉलिटियर्स टीम ने अपनी स्वेच्छा से मास्क वितरित किए और वृद्वजनों से अनुरोध किया कि घर पर ही रहे घर से निकले मास्क लगाकर ही निकले। आज उसमें उपस्थित श्री नमन जैन, श्री विनोद सिंह, श्री जीवन सिंह और आदि ने स्वैच्छिक दिवस पर स्वेच्छा से आनंद से रहकर कार्य करने का निर्णय लिया। श्री श्रीवास्तव ने बताया कि राज्य आनंद संस्थान के द्वारा जो भी दिवस आते हैं उन्हें भरपूर आनंद के साथ मनाया जाता है। इस बार कोविड 19 के नियम के पालन करते हुए मनाया।  


समग्र आईडी से अपनी पात्रता जान सकते हैं खाद्यान्न उपभोक्ता एम-राशन मित्र एप को डाउनलोड कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं


खाद्य सुरक्षा योजना से लाभान्वित परिवारों का सत्यापन किया जा रहा है। कर्मचारियों द्वारा घर-घर जाकर एम-राशन मित्र एप के माध्यम से सत्यापन किया जा रहा है। प्रत्येक उपभोक्ता गूगल प्ले स्टोर से इस एप को स्टाल कर सकते हैं। इसके माध्यम से उपभोक्ता अपनी पात्रता की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।  एप में परिवार की समग्र आईडी से लॉगिन करने पर खाद्यान्न की पात्रता, पात्रता पर्ची के अनुसार परिवार के सदस्यों की जानकारी तथा परिवार प्रोफाइल की जानकारी प्राप्त की जा सकती है। इसके माध्यम से आसपास की उचित मूल्य दुकान पीओएस मशीन की स्थिति, दुकान को खाद्यान्न आवंटन एवं वितरण की भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है। शासन द्वारा खाद्यान्न वितरण के संबंध में दी जाने वाली सूचनाओं और सुविधाओं के लिए भी एम-राशन मित्र एप बहुत उपयोगी है। 


संबल योजना में अपील और विसंगतियों के निराकरण के निर्देश


मुख्यमंत्री जनकल्याण संबल योजना में अपील एवं विसंगतियों के निराकरण के संबंध में  सभी जनपद सीईओ और नगरीय निकायों के मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। शासन द्वारा स्थानीय स्तर पर मुख्यमंत्री जनकल्याण संबल योजना में अपील और त्रुटियों के निराकरण के संबंध में पोर्टल पर व्यवस्था दी गई है। शासन के प्रावधान अनुसार अपीलीय अधिकारी के समक्ष प्रकरण प्रस्तुत कर सक्षम अनुमति पश्चात प्रकरणों में विसंगति, त्रुटि सुधार स्थानीय स्तर पर कराया जा सकेगा। जैसे जिस हितग्राही को हितलाभ प्रदान नहीं किया जाना था त्रुटिवश उनका आवेदन दर्ज कर दिया गया है। जिस हितग्राही की सामान्य मृत्यु थी, त्रुटिवश दुर्घटना मृत्यु दर्ज हो गई है अथवा दुर्घटना मृत्यु थी त्रुटिवश सामान्य मृत्यु दर्ज हो गई है। हितग्राही का नाम, पता या मोबाईल नम्बर गलत दर्ज हो गया है, उत्तराधिकारी का खाता क्रमांक गलत दर्ज हो गया है या गलत/त्रुटिपूर्ण उत्तराधिकारी दर्ज हो गया है, तो इन समस्याओं का स्थानीय स्तर पर निराकरण किया जा सकेगा। 


स्थानीय स्तर पर समस्याओं के निराकरण हेतु संबल पोर्टल पर व्यवस्था

संबल पोर्टल पर जिला कलेक्टर को दिए गए लॉगिन आईडी तथा पासवर्ड पर यह सुविधा उपलब्ध है। जिला कलेक्टर के लॉगिन पर एक नया ऑप्शन जोड़ा गया है ‘हितग्राही के आवेदन में संशोधन हेतु ई-भुगतान आवेदन हटाएं‘। इस ऑप्शन को क्लिक करने पर जिस हितग्राही के आवेदन में त्रुटि/विसंगति हो, उस हितग्राही का संबल आईडी दर्ज करना होगा। जिस हितग्राही का संबल आईडी दर्ज किया जाएगा उससे संबंधित आवेदन या ईपीओ निरस्त किया जा सकेगा। जिसके लिए अपीलीय अधिकारी द्वारा अनुमोदित नोटशीट अपलोड किया जाना अनिवार्य है। यह प्रक्रिया करने से हितग्राही का आवेदन जिसमें विसंगति या त्रुटि है, पोर्टल से डिलीट हो जाएगा और पोर्टल पर नया आवेदन दर्ज किया जाना होगा।  उल्लेखनीय है कि नाम, पता, मोबाईल नम्बर सुधार के अधिकार पूर्व से ही विहित प्राधिकारी स्तर पर प्रदान किए गए हैं। विहित प्राधिकारी स्तर पर सुधार कर ईपीओ निरस्ती के लिए अपीलीय अधिकारी के अनुमोदन उपरांत अनुमोदित नोटशीट अपलोड करना होगा, तभी ईपीओ निरस्त किया जा सकेगा। 


फोटो निर्वाचक नामावली का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 2021 कार्यक्रम


भारत निर्वाचन आयोग एवं मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी मप्र भोपाल द्वारा 01 जनवरी 2021 की अर्हता तिथि के आधार पर फोटो निर्वाचक नामावली का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 2021 कार्यक्रम जारी किया गया है। जिसके तहत फार्म, दावे, आपत्ति प्रस्तुत करने की अवधि 24 दिसम्बर 2020 निर्धारित की गई है।  निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार फोटो निर्वाचक नामावली के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 2021 के तहत 12 दिसम्बर, 13 दिसम्बर, 19 दिसम्बर तथा 20 दिसम्बर को विशेष कैम्प आयोजित किए जाएंगे। दावे आपत्तियों का निराकरण 07 जनवरी 2021 तक किया जाएगा। निर्वाचक नामावली का विभिन्न पैरामीटर पर परीक्षण, अंतिम प्रकाशन की अनुमति प्राप्त करने की तिथि तथा डेटाबेस को अद्यतन करने की तिथि 14 जनवरी 2021 से पूर्व  तथा निर्वाचक नामावली का अंतिम प्रकाशन 15 जनवरी 2021 निर्धारित किया गया है। दिनांक 01 जनवरी 2021 को 18 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके युवा तथा अन्य नागरिकों को वोटर लिस्ट में नाम जुड़वाने के लिए फार्म 6 भरना होगा। जिनके नाम पूर्व से ही मतदाता सूची में है तथा उनका मतदान केन्द्र या विधानसभा, जिला इत्यादि बदल गया हो, वे भी नवीन स्थल पर नाम जुड़वाने की कार्यवाही कर सकते है। पुराने स्थान से नाम हटाने हेतु फार्म 7 भरना होगा। निर्वाचन नामावलियों की प्रविष्टियों में संशोधन या सुधार के लिए फार्म 8 तथा एक ही विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के भीतर पते में परिवर्तन होने पर फार्म 8ए भरना होगा।

कोई टिप्पणी नहीं: