क्लीन स्वीप से बचने उतरेगी विराट सेना - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 1 दिसंबर 2020

क्लीन स्वीप से बचने उतरेगी विराट सेना

virat-will-try-to-save-clean-sweep
कैनबरा, 01 दिसंबर, विराट कोहली की टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले दो वनडे में करारी पराजय झेलने के बाद अब बुधवार को कैनबरा के मानुका ओवल मैदान में होने वाले तीसरे और अंतिम वनडे में क्लीन स्वीप से बचने और अपना सम्मान बचाने के मजबूत इरादे से उतरेगी। भारत ने सीरीज के पहले दो वनडे सिडनी मैदान में खेले थे जहां उसे क्रमशः 66 रन और 51 रन से बड़ी पराजय का सामना करना पड़ा था। इन पराजयों के बाद विराट की कप्तानी की कड़ी आलोचना हो रही है और अब तीसरे मुकाबले में विराट को ना केवल अपनी टीम को क्लीन स्वीप से बचाना होगा बल्कि अपना सम्मान भी बचाना होगा। भारत को यदि तीसरे वनडे में वापसी करनी है तो उसके गेंदबाजों को बेहतर प्रदर्शन करना होगा। भारतीय गेंदबाजों ने पहले वनडे में 374 रन और दूसरे वनडे में 389 रन लुटाए थे। इस प्रदर्शन के बाद भारतीय गेंदबाज भी कड़ी आलोचना का सामना कर रहे हैं कि वह खुद को टी-20 प्रारुप से 50 ओवर के प्रारुप में नहीं ढाल पाए हैं जबकि ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों ने यह काम बखूबी किया है। भारतीय टीम और ऑस्ट्रेलिया के कई खिलाड़ी संयुक्त अरब अमीरात में पिछले महीने 10 नवंबर को आईपीएल समाप्त होने के बाद दुबई से सीधे सिडनी पहुंचे थे। ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने लगातार मैचों में जहां बेहतर प्रदर्शन किया है वहीं भारतीय खिलाड़ी अपनी लय तलाशने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। हालांकि भारत ने पहले मैच में 308 रन और दूसरे मैच में 338 रन बनाए लेकिन लक्ष्य बहुत बड़ा होने के कारण टीम इंडिया को हार का सामना करना पड़ा। इन पराजयों से विराट की कप्तानी आलोचना के घेरे में आ चुकी है और पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने विराट के दूसरे वनडे में नयी गेंद से जसप्रीत बुमराह से मात्र दो ओवर में कराने के फैसले की कड़ी आलोचना करते हुए कहा है कि उनकी ऐसी कप्तानी समझ से परे है। गंभीर पहले ही टी-20 कप्तानी से हटाने और रोहित शर्मा को टी-20 कप्तान बनाने की मांग उठा चुके हैं और यदि अब भारत को क्लीन स्वीप का सामना करना पड़ सकता है तो विराट को वनडे कप्तानी से भी हटाने की मांग तेज हो जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं: