दुनिया को मिली पहली व्यावसायिक रूप से सफल मिनीग्रिड कंपनी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 12 दिसंबर 2020

दुनिया को मिली पहली व्यावसायिक रूप से सफल मिनीग्रिड कंपनी

सामुदायिक स्तर की 100 मिनिग्रिड और 5,000 लघु व्यवसाय ग्राहकों को ऊर्जा उपलब्ध करने के साथ ही हस्क पावर सिस्टम बनी व्यावसायिक रूप से पहली सफल मिनीग्रिड कंपनी

world-first-minigrid-company
भारत और अफ्रीका में रिन्यूएबल मिनीग्रिड्स का संचालन करने वाली अग्रणी ग्रामीण ऊर्जा कंपनी,  हस्क पावर, ने घोषणा की है कि उसने अक्षय ऊर्जा उद्योग के क्षेत्र में दो अहम मील के पत्थर पार कर लिए हैं। और यह मील का पत्थर है 100 सामुदायिक मिनीग्रिड्स बनाना और 5,000 से अधिक सूक्ष्म-उद्यम (माइक्रो एंटरप्राइज़) ग्राहकों की ऊर्जा माँग पूरी करना। कोरोनावायरस महामारी के की वजह से होने वाली आर्थिक मंदी के बावजूद, हस्क पावर ने शून्य सेवा व्यवधान को प्राप्त करके और मौजूदा और नए ग्राहकों को आपातकालीन वित्तीय सहायता प्रदान करके अपनी लचीलापन का प्रदर्शन किया है। नतीजतन, भारत में ग्राहकों में 52% की वृद्धि के साथ, यह मार्च से सितंबर तक बढ़ता रहा, और इसी अवधि के दौरान राजस्व में 101% की वृद्धि हुई। अफ्रीका के  बाजारों में भी बराबर वृद्धि हुई।


भारत और तंजानिया में स्थित 100 मिनीग्रिड के साथ, नाइजीरिया सहित अतिरिक्त अफ्रीकी बाजारों में निकट अवधि (नियर टर्म)  विस्तार, 2018 के मध्य से 10 गुना से अधिक वृद्धि का प्रतिनिधित्व करतें हैं। मिनीग्रिड की औसत क्षमता 50 किलोवाट है, ऐसा प्रणाली का आकार जो अधिकांश अन्य ग्रामीण ऊर्जा सेवा प्रदाताओं की तुलना में काफी ज़्यादा बड़ा है और खुदरा (रीटेल) दुकानों, कारखानों, कृषि प्रसंस्करण और कोल्ड स्टोरेज, जल निस्पंदन (फिल्टरन) और स्कूलों, साथ ही घरों सहित छोटे व्यवसायों की एक श्रृंखला के लिए कई उत्पादक भारों को बिजली देने में सक्षम है। कंपनी के बाजार अनुसंधान (मार्केट रिसर्च) के अनुसार, हस्क पावर के माइक्रो-एंटरप्राइज ग्राहकों ने मिनीग्रिड्स से जुड़ने पर, औसतन, मुनाफे में 33% की बढ़ोतरी देखी है। संस्था के CEO (सीईओ) और संस्थापक मनोज सिन्हा ने कहा, "अब हम प्रति सप्ताह कम से कम 2 नए मिनीग्रिड रोल आउट करने (बनाने और लगाने) में सक्षम हैं, जो उद्योग में सबसे तेज विकास दरों में से एक है। साथ ही इस आँकड़े को बेहतर करने के लिए अभी भी हमारे पास काफी स्कोप है।" वो आगे कहते हैं, “100 मिनीग्रिड्स के साथ दुनिया की पहली व्यावसायिक रूप से व्यवहार्य मिनीग्रिड कंपनी बनने के सात ही हम अगले 12 महीनों में अपने मिनीग्रिड बेड़े को दोगुना (200) करने की ओर बढ़ रहे हैं। यह 500,000 सूक्ष्म-उद्यम ग्राहकों की सेवा करने वाले 5,000 मिनीग्रिड साइटों तक पहुंचने के हमारे दृष्टिकोण के अनुरूप है।” हस्क पावर बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स के चेयरमैन ब्रैड मैटसन कहते हैं, "हस्क पावर दिखा रहा है कि मिनीग्रिड सेक्टर का क्या पैमाना है और कंपनी को 2021 में एक और सफलता वर्ष के लिए स्थापित कर रहा है जिसमें हम परिचालन लाभप्रदता प्राप्त करने की योजना बनाते हैं।"

कोई टिप्पणी नहीं: