गया : टीकाकरण के पश्चात 30 मिनट तक लाभार्थी का अवलोकन करें : डीएम - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 12 जनवरी 2021

गया : टीकाकरण के पश्चात 30 मिनट तक लाभार्थी का अवलोकन करें : डीएम

16 जनवरी 2021 से कोविड-19 टीकाकरण का पहला चरण प्रारंभ होगा, जिसमें स्वास्थ्य सेवा से जुड़े चिकित्सक, नर्स, पारा मेडिकल स्टाफ, वहां के सुरक्षा गार्ड, सफाई कर्मी के साथ-साथ स्वास्थ सेवा से जुड़े आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका एवं आशा कार्यकर्ता का टीकाकरण किया जाएगा....

covid-vaccine-gaya
गया। मुख्य सचिव, बिहार श्री दीपक कुमार की अध्यक्षता में कोविड वैक्सीनेशन की तैयारी से संबंधित सभी जिलों के जिला पदाधिकारी के साथ समीक्षा बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया गया। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में प्रधान सचिव स्वास्थ्य विभाग द्वारा बताया गया कि 16 जनवरी 2021 से कोविड-19 वैक्सीनेशन का शुभारंभ हो रहा है। इसके तहत सभी आवश्यक तैयारी सभी जिला पूर्व में ही कर ले। उन्होंने कहा कि भारत सरकार के निर्देशानुसार राज्य में कोविड-19 वैश्विक महामारी के नियंत्रण  के लिए 16 जनवरी 2021 से प्रारंभ किए जाने वाले कोविड-19 टीकाकरण के लिए पूरे राज्य में 300 सत्र स्थलों का चयन किया गया है। उन्होंने कहा कि सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों की  सूची में अंकित सत्र स्थलों पर भारत सरकार के निर्देश के आलोक में कोविड-19 टीकाकरण के शुभारंभ एवं कार्यक्रम को वेबकास्टिंग किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सत्र स्थल का निर्धारण निर्वाचन बूथ के अनुसार ही किया जाएगा। सत्र स्थल पर कम से कम तीन कक्ष रहेगा। पहला कक्ष लाभार्थियों के टीका लेने के लिए वेटिंग एरिया, दूसरा कक्ष टीकाकरण  के लिए एवं तीसरा कक्ष टीकाकरण के पश्चात 30 मिनट तक लाभार्थी के निगरानी/ देखभाल  के लिए ऑब्जरवेशन रूम। उन्होंने कहा कि ऑब्जरवेशन रूम में पर्याप्त संख्या में बेड एवं कुर्सी की उपलब्धता सुनिश्चित किया जाय। ऑब्जरवेशन रूम में पेयजल की व्यवस्था, मनोरंजन के लिए टीवी की व्यवस्था एवं अन्य आधारभूत व्यवस्थाएं सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि 100 लाभार्थियों की संख्या पर एक दल गठित किया जाए, जिसमें सुरक्षाकर्मी (वैक्सीनेशन पदाधिकारी -01) भीड़ नियंत्रण एवं सुरक्षा का कार्य करेंगे। सत्यापनकर्ता (वैक्सीनेशन पदाधिकारी-02) लाभार्थियों को सत्यापित करना (चुनाव बूथ के अनुसार यह कार्य दक्ष डाटा ऑपरेटर आदि) द्वारा किया जाएगा।  टीका कर्मी (वैक्सीनेशन पदाधिकारी -01) लाभार्थी का टीकाकरण का कार्य करेंगे। सहयोग कर्मी /उत्प्रेरक जो टीका कर्मी को सहयोग करेंगे। टीकाकरण के पश्चात 30 मिनट तक लाभार्थी का अवलोकन करेंगे। सहयोग कर्मी/ उत्प्रेरक (वैक्सीनेशन पदाधिकारी-04) टीका कर्मी को सहयोग करेंगे। टीकाकरण के पश्चात 30 मिनट तक लाभार्थी का अवलोकन करेंगे।  कोविड-19 टीकाकरण  के लिए cowin पोर्टल के माध्यम से स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं की सूची तैयार रखा जाए तथा टीकाकरण हेतु लाभार्थियों के रूप में सभी स्तर के लाभार्थियों अर्थात स्वास्थ्य कर्मी, सफाई कर्मी, एंबुलेंस चालक, स्वास्थ्य पदाधिकारियों इत्यादि को समान रूप से सम्मिलित किया जाए तथा चयनित सत्र स्थलों पर 16 जनवरी 2021 को टीकाकरण हेतु नामित सभी लाभार्थियों की सूची संबद्ध टीकाकरण सत्र स्थल पर 14 जनवरी 2021 तक अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराया जाए। कोविड-19 टीकाकरण से संबंधित आवश्यक लॉजिस्टिक दिनांक 14 जनवरी 2021 तक चयनित स्थलों पर उपलब्ध करा दिया जाएगा तथा कोविड-19 का टीका संबंधित शीत श्रृंखला इकाई (कोल्ड चैन पॉइंट) पर दिनांक 15 जनवरी 2021 तक मानक तापमान को बनाए रखने हेतु संधारित किया जाए।  टीकाकरण केंद्र पर समुचित मात्रा में हैंड सैनिटाइजर, मास्क इत्यादि की व्यवस्था रखी जाए ताकि लाभार्थी एवं कर्मियों के द्वारा हैंड सेनीटाइजर का उपयोग किया जा सके साथ ही कोविड-19 संक्रमण से बचाव  के लिए साफ सफाई पर पूर्णरूपेण ध्यान देते हुए पूर्व में निर्गत प्रोटोकॉल का अनिवार्य रूप से अनुपालन कराया जाए। कोविड-19 टीकाकरण के पश्चात लाभार्थी को किसी प्रकार की परेशानी के प्रबंधन हेतु सत्र स्थल पर anaphylasis kit एवं AEFI KIT की पर्याप्त संख्या में उपलब्धता सुनिश्चित किया जाए तथा इसके उपयोग  के लिए संबद्ध टीका कर्मी/ चिकित्सक को आवश्यक प्रशिक्षण पूर्व में ही दिया जाए। कोविड-19 टीकाकरण के शुभारंभ एवं कार्यक्रम को वेबकास्ट किए जाने  के लिए निर्धारित स्थलों पर पूर्व से ही ट्राइल करा लिया जाए। बैठक में बताया गया कि 'कोविड-19 टीकाकरण  के लिए गया जिला अंतर्गत कुल 14 स्थलों को चिन्हित किया गया है',जिनमें प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र आमस, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बांके बाजार, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बाराचट्टी, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बेलागंज, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बोधगया, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खिजरसराय, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मानपुर, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र परैया, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शेरघाटी, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र वजीरगंज, अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल, प्रभावती लेडीज हॉस्पिटल, अभय इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस प्राइवेट लिमिटेड तथा रेड क्रॉस सोसाइटी गया शामिल है। बैठक में जिला पदाधिकारी गया श्री अभिषेक सिंह ने सिविल सर्जन गया तथा डीपीएम स्वास्थ्य को निर्देश दिया कि कोविड-19 टीकाकरण  के लिए चयनित स्थलों पर निर्वाचन में मॉडल बूथ के तर्ज पर कोविड-19 टीकाकरण के लिए मॉडल पंडाल तैयार करें तथा उन्हें आधुनिक सजावट से लैस रखें। सभी चयनित स्थलों पर पेयजल, शौचालय एवं अन्य आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध रखी जाए। पुरुष, महिलाएं एवं दिव्यांग व्यक्तियों के लिए बैठने की पर्याप्त व्यवस्था रखी जाए। चयनित सभी स्थानों पर एक-एक एंबुलेंस रखा जाए। उन्होंने कहा कि बड़े पैमाने पर टीकाकरण किया जाएगा इसके लिए पूर्व में ही सभी व्यवस्थाएं को दुरुस्त रखा जाए।

कोई टिप्पणी नहीं: