सड़क दुर्घटना में हर दिन होती है 415 लोगों की मृत्यु : गडकरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 19 जनवरी 2021

सड़क दुर्घटना में हर दिन होती है 415 लोगों की मृत्यु : गडकरी

415-people-daily-died-in-road-accident-gadkari
नयी दिल्ली, 18 जनवरी, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि देश में सड़क दुर्घटनाओं में हर दिन 415 लोगों की मृत्यु हो रही है लेकिन सरकार इस दिशा में सुधार के लिए तेजी से काम कर रही है इसलिए उन्हें भरोसा है कि सड़क दुर्घटनाओं में 50 फीसदी कमी लाने के लक्ष्य को पांच साल पहले 2025 तक हासिल कर लिया जाएगा। श्री गडकरी ने सोमवार को यहां सड़क सुरक्षा पर एक माह तक चलने वाले कार्यक्रम का उद्घटन करते हुए कहा कि सड़क दुर्घटनाओं के कारण देश में हर महीने 415 लोगों की जान जा रही है। सड़क दुर्घटनाएं कम हों इसके लिए सड़कों की इंजीनियरिंग पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है और जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं। सडक़ों पर जिन स्थानों पर ज्यादा दुर्घटनाएं होती हैं उन जगह की पहचान कर उनको ठीक किया जा रहा है और इसके लिए 14 हजार करोड़ रुपए की व्यवस्था की गयी है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पिछले वर्ष स्वीडन के साथ 'शून्य सड़क मृत्यु दर' थीम पर आधारित कार्यक्रम के दौरान 2030 तक भारत में 50 फीसदी सड़क दुर्घटनाओं को कम करने का लक्ष्य तय गरखा गया था लेकिन उन्होंने उम्मीद जतायी कि देश में सड़क सुरक्षा को लेकर जिस गति से काम हो रहा है उसे देखते हुए 2025 तक इस लक्ष्य को हासिल कर लिया जाएगा। रक्षा मंत्री राजनाथसिंह ने समारोह को संबांधित करते हुए कहा कि सड़कें आर्थिक विकास की जीवन रेखा होती हैं और जिस देश में सड़कों को अच्छा विकास होता है वहां स्वत: ही आर्थिक गतिविधियां बढनी शुरू हो जाती है। कार्यक्रम को सड़क परिवहन मंत्रालय में राज्य मंत्री वी के सिंह तथा नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमिताभ कांत ने भी संबोधित किया।

कोई टिप्पणी नहीं: