गणतंत्र दिवस पर हिंसा के लिए अमित शाह जिम्मेदार : कांग्रेस - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 27 जनवरी 2021

गणतंत्र दिवस पर हिंसा के लिए अमित शाह जिम्मेदार : कांग्रेस

amit-shah-responcible-for-violance-congress
नयी दिल्ली, 27 जनवरी, कांग्रेस ने गणतंत्र दिवस पर राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में किसान आंदोलन के दौरान हुई हिंसा को खुफिया तंत्र की विफलता बताते हुए कहा है कि गृहमंत्री अमित शाह इसके लिए जिम्मेदार है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उन्हें तत्काल बर्खास्त करना चाहिए। कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख रणदीपसिंह सुरजेवाला ने बुधवार को यहां पार्टी मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कानून व्यवस्था और खुफिया तंत्र की नाकामी के लिए श्री शाह जिम्मेदार हैं। किसान आंदोलन की आड़ में दिल्ली में जो सुनियोजित हिंसा तथा अराजकता हुई है उससे जुड़ी सारी खुफिया जानकारी श्री शाह के पास थी और उसके बावजूद हिंसा का तांडव रोकने में वह नाकाम रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब सारी जानकारी गृहमंत्री को थी तो समय पर हिंसा रोकने के लिए कदम नहीं क्यों नही उठाए गये। उन्होंने इसे गृहमंत्री की विफलता बताया और कहा कि इस नाकामी को देखते हुए श्री शाह को एक पल भी पद पर बने रहने का हक नहीं है। उनका कहना था कि एक साल के भीतर दिल्ली में दूसरी बार हिंसा हुई है जिससे साबित होता है कि श्री शाह इस पद के लिए काबिल नहीं हैं इसलिए उन्हें बर्खास्त किया जाना चाहिए। प्रवक्ता ने कहा कि सरकार उपद्रिवयों के साथ मिली है और सोची समझी साजिश के तहत दोनों की मिलीभगत से दिल्ली में हिंसा को अंजाम दिया गया है। सरकार आंदोलनकारी किसानों की समस्या का समाधान करने की बजाए उन्हें बदनाम करने की कोशिश कर रही है। इसी का परिणाम है कि सरकार उपद्रवियों तथा अवांछित तत्वों पर कार्रवाई करने की बजाए किसान मोर्चा के नेताओं पर मुकदमे दर्ज कर रही है।

कोई टिप्पणी नहीं: