कई बार भारतीय गेंदबाजों के जाल में फंस गए : लाबुशेन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 1 जनवरी 2021

कई बार भारतीय गेंदबाजों के जाल में फंस गए : लाबुशेन

australian-batsman-trapped-by-spinners-lobushan
मेलबर्न, एक जनवरी, आस्ट्रेलियाई बल्लेबाज मार्नस लाबुशेन ने स्वीकार किया कि उनके बल्लेबाज रविचंद्रन अश्विन की अगुवाई में भारतीय गेंदबाजों के जाल में फंस गए हालांकि उन्होंने खराब फॉर्म में चल रहे स्टीव स्मिथ का बचाव किया । आस्ट्रेलियाई टीम चार में से तीन पारियों में 191, 195 और 200 रन पर आउट हो गई । अश्विन ने अभी तक दस विकेट लिये हैं जिनमें से स्मिथ को दो और लाबुशेन को एक बार आउट किया । लाबुशेन ने एक वर्चुअल प्रेस कांफ्रेंस में कहा ,‘‘ मैने इससे पहले कभी अश्विन का सामना नहीं किया । इसके कोई आंकड़े नहीं मिल सकते कि महान गेंदबाज होने के अलावा वह इतना चतुर गेंदबाज भी है।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ वह वाकई तैयारी के साथ आया है । हम उनके जाल में कई बार फंस गए । भारतीयों ने शानदार गेंदबाजी की , चाहे स्पिन हो या तेज गेंदबाजी ।’’ उन्होंने स्मिथ का बचाव करते हुए कहा ,‘‘ आप चाहे कुछ भी कहें लेकिन कुछ समय पहले ही उसने वनडे क्रिकेट में बड़ा शतक लगाया था (भारत के खिलाफ सिडनी में) ।’’ उनके खराब फॉर्म के बारे में पूछने पर लाबुशेन ने कहा ,‘‘ उसने सीमित ओवरों से इधर ज्यादा क्रिकेट खेली है और लाल गेंद से ज्यादा खेलने का मौका नहीं मिला । यह क्रिकेट और कोरोना काल की सच्चाई है।’’ लाबुशेन ने कहा ,‘‘ उसका टेस्ट क्रिकेट में 60 से अधिक का औसत है । वह अपने कैरियर की शुरूआत से लेकर अभी तक लगातार अच्छा खेलता आया है ।उसे तेजी से रन बनाना पसंद है ।’’ उन्होंने कहा कि भारतीयों ने लेग साइड में फील्ड लगाकर रन बनाने के मौके कम कर दिये । उन्होंने कहा ,‘‘ भारतीय टीम पूरी रणनीति लेकर उतरी थी और उस पर बखूबी अमल किया । लेग साइड पर रन बनाना मुश्किल हो रहा था । इसके अलावा उनकी कैचिंग भी अच्छी रही । हमें भी उन पर दबाव बनाने के तरीके तलाशने होंगे ।’’ आस्ट्रेलिया ने मेलबर्न टेस्ट में आठ कैच टपकाये जिनमें से दो लाबुशेन ने छोड़े । उन्होंने कहा ,‘‘ हमारे सभी फील्डर अपनी अपनी पोजिशन पर मेहनत कर रहे हैं । यह एकाग्रता की बात है । फोकस बनाये रखने की जरूरत है ।’’ तीसरा टेस्ट सात जनवरी से सिडनी में खेला जायेगा ।

कोई टिप्पणी नहीं: