बिहार : अब मोजा पहनकर परीक्षा केन्द्र में प्रवेश कर सकते हैं - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 31 जनवरी 2021

बिहार : अब मोजा पहनकर परीक्षा केन्द्र में प्रवेश कर सकते हैं

  • इंटरमीडिएट परीक्षा स्वच्छ, निष्पक्ष एवं कदाचारमुक्त वातावरण में कराने का निर्देश
  • * शांति-व्यवस्था भंग करने का प्रयास करने वाले असामाजिक तत्वों के विरूद्ध की जायेगी सख्त कार्रवाई
  • *01 फरवरी से 13 फरवरी तक जिले के 40 केन्द्रों पर संचालित होगी इंटरमीडिएट परीक्षा
  • *दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा-144 एवं बिहार परीक्षा संचालन अधिनियम-1981 का सख्ती से अनुपालन कराने का निर्देश

inter-exam-with-shoks-in-bihar
बेतिया। जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार ने कहा कि सभी अधिकारी, केन्द्राधीक्षक जिले में अच्छे तरीके से विभिन्न परीक्षाओं का संचालन करते रहे हैं। इंटरमीडिएट परीक्षा के दौरान सभी को पूरी तरह चौकस रहकर अपने-अपने कर्तव्यों एवं दायित्वों का निवर्हन करना है ताकि इंटरमीडिएट परीक्षा को पूर्ण स्वच्छ, निष्पक्ष एवं कदाचारमुक्त वातावरण में सम्पन्न करायी जा सके।  यह परीक्षा दिनांक-01.02.2021 से प्रारंभ होकर दिनांक-13.02.2021 तक दो पालियों (प्रथम पाली 09.30 बजे पूर्वाह्न से 12.45 बजे अपराह्न तक एवं द्वितीय पाली 01.45 बजे अपराह्न से 5.00 बजे अपराह्न तक) में संचालित की जायेगी। किसी भी प्रकार की शिकायतें प्राप्त नहीं होनी चाहिए। जिलाधिकारी समाहरणालय सभाकक्ष में संबंधित अधिकारियों को निर्देशित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इंटरमीडिएट परीक्षा जिले के कुल-40 केन्द्रों पर आयोजित की जा रही है। जिसमें बेतिया अनुमंडल अंतर्गत 27, बगहा अनुमंडल अंतर्गत 07 एवं नरकटियागंज अनुमंडल अंतर्गत 06 परीक्षा केन्द्र शामिल हैं। किसी भी सूरत में शांतिपूर्ण, स्वच्छ एवं निष्पक्ष परीक्षा में बाधा उत्पन्न नहीं होने दिया जाय। परीक्षा के अवसर पर शांति-व्यवस्था भंग करने का प्रयास करने वाले आसामजिक तत्वों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई की जायेगी। पुलिस अधिकारी सशस्त्र बलों के साथ चौकन्ना रहकर परीक्षा केन्द्रों का लगातार गश्ती करते रहेंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि जिन परीक्षा केन्द्रों पर चहारदीवारी नहीं है वहां बैरिकेडिंग की समुचित व्यवस्था ससमय कर ली जाय। साथ ही परीक्षा केन्द्रों पर पर्याप्त रौशनी की व्यवस्था भी की जाय ताकि परीक्षार्थियों को परेशानियों का सामना नहीं करना पड़े। साथ ही परीक्षा केन्द्रों पर अन्य आवश्यक संसाधनों शौचालय, पेयजल आदि की उपलब्धता ससमय सुनिश्चित कर ली जाय। साथ ही कोविड-19 प्रोटोकाॅल का शत-प्रतिशत अनुपालन कराना सुनिश्चित किया जाय।


उन्होंने कहा कि परीक्षा कक्ष में कोई भी परीक्षार्थी, वीक्षक एवं अन्य कर्मी मोबाईल या अन्य इलेक्ट्राॅनिक उपकरण ब्लूटूथ, पेजर आदि फोन लेकर नहीं जायेंगे, इसका अनुपालन दृढ़ता से सुनिश्चित किया जाय। साथ ही अपने निर्धारित स्थान से हटकर परीक्षा कक्ष में या अन्यत्र भ्रमण नहीं करेंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि परीक्षा केन्द्र में परीक्षार्थियों के प्रवेश के समय गेट पर अच्छे तरीके से तलाशी ली जाय। महिला परीक्षार्थियों की तलाशी महिला पदाधिकारी, कर्मी करेंगी। इस के लिए गेट के बगल में कपड़े से घेरकर अस्थायी छोटा सा घेरा तैयार कर लिया जाय। उन्होंने कहा कि इंटरमीडिएट परीक्षा में सम्मिलित होने वाले सभी परीक्षार्थियों के लिए जूता-मोजा पहनकर परीक्षा केन्द्र पर प्रवेश कर सकते हैं।  जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि प्रत्येक परीक्षा केन्द्र के बाहर एवं अन्य आवश्यक स्थानों पर सीसीटीवी कैमरा लगाने की विधिवत व्यवस्था करेंगे ताकि कदाचारमुक्त परीक्षा संचालन में बाधा डालने वाले असामाजिक तत्वों पर कड़ी कार्रवाई की जाय सके। इसके लिए फ्लेक्स, बैनर, पोस्टर पर आप सीसीटीवी कैमरा की निगरानी में हैं, परीक्षा केन्द्रों पर प्रदर्शित किया जाय। सभी अनुमंडल पदाधिकारियों को परीक्षा की पूरी प्रक्रिया की निर्बाध वीडियोग्राफी कराने का निर्देश भी दिया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि परीक्षा के सफल संचालन के लिए वरीय स्टैटिक दंडाधिकारी, स्टैटिक दंडाधिकारी, स्टैटिक पुलिस पदाधिकारी, गश्ती दल दंडाधिकारी, जोनल दंडाधिकारी, सुपर जोनल दंडाधिकारी-सह-उड़नदस्ता दल, महिला दंडाधिकारी सहित पर्याप्त संख्या में पुलिस बलों की प्रतिनियुक्ति परीक्षा केन्द्रों पर कर दी गयी है। सभी अधिकारी एवं कर्मी अपने-अपने कर्तव्यों एवं दायित्वों का निवर्हन अच्छे तरीके से करेंगे। उन्होंने कहा कि सभी अनुमंडल पदाधिकारी दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा-144 एवं बिहार परीक्षा संचालन अधिनियम-1981 का सख्ती के साथ अनुपालन कराना सुनिश्चित करेंगे। प्रत्येक परीक्षा केन्द्र के पांच सौ गज के व्यासार्द्ध में विधि-व्यवस्था संधारण हेतु अपने स्तर से निषेधाज्ञा लागू करेंगे। परीक्षा दिवस 01.02.2021 से 13.02.2021 तक प्रातः 7.00 बजे से 6.00 बजे अपराह्न तक समाहरणालय भवन में दूरभाष संख्या-06254-242534 पर जिला नियंत्रण कक्ष कार्यरत रहेगा, जिसके प्रभार में सुश्री सुभाषिणी प्रसाद, वरीय उप समाहर्ता-सह-सहायक निदेशक, जिला सामाजिक सुरक्षा कोषांग रहेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: