झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 10 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 11 जनवरी 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 10 जनवरी

राम मंदिर समर्पण निधि के लिए निकली शोभा यात्रा, राष्ट्रीय कवि ओजस्वी वक्ता मुकेश मोलवा ने किया संबोधित

  • राम जीतने कोशल्या के बेटे हे उतने ही मां शबरी के हे- मुकेश मोलवा

jhabua news
पारा । अयोध्या मे बन रहे राम मंदिर निर्माण कि समर्पण निधि के लिए आज हिन्दू संगठन ने नगर के राम मदिर प्रागण से एक शोभा यात्रा निकाली जो कि नगर प्रमुख मार्गो से होती हुई स्थानिय बस सटेण्ड प्रागण पर जा कर एक धर्म सभा मे परिर्वतित होगई। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि राष्ट्रीय कवि ओजस्वी वक्ता मुकेश मोलवा ने बस स्टेण्ड पर एक महती धर्मसभा को संबोधित करते हुए कहा कि राम जितने कोशल्या के बेटे हे उतने ही मां शबरी के बेटे है। राम हमारे आराध्य हे इस धरती के कण कण मे घट घट मे रचे बसे हे। अब राम लाला के भव्य मंदिर निर्माण का समय आगया हे। इसके लिए किसी चंदे अथवा दान कि जरुरत नही हे। दान दाता तो कई हे जो मंदिर का निर्माण करवा सकते हे पर जरुरत हे समर्पण कि । उस समर्पण कि जो अमीर से लेकर गरिब तक कि हर घर से हर एक शबरी कि झोपडी से राम के नाम पर समर्पण चाहिए। राम जब हम सबके हे हम सबको ही राम लाला का भव्य मंदिर बनाना हे। श्री मोलवा ने अपने उदबोधन मे कहा कि राम मंदिर के लिए हिन्दुओ कि यह लडाई सन 1528 से आरंभ हुई जो करिब पांच सो साल से भी ज्यादा समय चली जिसमे करिब 6 लाख हिन्दु भाईयो ने अपना बलिदान दिया। धर्म सभा को सेमलिया धाम के संत कानुराम जी महाराज व आरएसएस के जनजाती मामलो के रतलाम विभाग के पालक राजेश डावर ने कहा कि प्राचिनकाल से हमारे अदिवासी  भाई बन्धु राम राम बोलते आ रहे। अब कई प्रकार के संगठन के लोग आदिवासी समाज को भ्रमित कर रहे। हमे भ्रमित नही होना हे। राम हमारे रग रग मे बसे हे। हम उठते बेठते हर कार्य का आरंभ राम केनाम से करते आए हे। अब राम के मंदिर के लिए हम सभी को मिलकर सहयोग करना हे। कार्यक्रम के सह संयोजक अमृत राठोड ने भी धर्म सभा को संबोधित किया हे। इससे पुर्व श्रद्धालु जनो ने डीजे साउन्ड के साथ स्थानिय राम मंदिर से होते हुवे नगर के प्रमुख मार्गो से रामलाला के चित्र के साथ भगवा ध्वज लहराते हुवे भव्य शोभा यात्रा निकाली जिसका नगर मे जगह जगह पर पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया। कार्यक्रम का संचालन नितिन राठोड ने कियाव आभार शुभम सोनी ने माना। इस अवसर पर रामा उप खण्ड कार्यवाहक उमेश सेतन व समर्पण निधि के पारा मण्डल हिसाब प्रमुख राजा सरतलीया ने बताया कि आगामी 14 जनवरी से 15 फरवरी तक गांव गांव घर घर व हर एक व्यक्ती तक संघ कि टोली पहुचेगी ओर श्रीराम जन्मभुमी तीर्थ क्षेत्र समर्पण निधि अभीयान कि राशी संकलन करेगी।


लर्न म्यूजिक एट योर होम , भारत में ये पहला प्रोजेक्ट हे जिस में गाना और बजाना दोनों एक ही फॉर्मेट में शिखनेका हे

टेक्नोलॉजी के द्वारा घर बैठे सरल तरीके से गाना और बजाना दोनों साथ में शिखाते संगीतकार मनीष राज्यगुरु

jhabua news
झाबुआ । संगीत शिखना कोई बच्चो का खेल नहीं हे ये कला सीखने के लिए कोई निष्णांत गुरु की जरुरत होती हे ! लेकिन हम आप को एक ऐसे गुरु का परिचय कराये जो आप को अपने घर पर रहके अपने कंप्यूटर स्कीन या मोबाइल स्कीन पे आप को संगीत का ज्ञान दे तो केसा रहे ? ऐसे ओंन लाइन गुरु हे गुजरात कि बनासकाठा जिले के पालनपुर के मनीष राज्यगुरु। मनीष भाई पिछले ४० सालो से संगीत के क्षेत्र में हे वो अलग अलग स्कूलों में संगीत सिखाने जाते हे और विद्यार्थियों को ताल और स्वर का ज्ञान देते हे ,,,विद्यार्थियों को संगीत में रूचि देख के मनीष भाई ने सोचा की अगर विद्यार्थियों अपने आप संगीत सीखने लगे तो केशा रहे ,,, ये सोचते मनीष भाई पिछले ८ सालो से संगीत में संसोधन कर रहे हे की किस तरह से विद्यार्थियों आसानी से अपने आप संगीत में गाना और बजाना सिख शके इसके लिए पहले उन्होंने सॉफ्टवेयर एंजीनियर का अभ्यास किया,,,, फिर विद्यार्थियों संगीत सीखने में कहा पे तकलीफ आती हे उसे जानने के लिए प्रैक्टिकल विद्यार्थियोंके साथ संगीत शिखाये तब पता चले उसके लिए उन्होंने ९ साल संगीत शिक्षक की सेवा की और काफी बारीकी से ये देखा की क्या तकलीफ आती हे बच्चो को और संगीत शिक्षक को संगीत शिखना और सीखने में ये अनुभव के बाद उन्होंने एक अपने हिसाब से एक सॉफ्टवेयर बनवाया और उस सॉफ्टवेयर के द्वारा भारत और विदेशो में रहते भारतीयों के अलग अलग स्कूलों और संगीत सन्थायो का उनका राग और गीतों का प्रोजेक्ट बनाके देते हे ! भारत में ये पहला प्रोजेक्ट हे जिस में गाना और बजाना दोनों एक ही फॉर्मेट में शिखनेका हो मनीष राज्यगुरु के म्यूजिक प्रोजेक्ट गुजरात के स्कूलों में युनिसेफ सन्था जो वर्ल्ड में बच्चो के आरोग्य और शिक्षण में कार्य करती हे और गुजरात गोवेर्मेंट के शहयोग से प्रार्थना और देश भक्ति गीति का म्यूजिक प्रोजेक्ट पिछले २ सालो से चल रहा हे जिसमे अब तक ३००० विद्यार्थी औ को सुर और ताल से साथ गाना और बजाना अपने आप शिखे हे जो ये प्रोजेक्ट की उपलब्धि हे ! मनीष भाई राज्यगुरु का कहना हे की ये प्रोजेक्ट के द्वारा उस स्कूलों तक भी संगीत की कला दे शकते हे जहा पे संगीत शिक्षक नहीं हो और शहर से काफी दूर तक जो काफी छोटे गांव हे वह तक कला का ज्ञान ईश प्रोजेक्ट के द्वारा देना चाहते हे उसके लिए वो पिछले १० साल से कार्य कर रहे हे मनीष भाई राज्यगुरु फेस बुक के द्वारा लोगो को संगीत का शिक्षण दे रहे हे।


भाजपा मंडल झाबुआ ने पेम्पलेट बाटकर किसान हितेषी कानून को लोगो को समझाया।


झाबुआ।भाजपा मंडल झाबुआ द्वारा 10 जनवरी को झाबुआ के ग्राम मिंडल मे किसान बिल के फायदों से ग्रामीणों को अवगत कराया एवं बिल के समर्थन मैं लोगो को जागरूक किया इस अवसर पर मंडल अध्यक्ष अंकुर पाठक,  मंडल महामंत्री जुवानसिंह गुंडिया एवं पपिस पानेरी,अजय डामोर,टीकू डामोर , कमलेश,दिलीप सोमजी एवं अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे ।भाजपा नगर मंडल ने किसान कानून को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संदेश लिखे भाजपा के पम्पलेट घर-घर जाकर बांटकर कानून के बारे में समझाए।वही मातृशक्ति को भी इस कानून से अवगत करवाया गया। यह जानकारी संयुक्त रूप से जिला मीडिया प्रभारी योगेंद्र नहर और नगर मीडिया प्रभारी प्रियंक तिवारी ने दी।


“”सम्मान” अभियान” : कुछ कहो, कुछ करो समझदारी से


झाबुआ । माननीय मुख्यमंत्री मध्यप्रदेश द्वारा दिनांक 11.01.2021 को मिंटो हॉल में दोपहर 1रू30 बजे प्रदेश स्तरीय महिला जन जागरूकता अभियान “सम्मान” सभी विभागों के संयुक्त समन्वय एवं पूरी ऊर्जा के साथ किया जावेगा। अभियान के मुख्य उद्देश्य महिला अपराध के उन्मूलन में समाज की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करना है एवं महिला एवं बालिकाओं के लिए समाज में सम्मानजनक अनुकूल वातावरण तैयार करना है। साथ ही जनमानस को कानून के विधिक प्रावधानों के प्रति जागरूक कर मानसिक रूप से सशक्त करना है, जिससे कि स्वयं महिलाएं ही नहीं अपितु समाज के सभी वर्ग, महिला सुरक्षा के प्रति जागरूक होकर अपने कर्तव्य का निर्वहन करें।इस उद्देश्य से इस अभियान के दो मुख्य नारे हैं “कुछ कहो, कुछ करो समझदारी से” एवं “असली हीरो”। माननीय मुख्यमंत्री द्वारा अभियान के शुभारंभ में उन नागरिकों को, जिन्होंने महिला अपराध को रोकने अथवा घटित होने के उपरांत पीड़िता के समर्थन में सकारात्मक कार्य किए हैं, ‘असली हीरो’ के रूप में सम्मानित किया जावेगा। इस अभियान में एक 16 वर्षीय बालिका “गुड्डी” का डंेबवज (शुभंकर) विकसित किया गया है जो न केवल अपनी सुरक्षा के लिए सजक है, अपितु दूसरों को भी सचेत करती है। माननीय मुख्यमंत्री द्वारा इस शुभंकर का अनावरण उद्घाटन कार्यक्रम में किया जाएगा। साथ ही अभियान के लिए विकसित पोस्टर पुस्तिका का विमोचन एवं महिला सुरक्षा गान का प्रस्तुतीकरण किया जाएगा।  इस 15 दिवसीय अभियान के दौरान निबंध, चित्रकला, वाद-विवाद प्रतियोगिता के साथ ही वेबिनार, दूरदर्शन, एफएम एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के माध्यम से साइबर अपराध से सुरक्षा के लिए जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन कलेक्टर झाबुआ श्री रोहित सिंह एवं पुलिस अधीक्षक झाबुआ श्री आशुतोष गुप्ता के निर्देशन में संपूर्ण जिले में संचालित किया जावेगा। अभियान में सभी संबंधित विभागों से समन्वय स्थापित कर सार्वजनिक स्थलों पर महिलाओ एवं बालिकाओं के लिए सुरक्षित वातावरण निर्मित करने का प्रयास किया गया है। इस कार्यक्रम का वेब लिंक ीजजचेरूध्ध्ूमइबंेजण्हवअण्पदध्उचध्बउमअमदजेध् है और इस लिंक पर द्वारा उद्घाटन कार्यक्रम नागरिकों द्वारा देखा जा सकता है।आमजन से अनुरोध है कि “सम्मान” अभियान को सफल बनाने में पुलिस का सहयोग करें ताकि हम सब मिलकर महिलाओं को सुरक्षा का वातावरण दे सकें।


कोचिंक क्लास के लिए पंजीयन आरम्भ होगे ंआज से


झाबुआ। जिला प्रशासन झाबुआ द्वारा झाबुआ जिले में पीएसी एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के उद्देश्य से कोचिंग का प्रारंभ किया जा रहा है। इसके लिए रजिस्ट्रेशन ओपन कर दिए गए हैं। रजिस्ट्रेशन के लिए उत्कृष्ट विद्यालय में संपर्क कर अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते ह। पंजीयन उत्कृष्ट विद्यालय में 11 जनवरी सोमवार से प्रारंभ हो जाएंगे और शाम पांच से सात नियमित कक्षाओं का संचालन प्रतिदिन उत्कृष्ट मैदान के समीप स्थित प्रशिक्षण केंद्र पर कोचिंग क्लास लगाई जाएगी। कार्यक्रम का शुभारंभ करने के लिए सर्वप्रथम एक कार्यशाला का आयोजन किया गया है। 12 जनवरी को 5 बजे उक्त कोचिंग क्लास में जिले के प्रशासनिक अधिकारी कलेक्टर श्री रोहित सिंह सीईओ जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्री प्रशांत आर्या, सहायक आयुक्त आबकारी श्री शादाप सिद्दकी, जिला पदाधिकारी सहित अन्य अधिकारीगण अपना मार्गदर्शन प्रदान करेंगे। साथ ही जिले के उत्कृष्ट विद्यालय एवं अन्य विद्यालय के शिक्षक गण भी कोचिंग में अपना मार्गदर्शन प्रदान करेंगे यह कोचिंग पूरी तरह जिला प्रशासन द्वारा निःशुल्क संचालित की जावेगी।


रामा में 361 दिव्यांगजनों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया


झाबुआ। भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा संचालित एडिप योजना अन्तर्गत दिव्यांगजनो को निःशुल्क सहायक उपकरण प्रदान करने हेतु कलेक्टर श्री रोहित सिंह के निर्देशानुसार एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन के मार्गदर्शन में उत्कृष्ट विद्यालय रामा में शिविर का आयोजन किया गया। जिसमे दिव्यांगजनों के सुविधा के लिए जनपद पंचायत रामा द्वारा अलग-अलग काउंटर लगाकर पंजीयन का कार्य किया गया। शिविर दिव्यांगजनों के आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए भी अलग से 2 काउंटर बनाये गए थे। 1 काउंटर जिला पुनर्वास केंद्र का था। शिविर स्थल पर जनपद अध्यक्ष श्री राधुसिंह भूरिया,सांसद प्रतिनिधि श्री दिनेश अमलियार, भाजपा मंडल अध्यक्ष,एवं अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थिति रहे। शिविर में उपसंचालक सामाजिक न्याय श्री दिनेश वर्मा,मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री मदनलाल टांक, खंड शिक्षा अधिकारी श्री सिरोटिया जी,समग्र सामाजिक सुरक्षा अधिकारी एवं अन्य जनपद के अधिकारियों द्वारा उपस्थित होकर कार्य किया गया। शिविर में कुल 361 दिव्यांगजनों का पंजीयन किया गया जिसमें 323 दिव्यांगजनों को कृतिम अंग प्रदान करने के लिए चिह्नाकन किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: