बिहार : ‘हम’ को चाहिए एक मंत्री व एमएलसी : मांझी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 6 जनवरी 2021

बिहार : ‘हम’ को चाहिए एक मंत्री व एमएलसी : मांझी

manjhi-demand-one-mlc-one-mla
पटना : हम की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने कहा कि अगर हमारी पार्टी की जीत 7 सीटों पर होती तो आज सत्ता की चाबी हमारे पास रहती, हम नीतीश सरकार पर दबाव डालेंगे कि एक MLC तथा एक और मंत्री पद हमारी पार्टी को मिले। मांझी ने कहा कि जिस पार्टी की नीति ठीक है, उस पार्टी को जनता का सहयोग मिलता है। हमारी पार्टी का एजेंडा है कि निजी क्षेत्र में आरक्षण मिलना चाहिए, तथा हमें न्यायपालिका में भी आरक्षण चाहिए। न्यायपालिका में जिस घटना में एससी-एसटी जुड़े होते हैं, उस केस में सजा होती है। क्योंकि, सवर्ण जाति के लोग पैरवी करते है। हम सुप्रीमो ने कहा कि सबको एक समान शिक्षा मिलना चाहिए, इसको लेकर अगर आने वाले समय में आंदोलन करना पड़ेगा तो जरूर करेंगे। इसी मुद्दे को लेकर हमें आगे चलना होगा, जो लोग इस मुद्दे के साथ पार्टी में रहना चाहते हैं तो रहें नहीं तो वे बाहर चले जाएँ। पूर्व सीएम ने नीतीश कुमार को धन्यवाद देते हुए कहा कि उन्होंने हमें सीएम बनाया, मैं अपने कार्यकाल में एससी-एसटी के लिए काम करके दिखाया, इसका फायदा गरीब को मिला है। बंगाल चुनाव को लेकर मांझी ने कहा कि वहां हमलोग चुनाव लड़ेंगे और हम बंगाल में धारधार उपस्थित दर्ज करेंगे। साथ ही बंगाल, झारखंड और दिल्ली में पार्टी अपना जनाधार मजबूत करेगी। लालू परिवार पर निशाना साधते हुए मांझी ने कहा कि हमारे समाज के लोग विधायक, मंत्री बन जाते हैं और समाज की जरूरतें भूल जाते हैं। लोकसभा चुनाव में हार के बाद भी गायब हो गए थे, इस बार भी हार के बाद लापता हो गए है। लगता है देश के तीनों युवराज राहुल गांधी, चिराग पासवान और तेजस्वी यादव हनीमून मनाने जाते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: