बिहार : मुंगेर की भांति पटना के गांवों में गन फैक्ट्री - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 21 जनवरी 2021

बिहार : मुंगेर की भांति पटना के गांवों में गन फैक्ट्री

mini-gun-factory-in-patna
मोकामा : मुंगेर के तर्ज पर राजधानी पटना से सटे ग्रामीण इलाकों में भी धड़ल्ले से हथियार बनाने का काम चल रहा है। इस बात का खुलासा उस समय हुआ जब एएसपी अमरीश राहुल के निर्देश पर मोकामा पुलिस द्वारा अनुमंडल के मोर गांव में छापेमारी की गई। पुलिस ने छापेमारी कर तीन लोगों को गिरफ़्तार भी कर लिया है। दरसअल मोकामा इंस्पेक्टर राजनंदन शर्मा को गोपनीय सूचना मिली थी की मोर गांव में अवैध तरीके से हथियार बनाया जा रहा है । जिसके बाद टीम गठित कर छापेमारी की गई। वहीं इस छापेमारी के बारे में अधिक जानकारी देते हुए बाढ़ एएसपी अमरीश राहुल ने बताया कि एक गोपनीय सूचना के आधार पर मोकामा इंस्पेक्टर राजनंदन शर्मा ने टीम गठित कर इस राज का पर्दाफाश किया है। इस छापेमारी में निर्मित-अर्धनिर्मित हथियार बरामद किए गए हैं। साथ ही हथियार बनाने का उपकरण भी भारी मात्रा में बरामद हुई है। वहीं इस छापेमारी को मोकामा पुलिस की यह अब तक कि बड़ी कामयाबी मानी जा रही है। फिलहाल,गिरफ्तार तीन लोगों से गहन पूछताछ के आधार पर मोर गांव में लगातार छापामारी की जा रही है। एएसपी अमरीश राहुल ने इस कामयाबी के लिए पूरी टीम को सम्मानित करने की अनुशंसा की है। जानकारी हो कि इससे पहले भी तकरीबन बीस साल से बाढ़ अनुमंडल अंतर्गत मोकामा थाना क्षेत्र के मोर गांव में मिनी गन फैक्ट्री में अवैध हथियार बनाने का व्यापार फल-फूल रहा था। पांच साल पूर्व भी पुलिस ने छापेमारी कर हथियार की बरामदगी की थी। मगर एक बार फिर मिनी गन फैक्ट्री आबाद हो गयी।

कोई टिप्पणी नहीं: