संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने ‘वैक्सीन राष्ट्रवाद' को आत्मघाती करार दिया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 16 जनवरी 2021

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने ‘वैक्सीन राष्ट्रवाद' को आत्मघाती करार दिया

national-vaccine-dangerous-un-president
संयुक्त राष्ट्र, 16 जनवरी, विश्वभर में कोविड-19 से हुईं मौतों की संख्या 20 लाख के आँकड़े को पार कर गई हैं, जिसे लेकर संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने भारी अफसोस जताया और कहा कि एक वैश्विक समन्वित प्रयास की कमी के कारण महामारी की स्थिति और अधिक खराब हो गई है। उन्होंने कहा कि विभिन्न देशों की सरकारों के लिए 'वैक्सीन राष्ट्रवाद' एक 'आत्मघाती' रवैया है जिससे दुनिया में इस महामारी से निपटने में देरी होगी। दिसंबर 2019 के अंत में कोरोना वायरस के संक्रमण सामने आने के बाद से कोविड-19 महामारी 191 देशों और विभिन्न क्षेत्रों के साथ दुनिया के सभी कोनों में फैल चुकी है। बीमारी के कारण होने वाली मौतों का आँकड़ा सितंबर में 10 लाख तक पहुंच गया था। इसके अलावा, महामारी का बड़े पैमाने पर सामाजिक-आर्थिक प्रभाव पड़ा है, दुनियाभर में अनगिनत नौकरियां खत्म हो गईं और लोगों की आजीविका चली गई। लाखों लोग गरीबी और भुखमरी की चपेट में आ गए। गुतारेस ने शुक्रवार को कहा,"हमारी दुनिया एक दिल दहला देने वाले आंकड़े पर पहुंच गई है। कोविड-19 महामारी अब तक 20 लाख लोगों की जान ले चुकी है। यह बहुत ही दुखद बात है।’’ जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के कोरोना वायरस ट्रैकर के अनुसार, घातक वायरस ने अब तक 20,08,237 लोगों की जान ली है और दुनिया भर में 9,38,16,953 लोगों को संक्रमित कर चुका है। गुतारेस ने कहा कि वैश्विक समन्वित प्रयास के अभाव ने महामारी के घातक प्रभाव को और बदतर बना दिया। संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने दुनिया से इस महामारी में जान गंवाने वाले 20 लाख लोगों की याद में अधिक से अधिक एकजुटता के साथ कार्य करने की अपील की है। संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने कहा कि सुरक्षित और प्रभावी कोविड-19 टीके लगने शुरू हो रहे हैं, लेकिन हम अन्य जगहों पर टीकों का अभाव देख रहे हैं और यह दुनिया की अग्रणी अर्थव्यवस्थाओं की एक विशेष जिम्मेदारी है कि दुनिया के हर हिस्से में टीके की उपलब्धता सुनिश्चित करें। इस बीच, महासचिव के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने कहा कि गुतारेस को अगले सप्ताह कोविड-19 टीका लगाए जाने की उम्मीद है।

कोई टिप्पणी नहीं: