बिगड़ती व्यवस्था पर मुख्यमंत्री बोले विपक्ष की भाषा बोल रहे पत्रकार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 15 जनवरी 2021

बिगड़ती व्यवस्था पर मुख्यमंत्री बोले विपक्ष की भाषा बोल रहे पत्रकार


पटना : बिहार की राजधानी पटना में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा आर ब्लॉक से दीघा के बीच बनी सड़क का उद्घाटन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया है। इस सड़क का नामकरण भारत रत्न से सम्मानित देश के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई के नाम पर किया जाएगा। हालांकि जनवरी से इस सड़क पर परिचालन ट्रायल के तौर पर जारी है। इस सड़क के माध्यम से लोगों को दीघा जाने में सहूलियत होगी। चार व छह लेन वाली इस सड़क पर छह मिनट में लोग आर ब्लॉक से दीघा की दूरी तय कर रहे हैं। इस सड़क के निर्माण में 379.57 करोड़ रुपये की लागत लगी है। इस मौके पर मीडिया के साथ बातचीत के दौरान सीएम नीतीश ने कहा कि दीघा आर ब्लॉक रोड अटल पथ का एक हिस्सा है। कुछ ही माह में इस पथ को गंगा पथ व जेपी सेतु से जोड़ दिया जाएगा। इस पर काम चल रहा है। वहीं रूपेश कुमार सिंह हत्याकांड के साथ बिहार में कानून व्यवस्था की बिगड़ती स्थिति को लेकर नीतीश कुमार और पत्रकारों के बीच आज काफी देर तक बहस होती रही । यह बहस तकरीबन 10 मिनट तक चली इस दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पत्रकारों पर आरोप तक लगा दिया कि पत्रकार विपक्ष की भाषा बोल रहे हैं। वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक सवाल पर जब यह कहा कि यदि आपको कोई भी अपराधी के बारे में जानकारी मिलती है तो सीधे मुझे बताए। इसके बाद पत्रकारों द्वारा नीतीश कुमार से उल्टा सवाल कर दिया गया कि वह इसकी जानकारी किसे दें तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि आप सीधा डीजीपी को फोन करें इस पर पत्रकारों ने कहा कि डीजीपी महोदय तो फोन ही नहीं उठाते हैं आप खुद फोन मिलाकर देख लीजिए । इसके बाद नीतीश कुमार ने खुद डीजीपी को फोन किया और बोला डीजीपी साहब तुरंत फोन उठाया कीजिए। मालूम हो कि इंडिगो एयरलाइंस के स्टेशन हेड रूपेश कुमार सिंह कि हत्या 2 दिन पहले उनके घर के बाहर गोली मार कर दिया गया था। दो दिन गुजरने के बाबजूद भी पुलिस विभाग के हाथ कुछ भी नहीं आया है। इसी कड़ी में जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सवाल किया गया तो उन्होंने अपनी भड़ास निकालते हुए पत्रकारों पर ही भड़क गए । हालांकि उन्होंने कहा कि अपराध पर जो कारवाई हो रही है उसे मत भूलिए,जो हत्या हुई वो दुखद है। पुलिस लगी हुई है,पुलिस वालों को डिमोरलाइज़ नहीं कीजिये। हम लोग पुलिसवालों पर भी करवाई करते हैं। मुझे भरोसा है डीजीपी से बात हुई है,सभी लोग लगे हैं अपराधी को पकड़ने में। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आपने 15 साल पति-पत्नी की भी सरकार देखी है। लेकिन हमारे सरकार में हम किसी को नही छोड़ेंगे।हत्या के कारण की समीक्षा जरूरी है। वहीं इस सड़क के उद्घाटन में उनके साथ उप मुख्यमंत्री तारकेश्वर प्रसाद,उप मुख्यमंत्री रेणु देवी,पथ निर्माण मंत्री मंगल पांडेय,विधायक नितिन नवीन, विधायक संजीव चौरसिया मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं: