विशेषज्ञों ने टीकों को सुरक्षित करार दिया है : केजरीवाल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 16 जनवरी 2021

विशेषज्ञों ने टीकों को सुरक्षित करार दिया है : केजरीवाल

vaccine-is-safe-kejriwal
नयी दिल्ली, 16 जनवरी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को लोगों से अपील की कि वे अफवाहों पर ध्यान नहीं दें और विशेषज्ञों की बात सुनें जो कह रहे हैं कि कोविड-19 टीके सुरक्षित हैं। कोरोना वायरस के खिलाफ दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शनिवार को देश में आरंभ हुआ। केजरीवाल ने लोक नायक जय प्रकाश नारायण (एलएनजेपी) अस्पताल में टीकाकरण अभियान का निरीक्षण किया और टीका लगवा चुके कुछ स्वास्थ्यकर्मियों से बात की। उन्होंने महामारी के खिलाफ लड़ाई में स्वास्थ्यकर्मियों के योगदान की सराहना की। दिल्ली में टीकाकरण अभियान 81 केंद्रों पर शुरू हुआ। एलएनजेपी अस्पताल में तैनात नर्सिंग अधिकारी आत्मजा प्रियदर्शनी नायक ने मुख्यमंत्री की मौजूदगी में टीका लगवाया। मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘टीका लगवा चुके लोगों से मैंने बात की। किसी को कोई परेशानी नहीं हुई। सभी इस बात से खुश हैं कि उन्हें कोरोना वायरस से मुक्ति मिल जाएगी।’’


उन्होंने आगे कहा, ‘‘मैं सभी से यह कहना चाहता हूं कि वे अफवाहों और भ्रामक बातों की ओर ध्यान नहीं दें। विशेषज्ञों का कहना है कि टीके सुरक्षित हैं और चिंता करने की कोई बात नहीं है।’’ केजरीवाल ने कहा कि टीके लगने के बाद भी फेस मास्क लगाने की तथा सामाजिक दूरी बनाए रखने की जरूरत है। दिल्ली सरकार ने टीकाकरण अभियान के वास्ते सभी तैयारियां की थीं और शनिवार को राजधानी के 81 केन्द्रों पर लगभग 8,100 लोगों को टीका लगाया जाना है और यह अभियान एलएनजेपी में सुचारू ढंग से चल रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि टीकाकरण के लिए लोगों के पंजीकरण के लिए एक अलग ऐप की शुरूआत करने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि केन्द्र ने पूरे देश के लिए समान प्रणाली तैयार की है। केजरीवाल ने कहा कि आने वाले दिनों में टीकाकरण केन्द्रों की संख्या बढ़ाकर 175 तक की जायेगी और इसके बाद जैसे-जैसे टीके की उपलब्धता बढ़ती जाएगी, हम एक हजार केन्द्र तक बनाने के लिए तैयार हैं। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जायेगा, इसके बाद अग्रिम मोर्चे के कर्मचारियों को टीका लगाया जायेगा। उन्होंने कहा कि इसके बाद 50 वर्ष से अधिक उम्र वालों को और इसके बाद कम उम्र वाले गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों को टीका लगाया जायेगा। एलएनजेपी अस्पताल के निदेशक डा. सुरेश कुमार ने कहा, ‘‘विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान दिल्ली में एलएनजेपी अस्पताल से शुरू हुआ। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने तैयारियों का निरीक्षण किया और उन आठ लोगों से बात की जिन्हें टीका लगाया गया था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं लोगों से टीकाकरण अभियान में हिस्सा लेने का अनुरोध करता हूं।’’ प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने शनिवार को कोविड-19 के खिलाफ भारत के टीकाकरण अभियान की शुरुआत की और इस दौरान कहा कि यह विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान है और यह भारत के सामर्थ्य को दर्शाता है।

कोई टिप्पणी नहीं: