बिहार : स्थानीय निकायों को मिलेगा 35,577 करोड़ रुपये : सुशील मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 2 फ़रवरी 2021

बिहार : स्थानीय निकायों को मिलेगा 35,577 करोड़ रुपये : सुशील मोदी

allocation-for-municiple-corporation
पटना : बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री व राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने कहा कि 15 वें वित आयोग (2021-26) की अनुशंसा पर बिहार के स्थानीय निकायों को 35,577 करोड़ रुपये मिलेगा, जबकि 14 वें वित आयोग (2015-20) से 21,143 करोड़ ही प्राप्त हुआ था। इस प्रकार 15 वें वित्त आयोग ने 14 वें की तुलना में बिहार के स्थानीय निकायोंअगले पांच साल में 14,434 करोड़ रुपये अधिक देने की अनुशंसा की है। इसके अतिरिक्त पहली बार वित्त आयोग ने 6,017 करोड़ रुपये का प्रावधान स्वास्थ्य प्रक्षेत्र के लिए किया है, जो स्थानीय निकायों के माध्यम से खर्च होंगे। इनमें ग्रामीण क्षेत्रों पर 5,033 करोड़ और शहरी क्षेत्रों के स्वास्थ्य प्रक्षेत्र पर 984 करोड़ खर्च होंगे। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र व उपकेन्द्रों तथा भवनविहीन शहरी वेलनेस सेंटर आदि के भवन निर्माण पर यह राशि खर्च की जाएगी। अनुदान की राशि प्राप्त करने के लिए निकायों को अपने एकाउंट का अंकेक्षण कराना होगा। पहले दो साल में 25 प्रतिशत निकायों को अंकेक्षण करा कर आॅनलाइन प्रतिवेदन सार्वजनिक करना होगा तभी उनको पूरा अनुदान मिलेगा। बाद के तीन वर्षों में शत-प्रतिशत अंकेक्षण अनिवार्य होगा। 14 वें वित्त आयोग ने पंचायती राज संस्थाओं को 18,916 करोड़ दिया था जबकि 15 वें वित आयोग की अनुशंसा पर 19,561 करोड़ प्राप्त होगा। इसी प्रकार शहरी निकायों को 15 वें वित आयोग ने 9,999 करोड़ की अनुशंसा की है जबकि 14 वें की अनुशंसा पर 2,227 करोड़ ही प्राप्त हुआ था। इस राशि से 10 लाख से ज्यादा आबादी होने के कारण पटना नगर निगम को 1,690 करोड़ मिलेगा जबकि राज्य के अन्य शहरी निकायों को 8,309 करोड़ रुपये प्राप्त होंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: