बिहार : कोरोना का टीका पूर्व केंद्रीय मंत्री सीपी ठाकुर ने लगवाया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 6 फ़रवरी 2021

बिहार : कोरोना का टीका पूर्व केंद्रीय मंत्री सीपी ठाकुर ने लगवाया

c-p-thakur-took-vaccine
पटना. आज सदर अस्पताल, गर्दनीबाग (पटना) में 'फ्रंटलाइन वॉरियर' के तौर पर भारत निर्मित कोरोना का टीका लगवाया.पूर्व केन्द्रीय मंत्री पद्ममश्री सी.पी.ठाकुर ने कहा कि हमें देश के वैज्ञानिकों व अनुसंधानकर्ताओं पर अटूट विश्वास और नाज है. टीका लेने में मुझे कोई तकलीफ नहीं हुई.वैक्सीन का कोई साइड इफेक्ट नहीं है. निर्भीक होकर सभी लोग टीका लगवाएं. पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. सीपी ठाकुर साउथ बिहार केंद्रीय विश्वविद्यालय गया के चांसलर हैं.राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा उनकी नियुक्ति पर मुहर लगाने के बाद  इसकी अधिसूचना जारी भी हो गई. डॉ. ठाकुर को मानव संसाधन विकास मंत्रालय के उच्च शिक्षा विभाग की सिफारिश पर पांच वर्षों के लिए इस पद पर मनोनीत किया गया है.  डॉ. ठाकुर प्रख्यात चिकित्सक हैं.उन्होंने वर्ष 1957 में पटना के पीएमसीएच से एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी करने के बाद वहीं लंबे समय तक अध्यापन कार्य किया. उन्हें 1982 में पद्मश्री का सम्मान मिला था. 1984 में उन्होंने पीएमसीएच के प्रोफेसर की नौकरी छोड़ राजनीति में प्रवेश किया.वे तीन बार लोकसभा के और दो बार राज्यसभा के सदस्य रहे. फिलहाल राज्यसभा सदस्य हैं.वे केंद्र में स्वास्थ्य मंत्री रहे और वर्ष 2018 में स्पेन में विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कालाजार पर शोध के लिए एशिया से अकेले इन्हें लाइफ टाईम अवार्ड से सम्मानित किया गया था. बता दें कि भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ सीपी ठाकुर ( Dr. CP Thakur ) भी कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं.  नवम्बर 2020 में कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) होने के बाद इस बात की जानकारी उन्होंने खुद ट्वीट कर साझा की और कहा कि हाल के दिनों में जो लोग भी उनके संपर्क में आए हैं वे सभी कोविड की जांच करवा लें और कोरोना गाइडलाइन (Corona Guideline) का पालन करें. डॉ ठाकुर ने बताया कि कोरोना के लक्षण पाए जाने के बाद डॉ ठाकुर ने खुद की जांच कराई, जिसके बाद उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

कोई टिप्पणी नहीं: