बिहार : थाना में टॉर्चर से बेहोश हुई महिला - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 27 फ़रवरी 2021

बिहार : थाना में टॉर्चर से बेहोश हुई महिला

women-torture-in-police-station-bihar
नवादा : जिले के नारदीगज थाना में शुक्रवार की शाम में एक महिला थाना में बेहोश होकर गिर गयी। तब उसे आनन फानन में उपचार के लिए सीएचसी नारदीगंज में दाखिल कराया गया। इलाज के उपरांत उसकी हालत मेंं सुधार हुआ। घटना पसई निवासी साधू सिंह की पत्नी मंती देवी के साथ हुई। इलाजरत पीडि़ता ने बताया पिछले 21 फरवरी को मेरे साथ गांव के लोगों ने डायन का आरोप लगाकर मारपीट किया था, जिससे जख्मी हो गयी थी, उसके पुत्र भी जख्मी थे। जिसकी लिखित शिकायत नारदीगंज थाना में दिया था, इस घटना मेंं छह लोगों को आरोपित किया था लेकिन, मामला दर्ज नहीं हो सका था। तब 25 फरवरी को एसपी को आवेदन देकर कार्रवाई करने की गुहार लगायी। एसपी ने मामले का संज्ञान लिया,उसके बाद प्रभारी थानाध्यक्ष श्याम कुमार पांडेय हरकत में आये और प्राथमिकी दर्ज करने के लिए थाना में बुलाया। थाना पहुंचते ही जानकारी मिली कि प्रभारी थानाध्यक्ष श्री पांडेय गश्ती में चले गये है। इसी बीच थाना में कार्यरत मुंशी बाल्मिकी सिंह ने थाना में बैठाकर टार्चर करना शुरू कर दिया। उन्होंने डाट फटकार करते हुए उल्टे जेल भेज देने की धमकी देना शुरू कर दिया। उसके द्वारा लगातार टॉर्चर से बेहोश हो गयी। सीएचसी में इलाज के उपरांत हालत में कुछ सुधार हुआ है। जबकि चार दिनों से लगातार प्राथमिकी कराने के लिए थाना में चक्कर लगा रही हूं,वावजूद मामला दर्ज नहीं हो पाया है। इस संबंध में प्रभारी थानाध्यक्ष श्याम कुमार पांडेय ने बताया मामले के अनुसंधान के उपरांत प्राथमिकी दर्ज किया जायेगा।

कोई टिप्पणी नहीं: