बिहार : विरोध व्यक्त करने में साइकिल और चूल्हा विधानसभा लाये - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 19 फ़रवरी 2021

बिहार : विरोध व्यक्त करने में साइकिल और चूल्हा विधानसभा लाये

opposition-protest-bihar
पटना. बिहार विधानमंडल का एक महीने चलने वाला सत्र शुक्रवार से शुरू हो गया है. बजट सत्र के पहले दिन से ही विपक्ष सरकार पर दबाव बनाने लगी है. विपक्ष को बैठे बिठाये ज्वलंत मुद्दा मिल गया है. कोरोना वायरस जांच में हुए कथित फर्जीवाड़े, किसानों की हालत, प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति और ईंधन की बढ़ती कीमतों के अलावा अन्य मुद्दा मिला है.इसको लेकर बिहार विधानमंडल के बजट सत्र के दौरान विपक्ष की सरकार को घेरने की तैयारी के मद्देनजर कुल मिलाकर इस सत्र के हंगामेदार रहने के पूर्ण आसार हैं. बिहार में विधानसभा के बजट सत्र के शुरुआत के साथ ही राजनीतिक हलचल भी तेज हो गई है.विपक्षी दल सरकार को घेरने के लिए अलग-अलग तरीके अपना रहे हैं.इसी तरह का एक नजारा देखने को मिला जब राष्ट्रीय जनता दल के महुआ से विधायक मुकेश रोशन साइकिल से बजट सत्र में हिस्सा लेने के लिए विधानसभा पहुंचे.उन्होंने पेट्रोल-डीजल की आसमान छूती कीमतों का विरोध जताने के लिए ऐसा रुख अख्तियार किया.  वहीं कांग्रेस के विधायक शकील अहमद खान एलपीजी की बढ़ती कीमत का विरोध जताने के लिए मिट्टी का पारंपरिक चूल्हा लेकर विधानसभा पहुंचे. उन्होंने कहा, 'एलपीजी की कीमतें लगातार बढ़ रही हैं. ऐसे में लोगों को खाना बनाने के लिए पारंपरिक तरीके का इस्तेमाल करना होगा और चूल्हे पर खाना पकाना पड़ेगा.बीजेपी ने हमें आज इस मुकाम पर पहुंचा दिया है.' विधायक खान अपने साथ एक लिस्ट लेकर पहुंचे थे, जिसमें तेल और खाने-पीने के सामान की 2014 से पहले की कीमत और अब की कीमत दर्ज थी. 

opposition-protest-bihar
कांग्रेस की महिला विधायक प्रतिमा कुमारी ने कहा कि महंगाई के कारण गृहस्थी चलाना अब मुश्किल हो गया है। रसोई गैस की कीमतें आसमान छू रही हैं, घर में अब चूल्हा कैसे जलेगा, महिलाओं के सामने यह बड़ा सवाल है। उन्होंने इसके लिए केंद्र और राज्य सरकार की गलत नीतियों को दोषी ठहराया. यह जगजाहिर सी बात है और इससे स्पष्ट हो जाती है कि जब राष्ट्रीय जनता दल के महुआ से विधायक मुकेश रोशन साइकिल से बजट सत्र में हिस्सा लेने के लिए विधानसभा पहुंचे.उन्होंने कहा कि मैं हाजीपुर से आया हूं मैं सुबह 7 बजे वहां से निकला था.अपराध अपने चरम पर है, हम सरकार से सवाल करेंगे. बता दे कि राज्य के उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद अपना पहला बजट(Budget) पेश करेंगे. प्रसाद ने सुशील कुमार मोदी की जगह ली है और पूर्व उपमुख्यमंत्री की तरह वह वित्त मंत्रालय का भी प्रभार संभाल रहे हैं. राज्यपाल फागू चौहान शुक्रवार को बिहार विधानसभा और विधान परिषद के संयुक्त सत्र को संबोधित किये, जिसके बाद प्रसाद राज्य का आर्थिक सर्वेक्षण पेश किये. राज्य का बजट (2020-21) सोमवार को पेश किया जाएगा.24 मार्च को समाप्त होने वाले इस सत्र के दौरान विपक्ष की रणनीति के बारे में पूछे जाने पर राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि इस सत्र के दौरान विपक्ष कई मुद्दों को मजबूती के साथ उठाएगा . तेजस्वी यादव पांच दलों के महागठबंधन की अगुवाई कर रहे हैं. वहीं बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा और बिहार विधान परिषद के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह ने सर्वदलीय बैठक बुलाकर सदन को सुचारू रूप से चलाने के लिए सभी सदस्यों के सहयोग का आग्रह किया. बजट सत्र के बाद शुक्रवार को बीजेपी विधानमंडल दल की बैठक 19 फरवरी हुई. बैठक की अध्यक्षता बीजेपी विधानमंडल दल के नेता और उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद ने किया.

कोई टिप्पणी नहीं: