महात्मा गाँधी सेवा आश्रम में कार्यकर्ता गौरव सम्मान समारोह संपन्न - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 24 फ़रवरी 2021

महात्मा गाँधी सेवा आश्रम में कार्यकर्ता गौरव सम्मान समारोह संपन्न

  • आज महात्मा गांधी सेवा आश्रम द्वारा कार्यकर्ता गौरव सम्मान समारोह में कोरोना काल में सफलता पूर्वक कार्य करने वालों को सम्मानित किया गया...

honer-award-ceremony-gwalior
ग्वालियर. आज महात्मा गांधी सेवा आश्रम द्वारा कार्यकर्ता गौरव सम्मान समारोह में कोरोना काल में सफलता पूर्वक कार्य करने वालों को सम्मानित किया गया. महामारी कोरोना केवल भारत में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में महामारी बन कर आया जिसके कारण हर गतिविधि ठहर सी गई. ऐसे में मानव समाज के समक्ष एक बहुत ही बड़ी चुनौती आ गयी थी. तब कोरोना से लड़ाई में मुखर होकर महात्मा गाँधी सेवा आश्रम सामने आयी.इसी तरह अन्य स्वयंसेवी संस्थाओ के सहयोग से ही कोरोना की जंग जीती जा सकी.यहां उल्लेखनीय है कि पूर्व की तरह चंदा संग्रह नहीं कर सकने बावजूद भी गैर सरकारी संस्थाओं के द्वारा जरुरत मंद प्रवासी मजदूरों को रोजगार भी दिया जा सका. जरुरत मंद परिवारों को स्वच्छता किट, राशन किट का वितरण भी किया गया. यह बात जीआईजेड व डब्लूएचएच के सहयोग से महात्मा गाँधी सेवा आश्रम द्वारा संचालित खाद्य सुरक्षा एवं पोषण विविधता कार्यक्रम के कार्यकर्ता गौरव सम्मान समारोह के दौरान मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित जिलाधीश राकेश कुमार श्रीवास्तव ने कही. कार्यकर्ता गौरव सम्मान समारोह की अध्यक्षता करते जिला पंचायत अध्यक्षा श्री मति कविता मीणा ने कहा कि कोरोना संकट इतना बड़ा था कि मात्र प्रशासन के प्रयासों के माध्यम से इससे जंग नहीं जीती जा सकती थी. आवश्यकता थी कि प्रशासन के साथ साथ अशासकीय संस्थाएं भी इस लड़ाई में आगे आये. ऐसे में सर्वाधिक योगदान महात्मा गाँधी सेवा आश्रम का रहा. जिसने देश के सुदूर अंचलो में कार्यरत मजदूरों को अपने घरों तक लाने में मदद की साथ ही उनमें से कई परिवारों को राशन की व्यवस्था भी की. साथ में एक अभियान के द्वारा उन्हें रोजगार के अवसर प्रदान किये. महात्मा गाँधी सेवा आश्रम के सचिव रनसिंह परमार ने कहा कि महात्मा गाँधी सेवा आश्रम ने अपने देश भर में फेले कार्यकर्ताओ के माध्यम से प्रवासी मजदूरों की सूची का संकलन किया तथा उन्हें सुरक्षित घर पहुंचाने में मदद की.इतना ही नहीं उनकी  स्थिति की मॉनिटरिंग करते उन्हें जो भी आवश्यकताएं थी उनकी पूर्ति कार्यकर्ताओ के माध्यम से की गयी. आज हम ऐसे कोरोना योद्धाओ का सम्मान भी करने जा रहे है. पुलिस अधीक्षक उपाध्याय ने कहा कि इस महामारी ने हमें कई चीजें सिखाई है पीड़ित, शोषित और दुखी लोगो कि मदद का जज्वा लॉकडाउन के दौरान दिखा. वह अभूतपूर्व था.  जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी ओपी पांडेय एवं पूर्व विधायक सत्यभानू सिंह चौहान ने भी कार्यक्रम को सम्बोधित किया. कार्यक्रम के प्रारम्भ में कार्यक्रम समन्यवयक अमित कुमार ने महात्मा गाँधी सेवा आश्रम द्वारा विगत 8 माह में किये राहत कार्यो की जानकारी दी. उसके बाद कोरोना राहत कार्यक्रम के समस्त कार्यकर्ताओ, आंगनबाडी कार्यकर्ता, सुवरवायजर का सम्मान किया गया. कार्यक्रम के पश्चात सभी का आभार रामदत्त तोमर ने व्यक्त किया.कार्यक्रम का संचालन कैलाश पाराशर ने किया. इस दौरान महात्मा गाँधी सेवा आश्रम की टीम, महिला एवं बाल विकास विभाग की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, सुपरवाइजर उपस्थित रहे. 

कोई टिप्पणी नहीं: