मधुबनी : ओपन माइक लिटरेचर कम्युनिटी की जोर-शोर से तैयारी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 17 फ़रवरी 2021

मधुबनी : ओपन माइक लिटरेचर कम्युनिटी की जोर-शोर से तैयारी

open-mike-litreture-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता)  शहर की सुप्रसिद्ध ओपन माइक लिटरेचर  कम्युनिटी स्पीक अप मिथिला अपने दूसरे वर्षगाठ के अवसर पर रूबरू नाम के कार्यक्रम का आयोजन करवा रही है। जो आगामी 27 फरबरी को शहर के मिथिला वाटिका मे आयोजित की जायेगी। वही इसको ले कर जोर-शोर से तैयारी चल रही है। रूबरू कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए शहर के डीजी होटल मे कार्यक्रम का आयोजन हुआ।  जिस में उपस्थित प्रतिभागियों ने एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दी। गौरतलब है कि आयोजित कार्यक्रम में माधुरी, शिवम, सर्वेश, निशा, आशीष, शिवानी, मधु, शताक्षी, चंदन, रोशन, खुशी, अक्षिता, राधिका, अनूप, निवेदिता, आशु और आदित्य ने हिंदी, मैथिली और अंग्रेजी भाषा में अपनी कविता का प्रस्तुति दिया। वही स्टोरीटेलिंग मे साहिल, निशांत, प्रिया और सोनम ने प्रस्तुति दिया। वही प्रियांशु शेखर के मिमिक्री की प्रस्तुति को लेकर लोगों में चहल-पहल बनी हुई है। वही लोग अमन, अंजलि, नवीन, साधना और विवेक के संगीत की प्रस्तुति को लेकर लोग काफी उत्साहित नजर आ रहे हैं। वही इस बाबत जानकारी देते हुए निदेशक शांतनु भगत और अनिश अहमद ने बताया की स्पीक अप मिथिला एक लिटरेचर कम्युनिटी है जो समय समय पर ओपन माइक का आयोजन करवाती है। जिसमें मधुबनी, दरभंगा, समस्तीपुर, बेतिया समेत विभिन्न जिलों के कवि कवित्री अपनी स्वरचित रचना की प्रस्तुति देते हैं। स्पीक अप मिथिला के कार्यक्रम से लोगों का साहित्य के प्रति रुझान बढ़ा है। कई नये रचनाकार भी सामने आए हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: