दरभंगा : चुनाव,पूजा व विधि व्यवस्था को लेकर की गई समीक्षा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 13 फ़रवरी 2021

दरभंगा : चुनाव,पूजा व विधि व्यवस्था को लेकर की गई समीक्षा

administration-meeting-darbhanga
दरभंगा। जिला दंडाधिकारी दरभंगा, डॉ. त्यागराजन एस.एम व वरीय पुलिस अधीक्षक श्री बाबूराम की संयुक्त अध्यक्षता में सरस्वती पूजा, पैक्स चुनाव, शराबबंदी एवं विधि व्यवस्था को लेकर जिलाधिकारी के कार्यालय कक्ष में बैठक आयोजित की गयी। बैठक में पैक्स चुनाव की तैयारी की समीक्षा के दौरान बताया गया कि 2 सीटों पर चुनाव बढ़ गया है,अब 87 पैक्स के लिए चुनाव होगा। पैक्स चुनाव के लिए हायाघाट के घोषरामा को संवेदनशील बताया गया। समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने उपस्थित सभी थाना प्रभारियों को कहा कि यदि पैक्स चुनाव में किसी समर्थक का अपराधिक इतिहास रहा हो तो उसे थाना में बुलाकर उससे बॉन्ड भरवा लिया जाए। हर हाल में पैक्स चुनाव शांतिपूर्ण, निष्पक्ष एवं पारदर्शी तरीके से संपन्न किया जाए। सरस्वती पूजा की समीक्षा के दौरान अनुमंडल पदाधिकारियों एवं सभी थानाध्यक्षों को निर्देशित किया गया कि विगत वर्षों में जहां भी सरस्वती पूजा के दौरान विवाद उत्पन्न हुए हैं, उन सभी स्थलों पर विशेष सतर्कता बरतते हुए निगरानी रखी जाए। बैठक में बताया गया कि विगत वर्ष असराहा, ननौरा आदि स्थलों पर विवाद हुआ था। जाले के 5 गांवों को भी संवेदनशील बताया गया। वरीय पुलिस अधीक्षक ने सभी एसएचओ को स्पष्ट निर्देश दिया कि बिना लाइसेंस के सरस्वती पूजा का कोई भी जुलूस नहीं निकलेगा। इसलिए पूजा समितियों से आवेदन प्राप्त कर ली जाए तथा पूजा समितियों को 17 फरवरी को विसर्जन कर लेने को कहा जाए। क्योंकि 17 फरवरी से मैट्रिक की परीक्षा प्रारंभ हो रही है। इसलिए शहरी क्षेत्र में भीड़ बढ़ जाएगी, पूजा समितियों को हिदायत दी जाए कि वे अपने जुलूस को पूर्णतया अनुशासित रखेंगे। शराबबंदी की समीक्षा के दौरान उत्पाद अधीक्षक, दरभंगा को निर्देशित किया गया कि पंचायत स्तर पर निगरानी समिति का गठन कर लिया जाए। पूर्व में भी यह आदेश जारी किया गया है निगरानी समिति में वर्तमान मुखिया, पूर्व मुखिया, वार्ड सदस्य, पंचायत सचिव व अन्य जागरूक व्यक्ति को शामिल किया जाए। वरीय पुलिस अधीक्षक ने कहा कि महीने में एक-दो बार छापेमारी करने की बजाय लगातार छापेमारी की जाए। उन्होंने कहा कि एक ही जगह पर बार-बार छापेमारी की जा रही है अन्य जगहों पर भी छापेमारी की जाए। उन्होंने उत्पाद अधीक्षक,दरभंगा को पुलिस उपाधीक्षक, मुख्यालय से शराब बनाने वाले गांव की सूची प्राप्त कर लेने को कहा। विधि व्यवस्था की समीक्षा के दौरान भूमि विवाद के गंभीर मामले को प्राथमिकता देकर समीक्षा करने एवं कार्रवाई करने के निर्देश सभी अनुमंडल पदाधिकारी व पुलिस उपाधीक्षक को दिया गया। बैठक में अपर समाहर्ता, सभी अनुमंडल पदाधिकारी, सभी पुलिस उपाधीक्षक, सभी अंचलाधिकारी एवं थाना अध्यक्ष (ऑनलाइन) उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: