बिहार : जांच हत्यारे को पकड़ने नहीं, बल्कि बचाने के लिए की गई : चिराग पासवान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 5 फ़रवरी 2021

बिहार : जांच हत्यारे को पकड़ने नहीं, बल्कि बचाने के लिए की गई : चिराग पासवान

chirag-blame-on-ruoesh-murder
पटना : रुपेश सिंह हत्याकांड के खुलासे को लेकर पटना एसएसपी के थ्योरी पर प्रतिक्रिया देते हुए लोजपा सुप्रीमो चिराग पासवान ने कहा कि रूपेश जी की हत्या रोड रेज के कारण हुई, यह बात हलक से नीचे नहीं उतर रही है। रोड रेज का यह मामला अपने आप में अनोखा है, जहां सड़क पर तक-झक होने के 40 दिन बाद 6 गोली मार कर हत्या कर दी जाती है। शायद ही जुर्म की दुनिया में ऐसा कोई दूसरा उदाहरण हो। चिराग पासवान ने कहा कि रूपेश हत्याकांड में जिस प्रकार प्रशासन द्वारा प्रेस वार्ता में कैमरो के सामने आरोपी का इकबालिया बयान दिलवाया गया, ऐसा आज तक किसी अन्य केस में देखने को नहीं मिला। पुलिस अपनी बनाई गई कहानी पर जरुरत से ज्यादा विश्वास दिलवाने की कोशिश करती दिखी, जिससे दाल मे कुछ काला है कि शंका बढ़ रही है। लोजपा सुप्रीमो ने कहा कि पटना पुलिस के खुलासे के बाद से आम जनता में साजिशकर्ता को बचाने के कारण आक्रोश बढ़ गया है। वहीं, रूपेश जी के परिवार ने भी पटना पुलिस के रोड रेज की थ्योरी पर सवाल उठा दिया है व साथ में प्रदेश सरकार पर सही जाँच का विश्वास नहीं होने के कारण सीबीआई को जाँच सौंपने की अपील की है। चिराग ने कहा कि रूपेश हत्याकांड की पूरी जाँच और तफ्तीश रूपेश के हत्यारे को पकड़ने के लिए नहीं, बल्कि रूपेश की हत्या के पीछे साज़िश रचने वाले को बचाने के लिए की गई थी। सत्ता में बैठे उस व्यक्ति को जस तस सत्ता पर काबिज लोग पकड़ने नहीं देना चाहते।

कोई टिप्पणी नहीं: