मधुबनी : ललित बाबू को भारत रत्न देने की मांग - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 2 फ़रवरी 2021

मधुबनी : ललित बाबू को भारत रत्न देने की मांग

demand-bharat-ratan-for-lalit-narayan-mishr
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) आज दिनांक 2 फ़रवरी को जिला कांग्रेस कार्यलय,ललित भवन, मधुबनी के सभागार में मिथिला का गौरव स्व ललित नारायण मिश्रा का 99 वीं जयंती समारोह जिला अध्यक्ष प्रो शीतलाम्बर झा के अध्यक्षता में मनाई गई। सर्वप्रथम उनके तैल चित्र पर कांग्रेसजनों ने पुष्पांजलि कर श्रदांजलि दी। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए जिला अध्यक्ष प्रो शीतलाम्बर झा ने कहा कि स्व ललित नारायण मिश्रा मिथिला के गौरव थे,देश की आजादी की लड़ाई में उन्होंने बढ़ चढ़कर भाग लिए,आजादी के बाद देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की सरकार के संसदीय सचिव बने, केन्द्रीय सरकार के कई विभागों के मंत्री हुए,देश के रेलमंत्री के रूप में उन्होंने बिहार सहित कई पिछड़े हुए राज्यों को रेलवे से जोड़ने का काम किए, बिहार के विकास के लिए कई जनकल्याणकारी योजना बनाई,किसानों के लिए पश्चिमी कोशी नहर के साथ साथ मिथिलांचल के विकास के लिए,मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा मेडिकल कॉलेज की स्थापना करबाए, मिथिला चित्र कला को विश्व स्तर पर प्रतिष्ठित किए, मातृभाषा मैथिली को साहित्य अकादमी में स्थान दिलाए, मिथिला एवम मैथिली के विकास के लिए कई योजनाओं को साकार रूप दिए, वे महान पुरुष थे,वे सच्चे रूप में विकास के नायक थे। झा ने मांग की कि ललित बाबू को भारतरत्न अविलम्भ मिले,  जयंती के अवसर पर आज राज्य सहित देश स्तर पर लोग उन्हें याद कर रहे है। कार्यक्रम में ज्योतिरामन झा,बाबा, मनोज मिश्रा,ऋषिदेव सिंह,अधिवक्ता संजय कुमार मिश्र,प्रफुल्ल चन्द्र झा,मो आकिल अंजुम,मो साबिर अहमद,मुकेश कुमार झा,पप्पू, मो जफरुल हक,मायानंद झा,अशोक पोद्दार, अनिल चन्द्र झा,राम बाबू यादव,अशोक प्रसाद,प्रो विष्णु कांत मिश्र,प्रो इश्तिहाक अहमद,मिथुन मंडल,आलोक झा,मो अब्दुल कुद्दुस,धनेश्वर ठाकुर,रमेश पासवान, अनीसुर्रहमान, फ़ैज़ी आर्यन आदि थे।

कोई टिप्पणी नहीं: