मधुबनी : बजट खोदा पहाड़, निकली चुहिया : शीतलाम्बर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 1 फ़रवरी 2021

मधुबनी : बजट खोदा पहाड़, निकली चुहिया : शीतलाम्बर

shitlambar-jha
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) प्रो शीतलाम्बर झा अध्यक्ष, जिला कांग्रेस कमिटी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर  मोदी सरकार की बजट 2021 पर तीखी प्रतिक्रिया ब्यक्ति की है। कहा  खोदा पहाड़, निकली चुहिया को चरितार्थ कर रही है यह बजट। आजाद भारत की सबसे घटिया,तथ्यहीन, घोर दिशाहीन ,गाँव, गरीब,किसान,मजदूर, मध्यमवर्गीय विरोधी एवम पूंजीपतियों के पोषक बजट कहा। जिला अध्यक्ष प्रो शीतलाम्बर झा ने 2021के बजट से देश के आम नागरिकों को निराशा ही हाथ लगी इस बजट से  रोजगार सृजन नही होगा,स्वास्थ्य, शिक्षा एवम शिक्षित छात्र छात्राओं के लिए नौकरी नही मिल पाएगी। मिडिल वर्गों एवम किसानों की घोर उपेक्षा है ,सामान्य नौकरी पेशा बालों को टैक्स में कोई छूट नही मिली। नोटबन्दी एवम कोरोना से  छोटे छोटे उद्योगों, ऑटोमोबाइल सेक्टर जो बन्द हो गई उसे चालू करने का कोई उपाय नही किया, कोरोना से करोड़ों लोगों का रोजगार चली गई उसके निदान के दिशा में कोई कदम नही है। मोदी जी का एक जुमला यहां सही होगा जो कहते थे " देश नही बिकने दूंगा " रेलवे, एल आई सी,बी एस एन एल,एयरपोर्ट सहित कई सार्वजनिक प्रतिष्ठान को निजीकरण करने का फैसला निराशाजनक है देश की सुरक्षा पे यह सरकार गम्भीर नही दिखती। इस बजट में पुरानी घोषणाओं को ही नई रूप में सिर्फ घोषणा कर दी। कुल मिलाकर यह बजट चुनावी राज्यों के हिसाब से बनाई गई, इस बजट में विजन नही है।

कोई टिप्पणी नहीं: